Rs 100 cr relief fund released by central government to Kerala with immediate effect | केरल में 'जल प्रलय': केंद्र सरकार ने दी 100 करोड़ की तत्काल राहत, 1220 करोड़ की मांग
फाइल फोटो

नई दिल्ली, 12 अगस्त: केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने केरल में बाढ़ की स्थिति को आजादी के बाद से अभूतपूर्व करार देते हुए केंद्रीय राहत के रूप में तत्काल 100 करोड़ रुपये देने का ऐलान किया। भारी बारिश से आयी बाढ़ और भूस्खलन से सबसे बुरी तरह प्रभावित इडुक्की और एर्नाकुलम जिलों का सिंह ने हवाई सर्वेक्षण किया। उन्होंने कहा कि बारिश और बाढ़ से कृषि क्षेत्र और सड़क एवं बिजली जैसी अवसंरचना को ‘भारी नुकसान’ हुआ है।

उन्होंने संवाददाताओं से कहा, “केरल अभूतपूर्व बाढ़ की स्थिति का सामना कर रहा है। यह अभूतपूर्व है क्योंकि स्वतंत्र भारत के इतिहास में केरल में इस तरह की बाढ़ कभी नहीं आयी है।” मुख्यमंत्री पी विजयन, केंद्रीय पर्यटन राज्य मंत्री अल्फोंस कन्ननथनम, राज्य सरकार के मंत्रियों और वरिष्ठ अधिकारियों के साथ स्थिति की समीक्षा के बाद उन्होंने यह बात कही। सिंह ने ‘बहुत गंभीर स्थिति’ से निपटने के लिए केंद्र की ओर से हरसंभव मदद का आश्वासन भी दिया। मंत्री ने कहा, “मैं वर्तमान संकट से केरल के लोगों को हो रही परेशानियों को समझता हूं। चूंकि क्षति के अनुमान में समय लगेगा इसलिए मैं 100 करोड़ रुपये की तत्काल अग्रिम राहत का ऐलान करता हूं।” 

राज्य सरकार ने स्थिति से निपटने के लिए राष्ट्रीय आपदा राहत कोष (एनडीआरएफ) से 1,220 करोड़ रुपये की राहत राशि को तत्काल मंजूरी देने की मांग को लेकर एक ज्ञापन भी सिंह को सौंपा। ज्ञापन में मुख्यमंत्री ने कहा है कि प्रारंभिक आकलन के मुताबिक बारिश, बाढ़ और भूस्खलन के कारण केरल को 8,316 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। उन्होंने कहा, “इस नाजुक मौके पर केंद्र केरल की जरूरतों को लेकर बहुत अधिक संवेदनशील है।” 




मंत्री ने कहा कि मॉनसून के वर्तमान मौसम के दौरान केरल में एनडीआरएफ की तीन टीमों को पहले ही तैनात कर दिया गया था। सिंह ने ट्वीट कर कहा, “राज्य में एनडीआरएफ की 11 और टीमों को तैनात किया गया है। इसके साथ ही राज्य में तैनात एनडीआरएफ की टीमों की कुल संख्या 14 हो गयी है। जरूरत पड़ने पर हम और टीमों को वहां काम पर लगाएंगे।”  इससे पहले मंत्री ने एर्नाकुलम जिले के पारावुर तालुक में एलांतिकारा में एक राहत शिविर का दौरा किया।

उन्होंने कहा, “आज मुख्यमंत्री के साथ मैंने बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया और मैं इस नतीजे पर पहुंचा कि केरल में बाढ़ के कारण स्थिति बहुत गंभीर है।” मंत्री ने कहा, “मैं राज्य सरकार को आश्वस्त करना चाहता हूं कि बाढ़ से जु़ड़ी चुनौतियों से निपटने के लिए केंद्र सरकार की ओर से हरसंभव मदद उपलब्ध करायी जाएगी।”  केंद्रीय मंत्री ने कहा कि इस स्थिति में केंद्र सरकार राज्य की सरकार के साथ पूरी दृढ़ता के साथ खड़ी है। उन्होंने बाढ़ में घर और भूमि खोने वालों की शिकायतें भी सुनीं।

इससे पहले यहां पहुंचने पर सिंह ने कोचीन अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर विजयन, राजस्व मंत्री, कृषि मंत्री वी एस सुनील कुमार, जल संसाधन मंत्री मैथ्यू टी थॉमस और मुख्य सचिव टॉम जोस के साथ बैठक की। राज्य में कल के बाद बारिश से जुड़ी घटनाओं में किसी और व्यक्ति के मरने की सूचना नहीं है। अधिकारियों के मुताबिक आठ अगस्त तक राज्य में बारिश से जुड़ी घटनाओं में 37 लोगों की मौत हो गयी।

हिंदी खबरों और देश-दुनिया की ताजा खबरों के लिए यहां क्लिक करें। हमारा यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें। हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!


भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे