Reduction in Kovid-19 cases should not be careless: Harsh Vardhan | कोविड-19 मामलों में कमी आने से लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए : हर्षवर्धन
कोविड-19 मामलों में कमी आने से लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए : हर्षवर्धन

नयी दिल्ली, 11 जून केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने शुक्रवार को कहा कि कोविड-19 के मामलों में कमी आने से लोगों में ढिलाई का भाव नहीं आना चाहिए। उन्होंने कहा कि मास्क नहीं लगाने, सही से इसे नहीं पहनने और कोविड के संबंध में उपयुक्त व्यवहार पालन नहीं करने के कारण ही महामारी की दूसरी लहर आयी।

स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी एक बयान के मुताबिक हर्षवर्धन ने दिल्ली के चांदनी चौक में जीर्णोद्धार की गयी ‘हरदयाल म्युनिसिपल हेरिटेज पब्लिक लायब्रेरी’ के उद्घाटन के बाद यह टिप्पणी की। उन्होंने दुर्लभ किताबों से समृद्ध पुस्तकालय को राष्ट्र को समर्पित किया। पुस्तकालय का तीन करोड़ रुपये से अधिक की लागत से जीर्णोद्धार किया गया है।

बयान के अनुसार चांदनी चौक के सांसद हर्षवर्धन ने कहा कि देश में कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की संख्या लगातार घट रही है और लगातार चौथे दिन संक्रमण के एक लाख से कम मामले आए हैं। ऐसे में उन्हें प्रत्यक्ष तौर पर अपने निर्वाचन क्षेत्र के लोगों से मिलने का अवसर मिला है। इस पुस्तकालय में अबुल फजल द्वारा फारसी में अनुदित महाभारत की दुर्लभ कृति समेत ‘द हिस्ट्री ऑफ वर्ल्ड’ और 1810 में हस्तलिखित ‘भागवत पुराण’, भृगु संहिता, कुरान की एक पुरानी प्रति भी उपलब्ध है। इस पुस्तकालय की शुरूआत 1862 में हुई थी।

मंत्री ने एक बयान में कहा, ‘‘मास्क उतारने, सही से इसे नहीं पहनने और कोविड-19 के संबंध में उपयुक्त व्यवहार का पालन नहीं करने के कारण महामारी की दूसरी लहर आयी। हमारी रक्षा के लिए डॉक्टर, नर्स कोरोना योद्धा बन गए और उनमें से कई की जान भी चली गयी। ऐसे में यह हमारा नैतिक दायित्व है कि हम उनका अधिकतम सहयोग करें।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: Reduction in Kovid-19 cases should not be careless: Harsh Vardhan

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे