हमें लोगों का धर्मांतरण कराने की जरूरत नहीं, केवल जीने का तरीका सिखाना है: मोहन भागवत

By विशाल कुमार | Published: November 20, 2021 09:09 AM2021-11-20T09:09:17+5:302021-11-20T09:12:41+5:30

आरएसएस के प्रमुख मोहन भागवत ने कहा कि हमें किसी का धर्म परिवर्तन नहीं करना है बल्कि जीना सिखाना है। हम पूरी दुनिया को ऐसा सबक देने के लिए भारत भूमि में पैदा हुए हैं। हमारा पंथ किसी की भी पूजा पद्धति को बदले बिना अच्छा इंसान बनाता है।

religious conversion rss mohan bhagwat | हमें लोगों का धर्मांतरण कराने की जरूरत नहीं, केवल जीने का तरीका सिखाना है: मोहन भागवत

आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत. (फाइल फोटो)

Next
Highlightsआरएसएस के प्रमुख मोहन भागवत ने कहा कि हमें किसी का धर्म परिवर्तन नहीं करना है।भारत को विश्व गुरु बनाने के लिए समन्वय के साथ मिलकर आगे बढ़ने का आह्वान किया।हमारा पंथ किसी की भी पूजा पद्धति को बदले बिना अच्छा इंसान बनाता है।

नई दिल्ली: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के प्रमुख मोहन भागवत ने शुक्रवार को कहा कि किसी को भी धर्मांतरित करने की जरूरत नहीं है और भारत को विश्व गुरु बनाने के लिए समन्वय के साथ मिलकर आगे बढ़ने का आह्वान किया। भागवत छत्तीसगढ़ में एक कार्यक्रम में बोल रहे थे।

भागवत ने कहा कि हमें किसी का धर्म परिवर्तन नहीं करना है बल्कि जीना सिखाना है। हम पूरी दुनिया को ऐसा सबक देने के लिए भारत भूमि में पैदा हुए हैं। हमारा पंथ किसी की भी पूजा पद्धति को बदले बिना अच्छा इंसान बनाता है। भारत को विश्व गुरु बनाने के लिए हमें समन्वय के साथ आगे बढ़ने की जरूरत है।

भागवत ने कहा कि उनका मानना है कि पूरी दुनिया एक परिवार है. आरएसएस प्रमुख संगठन के सदस्यों द्वारा आयोजित कार्यक्रमों में भाग लेने के लिए छत्तीसगढ़ में हैं।

Web Title: religious conversion rss mohan bhagwat

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे