14 किमी पैदल चल सिद्धिविनायक मंदिर दर्शन करने पहुंचीं स्मृति ईरानी, अमेठी जीत के लिए थी मन्नत!

By पल्लवी कुमारी | Published: May 28, 2019 05:32 PM2019-05-28T17:32:58+5:302019-05-28T17:32:58+5:30

स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी को कांग्रेस के गढ़ अमेठी में 55 हजार वोटों से हराकर ऐतिहासिक जीत दर्ज की थी। गांधी परिवार के गढ़ अमेठी में 39 साल बाद परिवार के किसी सदस्य की हार हुई।

Smriti Irani and Ekta Kapoor walk 14 km barefoot to the Siddhi Vinayak Temple | 14 किमी पैदल चल सिद्धिविनायक मंदिर दर्शन करने पहुंचीं स्मृति ईरानी, अमेठी जीत के लिए थी मन्नत!

14 किमी पैदल चल सिद्धिविनायक मंदिर दर्शन करने पहुंचीं स्मृति ईरानी, अमेठी जीत के लिए थी मन्नत!

Next
Highlightsस्मृति ईरानी के साथ खुद एकता कपूर भी उनके साथ पैदल चलकर सिद्धिविनायक पहुंची थी। मंदिर में दर्शन से पहले एकता ने स्मृति ईरानी के साथ सेल्फी लेकर सोशल मीडिया अकाउंट इंस्टाग्राम और ट्विटर पर शेयर की।

लोकसभा चुनाव-2019 में अमेठी लोकसभा सीट से जीतने के बाद आज (28 मई) स्मृति ईरानी 14 किलो मीटर पैदल चलकर सिद्धिविनायक मंदिर दर्शन करने पहुंचीं। इस बात की जानकारी ईरानी की दोस्त और फिल्ममेकर एकता कपूर ने सोशल मीडिया के माध्यम से दी है। स्मृति ईरानी के साथ खुद एकता कपूर भी उनके साथ पैदल चलकर सिद्धिविनायक पहुंची थी। 

एकता कपूर ने इसकी तस्वीर खुद ट्विटर और इंस्टाग्राम पर शेयर की है। मंदिर में दर्शन से पहले एकता ने स्मृति ईरानी के साथ सेल्फी लेकर सोशल मीडिया अकाउंट इंस्टाग्राम और ट्विटर पर शेयर की। एकता ने कैप्शन लिखा, 'सिद्धिविनायक तक 14 किमी चलने के बाद का ग्लो।' एकता के इस पोस्ट पर स्मृति इरानी ने कमेंट किया, 'यह भगवान की इच्छा थी, भगवान दयालु हैं।'

स्मृति ईरानी ने इस कमेंट पर एकता को रिप्लाई करते हुए लिखा, 'स्मृति तुम पैदल चलकर गई। यह तुम्हारी दृढ़ इच्छाशक्ति है।' एकता कपूर ने अमेठी से जीतने के बाद स्मृत‍ि ईरानी को बधाई देते हुए लिखा था, "रिश्तों के भी रूप बदलते हैं, नए नए सांचे में ढ़लते हैं, एक पीढ़ी आती है एक पीढ़ी जाती है....बनती कहानी नई।" बधाई की ये लाइन एकता कपूर के शो क्यों सास भी कभी बहू थी पर आधारित थी। इस टीवी शो में  स्मृति ईरानी लीड रोल में थी। 

स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी को अमेठी, जो कि कांग्रेस का गढ़ है , उसमें 55 हजार वोटों से हराकर ऐतिहासिक जीत दर्ज की थी। गांधी परिवार के गढ़ अमेठी में 39 साल बाद परिवार के किसी सदस्य की हार हुई। इससे पहले 1977 में संजय गांधी इस सीट से हारे थे। 

Web Title: Smriti Irani and Ekta Kapoor walk 14 km barefoot to the Siddhi Vinayak Temple