Rajasthan jaipur CM Ashok Gehlot Housing board make everyone's dream come true 6663 houses to be built | आवासन मंडल करेगा सबके घर का सपना साकार, बनेंगे 6663 आवास, पंजीकरण आज से शुरू
योजना में अल्प आय वर्ग के लिये मात्र 5 लाख रुपये में स्वतंत्र आवास उपलब्ध करवाये जाएंगे। 

Highlightsप्रदेश के विभिन्न शहरों में लॉंच की गई 19 आवासीय योजनाओं के 6 हजार 663 आवासों के लिये पंजीकरण 1 सितम्बर, 2020 से शुरू हो गया।मण्डल द्वारा जयपुर के प्रताप नगर और इंदिरा गांधी नगर योजना में मुख्यमंत्री जन आवास योजना के तहत 4 आवासीय योजनाएं बनाई जाएंगी।योजनाओं में 1 बीएचके फ्लैट की कीमत मात्र 6 लाख 1 हजार रुपये और 2 बीएचके फ्लैट की कीमत मात्र 8 लाख 99 हजार रुपये रखी गई है।

जयपुरः राजस्थान आवासन आयुक्त पवन अरोड़ा ने बताया कि आमजन के आवास के सपने को पूरा करने के लिये आवासन मण्डल द्वारा प्रदेश के विभिन्न शहरों में लॉंच की गई 19 आवासीय योजनाओं के 6 हजार 663 आवासों के लिये पंजीकरण 1 सितम्बर, 2020 से शुरू हो गया।

आवासन आयुक्त ने बताया कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा 14 स्वतंत्र आवासीय योजनाओं सहित 4 मुख्यमंत्री जन आवासीय योजना और कर्मचारियों के लिये मुख्यमंत्री कर्मचारी आवासीय योजना लॉंच की गई थी। इन योजनाओं में से 10 योजनाओं के लिये ऑनलाइन व 9 योजनाओं के लिये ऑफलाईन आवेदन लिये जायेंगे।

जयपुर शहर में मात्र 6 लाख रुपये में फ्लैट पाने का सुनहरा अवसर

उन्होंने बताया कि मण्डल द्वारा जयपुर के प्रताप नगर और इंदिरा गांधी नगर योजना में मुख्यमंत्री जन आवास योजना के तहत 4 आवासीय योजनाएं बनाई जाएंगी। इन योजनाओं में 1 बीएचके फ्लैट की कीमत मात्र 6 लाख 1 हजार रुपये और 2 बीएचके फ्लैट की कीमत मात्र 8 लाख 99 हजार रुपये रखी गई है। इन दोनों योजनाओं में 2500 आवास निर्मित किये जाएंगे।

पवन अरोड़ा ने बताया कि मण्डल द्वारा लम्बे समय के बाद जयपुर में स्वतंत्र आवासों की योजना लॉंच की गई है। योजना के तहत जयपुर के समीप टोंक रोड स्थित, वाटिका एवं अजमेर रोड स्थित, महला में कुल 1525 स्वतंत्र आवास बनाये जाएंगे। इनमें आर्थिक दृष्टि से कमजोर आय वर्ग, अल्प आय वर्ग, और मध्यम आय वर्ग-अ श्रेणी के लोग आवेदन कर सकेंगे। योजना में अल्प आय वर्ग के लिये मात्र 5 लाख रुपये में स्वतंत्र आवास उपलब्ध करवाये जाएंगे। 

जेईई और नीट परीक्षाओं के लिए गहलोत सरकार ने सरकारी बसों में यात्रा फ्री की, छात्रों और अभिभावकों के लिए लाॅकडाउन भी मान्य नहीं होगा

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जेईई मेन व नीट के अभ्यर्थियों की समस्याओं को ध्यान में रखते हुए घोषणा की है कि अभ्यर्थियों और उनके अभिभावकों के लिए राज्य में लॉकडाउन लागू नहीं माना जाएगा। साथ ही परिचय पत्र दिखाकर अभ्यर्थी सरकारी बसों में मुफ्त यात्रा भी कर सकेंगे।

राज्य की राजधानी जयपुर सहित अन्य शहरों में राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम द्वारा अभ्यर्थियों को एडमिट कार्ड दिखाने पर मुफ्त परिवहन सुविधा दी जाएगी। गृह विभाग के प्रमुख शासन सचिव अभय कुमार ने बताया कि अभ्यर्थी और उनके अभिभावकों के लिए एडमिट कार्ड की हार्ड या सॉफ्ट कॉपी को वैध पास माना जाएगा।

प्रदेश में परीक्षाओं के लिए बने सेंटरों पर टच फ्री एंट्री, बार कोड से एडमिट कार्ड की जांच होगी। साथ ही दो गज दूरी, मास्क पहनने, सार्वजनिक स्थलों पर न थूकने, बार-बार हाथ धोने जैसी बातों का परीक्षा केंद्र पर विशेष ध्यान रखने के निर्देश भी जारी किये गये हैं।

उल्लेखनीय है देष में 660 परीक्षा केन्द्रों पर 8.58 लाख छात्र परीक्षा दे रहे हैं। पहले दिन परीक्षा दो पारियों में आयोजित की गई है। छात्रों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए सेटरों पर थ्री लेयर मास्क उपलब्ध कराये गये है। साथ ही किसी भी परीक्षार्थी का तापमान अधिक मिलता है तो उसके परीक्षा देने के लिए आइसोलेशन रूम की भी व्यवस्था परीक्षा केन्द्रों पर की गई है। 

Web Title: Rajasthan jaipur CM Ashok Gehlot Housing board make everyone's dream come true 6663 houses to be built
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे