Restaurant owners welcome the proposal of night circuit in DMP-2041, market association says fictional | रेस्तरां मालिकों ने डीएमपी-2041 में नाइट सर्किट के प्रस्ताव का किया स्वागत, मार्केट एसोसिएशन ने काल्पनिक बताया
रेस्तरां मालिकों ने डीएमपी-2041 में नाइट सर्किट के प्रस्ताव का किया स्वागत, मार्केट एसोसिएशन ने काल्पनिक बताया

नयी दिल्ली, 10 जून दिल्ली के लिए ड्राफ्ट मास्टर प्लान (डीएमपी)-2041 पर बृहस्पतिवार को मार्केट एसोसिएशन और रेस्तरां मालिकों की राय बंटी हुई दिखी जिसमें दिल्ली में ‘नाइटलाइफ कल्चर’ को बढ़ावा देने का प्रस्ताव है।

रेस्तरां मालिकों ने प्रस्ताव को जहां "अच्छा विचार" बताते हुए इसका स्वागत किया, वहीं मार्केट एसोसिएशन ने इसे ‘‘काल्पनिक’’ अवधारणा बताते हुए खारिज कर दिया।

डीएमपी को बुधवार को आम नागरिकों से आपत्तियों और सुझावों के लिए सार्वजनिक किया गया था। इसमें एक नाइटलाइफ़ संस्कृति की परिकल्पना की गई है जिसमें लोग देर रात के समय मनोरंजन के लिए बाहर निकल सकते हैं।

इसमें यह भी प्रस्तावित किया गया है कि एजेंसियां ​​​​एकसाथ काम करेंगी और शहर में एक जीवंत नाइटलाइफ़ के लिए नाइट सर्किट (एनसी) - सड़कों या क्षेत्रों जैसे सांस्कृतिक परिसर, विरासत संपत्तियों की पहचान करेंगी।

खान मार्केट ट्रेडर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष संजीव मेहरा ने कहा, ‘‘दिल्ली में नाइटलाइफ़ एक काल्पनिक चीज़ है। जरा देखिए कि लोग अपनी कार कैसे चलाते हैं। नाइटलाइफ़ चलन में आने के साथ, आप युवाओं को शराब पीकर गाड़ी चलाते हुए देखेंगे, जिससे न केवल उनकी बल्कि अन्य लोगों की जान भी जोखिम में पड़ जाएगी।’’

मेहरा ने कहा, ‘‘आपको पहले यहां के लोगों को नागरिक बोध सिखाना होगा और फिर अगले 20-30 वर्षों में नाइटलाइफ़ संस्कृति की उम्मीद करनी होगी।’’

उन्होंने कहा, ‘‘इससे बिजनेस प्रोसेस आउटसोर्सिंग (बीपीओ) क्षेत्र में काम करने वाले पेशेवरों को रात में 'अधिक भोजन विकल्प' प्राप्त करने में मदद मिल सकती है, लेकिन खुदरा विक्रेताओं को कोई मदद नहीं मिलेगी।’’

नयी दिल्ली ट्रेडर्स एसोसिएशन (एनडीटीए) के अध्यक्ष अतुल भार्गव ने इसी तरह के विचार रखे और कहा कि यह सही समय है जब हम ‘‘भारत की तुलना विदेशों से न करें’’ जहां ‘‘बेहतर नागरिक सुविधाएं’’ हैं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘विचारित प्रक्रिया अच्छी है, लेकिन फिर सवाल यह है कि क्या इसे वास्तव में भारत और दिल्ली में लागू किया जा सकता है? अब, इसकी तुलना विदेशों से न करें, वहां चीजें अलग हैं - चाहे वह नागरिक सुविधाएं हों, सुरक्षा और अन्य चीजें हों।’’

वहीं जीके- 1 में गैस्ट्रोनॉमिका के मालिक सुमित गोयल ने कहा कि यह विचार ‘‘दिल्ली जैसे विश्व स्तरीय शहर’’ के अनुरूप है और इससे राजधानी में ‘‘राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय पर्यटकों को बढ़ावा मिलेगा’’।

कनॉट प्लेस में ओटीबी कोर्टयार्ड के सह-मालिक उदित बग्गा ने कहा कि संचालन के घंटे बढ़ाने से उद्योग के लिए अधिक राजस्व और रोजगार पैदा होगा।

गोयल ने कहा, ‘‘हम आतिथ्य उद्योग में स्पष्ट रूप से प्रस्ताव को लेकर वास्तव में उत्साहित हैं। सरकार से मेरा एकमात्र अनुरोध है लालफीताशाही और प्रक्रियात्मक बाधाओं को कम किया जाए। आज भी हर अनुमति या लाइसेंस के लिए बहुत अधिक अनुवर्ती कार्रवाई और कागजी कार्रवाई की आवश्यकता होती है।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: Restaurant owners welcome the proposal of night circuit in DMP-2041, market association says fictional

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे