Swami Vivekananda's land will not allow BJP's "politics of hate" to succeed: Abhishek Banerjee | स्वामी विवेकानंद की धरती भाजपा की ''घृणा की राजनीति'' को सफल नहीं होने देगी:अभिषेक बनर्जी
स्वामी विवेकानंद की धरती भाजपा की ''घृणा की राजनीति'' को सफल नहीं होने देगी:अभिषेक बनर्जी

कोलकाता, 12 जनवरी तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अभिषेक बनर्जी ने मंगलवार को भाजपा पर खुद को स्वामी विवेकानंद का अनुयायी बताने को लेकर निशाना साधते हुए कहा कि बंगाल की धरती भगवा दल की ''घृणा की राजनीति'' को सफल नहीं होने देगी। स्वामी विवेकानंद का जन्म 1863 में बंगाल में हुआ था।

डायमंड हार्बर से सांसद बनर्जी ने दक्षिण कोलकाता की रैली को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा को स्वामी जी जयंती मनाने का कोई अधिकार नहीं है।

उन्होंने आरोप लगाया, '' बंगाल स्वामी विवेकानंद की धरती है और यहां गुजरात से आयात कर लाई गई घृणा की राजनीति के लिए कोई स्थान नहीं है।''

स्वामी विवेकानंद की 158वीं जयंती मंगलवार को मनाई गई।

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी ने कहा, '' वे भगवान राम का अनुयायी होने का दावा करते हैं। वे राम के नहीं नाथूराम (गोडसे) के अनुयायी हैं। वे विभाजन की राजनीति के अनुयायी हैं।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: Swami Vivekananda's land will not allow BJP's "politics of hate" to succeed: Abhishek Banerjee

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे