Ship MT Swarna Krishna Indian women created history  know what is the whole matter International Women's Day  | भारतीय महिलाओं ने रच डाला इतिहास,  विश्व इतिहास में पहली बार, जानें क्या है पूरा मामला
आम तौर पर पुरुष-प्रधान माने जाने वाले समुद्री क्षेत्र में रूढ़ियों को तोड़ने का प्रयास है। (file photo)

Highlightsभारतीय नारी शक्ति सदैव इतिहास बनाती है!आधिकारिक बयान में रविवार को इसकी जानकारी दी गयी। मंत्री ने भारतीय नौवहन निगम के जहाज एमटी स्वर्ण कृष्ण को शनिवार को आभासी माध्यम से हरी झंडी दिखाई।

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस: केंद्रीय मंत्री मनसुख मंडाविया ने भारतीय नौवहन निगम के एक जहाज को हरी झंडी दिखाई, जिसमें चालक दल (क्रू) में सिर्फ महिलाएं हैं। एक आधिकारिक बयान में रविवार को इसकी जानकारी दी गयी।

बंदरगाह, नौवहन एवं जलयान मंत्रालय ने रविवार को कहा कि मंत्री ने भारतीय नौवहन निगम के जहाज एमटी स्वर्ण कृष्ण को शनिवार को आभासी माध्यम से हरी झंडी दिखाई। यह अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष्य में आम तौर पर पुरुष-प्रधान माने जाने वाले समुद्री क्षेत्र में रूढ़ियों को तोड़ने का प्रयास है।

बयान में कहा गया कि यह विश्व समुद्री इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि सभी महिला अधिकारियों द्वारा संचालित एक जहाज को रवाना किया जा रहा है। मंडाविया ने इस मौके पर उन महिला समुद्री यात्रियों के योगदान और बलिदान को स्वीकार किया, जिन्होंने वैश्विक समुद्री समुदाय में भारत के दूत के रूप में काम किया और देश को गौरवान्वित किया। 

गाजियाबाद के दो मेट्रो स्टेशनों पर महिलाओं के लिए मुफ्त ई-रिक्शा सेवा

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर सोमवार को एक कंपनी गाजियाबाद में दो मेट्रो स्टेशन पर महिला यात्रियों को मुफ्त ई-रिक्शा सेवाएं प्रदान करेगी। ई-रिक्शा निर्माण कंपनी ओम बालाजी ऑटोमोबाइल इंडिया के मालिक विकास देशवार ने कहा कि मोहन नगर और मेजर मोहित शर्मा राजेंद्र नगर मेट्रो स्टेशनों पर 20 ई-रिक्शा उपलब्ध रहेंगे। उन्होंने एक बयान में कहा, "कोई भी देश महिलाओं के योगदान के बिना प्रगति के पथ पर आगे नहीं बढ़ सकता। आज हर क्षेत्र में महिलाएं पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चल रही हैं। देश के लिए महिलाओं का योगदान अतुलनीय है।"

कन्या भ्रूण हत्या की रोकथाम के क्षेत्र में बेहतर काम के लिये भिवानी को मिला दूसरा पुरस्कार

बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान में वर्ष 2020 में प्रभावी ढंग से कार्य करने के लिये भिवानी जिले को राज्य में दूसरा पुरस्कार मिला है। प्रदेश सरकार की ओर से जिले को यह पुरस्कार अंतरर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर आठ मार्च को प्रदान किया जायेगा। एक अधिकारी ने इसकी जानकारी दी।

अधिकारी ने बताया कि राजधानी चंडीगढ़ में आयोजित होने वाले प्रदेश स्तरीय समारोह में जिले के उपायुक्त जयबीर सिंह आर्य को मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर यह पुरस्कार प्रदान करेंगे । उन्होंने बताया कि पुरस्कार में प्रशस्ति पत्र के अलावा तीन लाख रुपये की राशि भी दी जायेगी।

उल्लेखनीय है कि 22 जनवरी 2015 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पानीपत से बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान का शुभारंभ किया था। उस समय प्रदेश में लिंगानुपात 871 था, जो अब बढ़कर 922 हो गया है। अधिकारी ने बताया कि जिले में किए जा रहे निरंतर प्रयासों की बदौलत लिंगानुपात में गुणात्मक सुधार हुआ है और यहां यह अनुपात 921 है।

उन्होंने बताया कि इसी के चलते जिले को प्रदेश में दूसरा स्थान मिला है। दूसरी ओर उपायुक्त ने जिला को द्वितीय पुरस्कार मिलने पर महिला एवं बाल विकास विभाग, स्वास्थ्य विभाग और पुलिस विभाग को बधाई दी। उन्होंने कहा कि यह सब टीम वर्क के आधार पर किए गए प्रयासों का परिणाम है। 

Web Title: Ship MT Swarna Krishna Indian women created history  know what is the whole matter International Women's Day 

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे