राजस्थानः निरंजन आर्य ने कार्यभार संभाला, मुख्य सचिव बनने वाले अनुसूचित वर्ग के प्रथम आईएएस अधिकारी

By धीरेंद्र जैन | Published: November 2, 2020 10:02 PM2020-11-02T22:02:10+5:302020-11-02T22:02:57+5:30

निरंजन आर्य इससे पूर्व अतिरिक्त मुख्य सचिव (वित्त) प्रमुख शासन सचिव वित्त, आबकारी एवं कराधान, आयुक्त विभागीय जॉच ,सचिव मुख्यमंत्री, रजिस्ट्रार कॉपरेटिव विभाग आयुक्त परिवहन विभाग, सभागीय आयुक्त जयपुर व भरतपुर, जिला कलक्टर जैसलमेर, नागौर, अजमेर एवं कोटा के पद पर अपनी सेवाएं दे चुके है।

Rajasthan Niranjan Arya takes charge first IAS officer of scheduled class to become Chief Secretary | राजस्थानः निरंजन आर्य ने कार्यभार संभाला, मुख्य सचिव बनने वाले अनुसूचित वर्ग के प्रथम आईएएस अधिकारी

आम जनता से जुड़ें कार्यो का समय पर निस्तारण कर राहत पहुंचाना ही राज्य सरकार का लक्ष्य हैं।

Next
Highlightsअरुण कुमार जोशी सहित अन्य सचिवालय सेवा के वरिष्ठ अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।योजनाओं का बेहतरीन तरीके से क्रियान्वयन कर प्रदेश के हर जरूरतमंद व्यक्ति को लाभान्वित करना ही उनकी सर्वोच्च प्राथमिकता रहेगी। प्रदेश में चलाये जा रहे विभिन्न कार्यक्रमों एवं विकास कि सभी योजनाओं में तेजी लाने का प्रयास किया जाएगा।

जयपुरः भारतीय प्रशासनिक सेवा के वरिष्ठ अधिकारी निरन्जन कुमार आर्य ने आज राजस्थान के मुख्य सचिव के पद का कार्यभार ग्रहण कर लिया है। निरंजन कुमार आर्य मुख्य सचिव के पद पर पहुंचने वाले प्रदेश के अनुसूचित वर्ग के प्रथम आईएएस अधिकारी है।

 

इस अवसर पर नगरीय विकास विभाग के प्रमुख शासन सचिव भास्कर ए सांवत, शासन सचिव, श्रम रोजगार, कौशल एवं उधमिता विभाग डॉ. नीरज के पवन, विशिष्ट शासन सचिव  पशुपालन, मत्स्य एवं गोपालन विभाग डॉ. आरुषि मलिक, जयपुर सभागीय आयुक्त सोमनाथ मिश्रा, मुख्य सचिव कार्यालय के सयुक्त सचिव मुकेश शर्मा, सयुक्त निदेशक (जनसम्पर्क विभाग) अरुण कुमार जोशी सहित अन्य सचिवालय सेवा के वरिष्ठ अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।

निरंजन आर्य इससे पूर्व अतिरिक्त मुख्य सचिव (वित्त) प्रमुख शासन सचिव वित्त, आबकारी एवं कराधान, आयुक्त विभागीय जॉच ,सचिव मुख्यमंत्री, रजिस्ट्रार कॉपरेटिव विभाग आयुक्त परिवहन विभाग, सभागीय आयुक्त जयपुर व भरतपुर, जिला कलक्टर जैसलमेर, नागौर, अजमेर एवं कोटा के पद पर अपनी सेवाएं दे चुके है।

मुख्य सचिव ने कार्यभार ग्रहण के पश्चात्  कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा प्रदेश के विकास के लिए चलाए जा रहे निर्धारित कार्यक्रम व योजनाओं का बेहतरीन तरीके से क्रियान्वयन कर प्रदेश के हर जरूरतमंद व्यक्ति को लाभान्वित करना ही उनकी सर्वोच्च प्राथमिकता रहेगी।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में चलाये जा रहे विभिन्न कार्यक्रमों एवं विकास कि सभी योजनाओं में तेजी लाने का प्रयास किया जाएगा। उन्होंने कहा कि आम जनता से जुड़ें कार्यो का समय पर निस्तारण कर राहत पहुंचाना ही राज्य सरकार का लक्ष्य हैं।

Web Title: Rajasthan Niranjan Arya takes charge first IAS officer of scheduled class to become Chief Secretary

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे