randeep guleria talks about coronavirus case in india | AIIMS डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने चेताया, देश में कोरोना संक्रमण लेने वाला है विस्फोटक रूप
पिछले छह महीने से पूरी दुनिया में कोरोना वायरस का आतंक छाया हुआ है (लोकमत फाइल फोटो)

Highlightsदेश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले दोगुने होने के समय में सुधार हुआ है जो अब 13.3 दिन से बढ़कर 15.4 दिन हो गया है भारत में मरीजों की स्वस्थ होने की दर 47.40 प्रतिशत हो गई है।

देश के महानगर मुंबई, दिल्ली, चेन्नई, अहमदाबाद में जिस तरह से कोविड-19 का ग्राफ बढ़ रहा है और पिछले 24 घंटे में देशभर से कोरोना के रिकॉर्ड करीब आठ हजार पॉजिटिव केस आ चुके हैं. लोगों की लापरवाही देश में कोरोना संक्रमण का विस्फोटक रूप तक ले जा सकती है. एम्स के निदेशक डॉक्टर रणदीप गुलेरिया ने लोकमत से बातचीत में यह बात कही.

उन्होंने कहा कि लॉकडाउन 4 में सभी सरकारी, प्राइवेट कार्यालय और दुकानें खोल दी गई हैं. महानगरों में लोगों की आबादी बहुत ज्यादा है. जिससे रोज संक्रमितों के आंकड़े बढ़ रहे हैं. कई जगह सार्वजनिक शौचालय, सार्वजनिक किचन और घरों के बीच लोग फिजिकल डिस्टेंसिंग नहीं कर पा रहे हैं. उन्होंने कहा कि जरा सी लापरवाही कम्युनिटी ट्रांसफर की ओर ले जा सकती है.

डॉक्टर गुलेरिया ने कहा कि जब तक देश में कोरोना संक्रमण का खतरा बना हुआ है तब तक घर से निकलते समय हर व्यक्ति को यह सोचना चाहिए कि बाहर सभी लोगो संक्रमित हैं और उसे अपने बचाव के लिए मास्क पहनना है. हर किसी से कम से कम दो गज की दूरी बनाकर रखनी है. साबुन से या सैनिटाइजर से हाथ साफ करते रहना है. अगर आपको लगता है कि कोरोना के लक्षण हैं, बुखार और जुकाम है तो तुरंत टेस्ट कराएं. अगर किसी कर्मचारी का घर हॉटस्पॉट क्षेत्र में है और वह वहां से आ रहा है तो ज्यादा सतर्कता बरतने की जरूरत है.

Web Title: randeep guleria talks about coronavirus case in india
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे