Tamilnadu's only transgender candidate lives in publicity campaign | तमिलनाडु की इकलौती ट्रांसजेंडर प्रत्याशी प्रचार में जी-जान से जुटीं
तमिलनाडु की इकलौती ट्रांसजेंडर प्रत्याशी प्रचार में जी-जान से जुटीं

 तमिलनाडु की इकलौती ट्रांसजेंडर (किन्नर) उम्मीदवार एम. राधा दक्षिण चेन्नई संसदीय क्षेत्र में चुनाव प्रचार के लिए खूब पसीना बहा रही हैं. केवल 25 समर्थकों के साथ राधा चिलचिलाती गर्मी में सुबह से शाम बिना थके चुनाव प्रचार में लगी हुई हैं.

उन्हें भरोसा है कि वह इस सीट पर चिर प्रतिद्वंद्वी द्रमुक और अन्नाद्रमुक तथा अभिनेता कमल हासन की मक्कल निधि मैयम को कड़ी टक्कर दे सकती हैं. पेशे से कुक 50 वर्षीय राधा निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ रही हैं और अगर वह जीत गर्इं तो लोकसभा में महिलाओं के मुद्दे उठाना चाहती हैं. तमिलनाडु में चुनावों के लिए 18 अप्रैल को ट्रांसजेंडर समुदाय के दो सदस्यों ने नामांकन पत्र दायर किए थे. मदुरै से नामांकन दायर करने वाली अन्य ट्रांसजेंडर ने अपना नामांकन वापस ले लिया. राधा के लिए यह निजी लड़ाई भी है.

उन्होंने कहा, ‘‘संसद/विधानसभा में कम से कम एक ट्रांसजेंडर भी होनी चाहिए. हम ट्रांसजेंडरों को हमारी वीरता और अनुकंपा के लिए जाना जाता है.’’ उनके अनुसार, ट्रांसजेंडर होने को लेकर जुड़ी भ्रांतियां दूर हो गई हैं क्योंकि लोग अब उनकी इज्जत करते हैं. राधा ने कहा कि उनके पास धन की कमी है और अपने चुनावी खर्चे के लिए वह लोगों से मिल रहे चंदे पर निर्भर हैं.


Web Title: Tamilnadu's only transgender candidate lives in publicity campaign