Highlightsएसडीएमसी का कहना है कि उनके एरिया में चार जोन में आने वाले तकरीबन एक सौ चार वार्ड में हजारों रेस्टोरेंट हैं।इन सभी जगहों पर यह नहीं बताया जाता है कि वह मांस हलाल का है या फिर झटका का है। एसडीएमसी ने अपने प्रपोजल में कहा कि हिंदू और सिख धर्म में 'हलाल' मांस खाना मना है।

नई दिल्ली: दक्षिणी दिल्ली नगर निगम (MCD) ने बुधवार को कई अहम फैसले लिए हैं। उनमें से एक यह भी है कि दक्षिणी दिल्ली के किसी भी होटल या रेस्टोरेंट में अब नॉन वेज सर्व करने से पहले ग्राहकों को बताना होगा कि यह मीट हलाल है या झटका है। 

दक्षिणी दिल्ली निगम के इस फैसले को लेकर सोशल मीडिया पर भी लोग खूब चर्चा कर रहे हैं। इसके अलावा, निगम ने बुधवार को जिस अहम प्रस्ताव पर मुहर लगाई है उसमें एक्टर सुशांत सिंह राजपूत के नाम पर दिल्ली में एक सड़क के बनाए जाने का भी है।

 Kumar Restaurant, Dhantoli, Nagpur - North Indian, Fast Food, Pure Vegetarian Cuisine Restaurant - Justdial

एसडीएमसी का कहना है कि उनके एरिया में चार जोन में आने वाले तकरीबन एक सौ चार वार्ड में हजारों रेस्टोरेंट हैं जिसमें कि महज दस प्रतिशत ही ऐसे हैं जहां वेजिटेरियन खाना मिलता है, बाकी के 90 प्रतिशत जगहों पर मांसाहारी खाना बेचा जाता है। लेकिन इन सभी जगहों पर यह नहीं बताया जाता है कि वह मांस हलाल का है या फिर झटका का है। 

 FSSAI

निगम का मानना है कि रेस्टोरेंट में मीट जिन दुकानों से आती हैं, वह भी होटल को इस तरह की कोई जानकारी नहीं देते हैं। एसडीएमसी ने अपने प्रपोजल में कहा कि हिंदू और सिख धर्म में 'हलाल' मांस खाना मना है और धर्म के खिलाफ है। ऐसे में रेस्टोरेंट और मांस की दुकानों को निर्देश दिया जाता है कि उनके द्वारा दिए जा रहे मांस के बारे में यह जरुर बताया जाए कि यह मांस हलाल का है या फिर झटका।

 FACT CHECK : हॉटेल्स आणि रेस्टॉरंट्स 15 ऑक्टोंबरपर्यंत बंद राहणार ? सरकारने केला खुलासा, lockdown-will-the-hotel-and-restaurant-fall-the-shutdown-may-be-announced-until-october mhak ...

वहीं साउथ एमडीएमसी में नेता नरेंद्र चावला ने कहा है कि अगर कोई इस आदेश का उल्लंघन करता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि यह हर किसी को जानने का अधिकार है कि वह क्या खा रहा है। चाहे वो किसी भी धर्म का हो।

Web Title: Restaurants must display jhatka and halal distinction, South MCD rules

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे