Rajasthan Bharatpur Shock police station in-charge not getting leave son's marriage death health | राजस्थानः भरतपुर में पुत्र विवाह के लिए छुट्टी नहीं मिलने पर थाना प्रभारी को सदमा, तबीयत बिगड़ने से मौत
मृतक के बेटे ने कहा कि छुट्टी की समस्या को लेकर कोई बात परिवार में नहीं बताई थी।

Highlights22 नवंबर को उसके पुत्र का विवाह होने वाला था। जबकि उसने आज सवेरे होशियार ने अस्पताल में दम तोड़ दिया।पारिवारिक कार्यक्रम के लिए छुट्टी नहीं मिलने के कारण पिछले अनेक दिनों से डिप्रेशन में थे।

जयपुरः राजस्थान के भरतपुर जिले में पुत्र के विवाह के लिए छुट्टी मंजूर नहीं होने से सदमे में आए एक थाना प्रभारी की मौत हो गई। मृतक थानाधिकारी शहर के उच्चैन थाने में तैनात था और 22 नवंबर को उसके पुत्र का विवाह होने वाला था। जबकि उसने आज सवेरे होशियार ने अस्पताल में दम तोड़ दिया।

वैसे कार्यवाहक एसपी होशियार की कोरोना से मौत होने की बात कह रहे हैं। जबकि, होशियार सिंह के साथियों का कहना है कि वे बुधवार रात तक थाने में थे और ड्यूटी भी की थी। मृतक के पुुत्र की 16 नवंबर को सगाई  होनी थीं, लेकिन अफसरों ने छुट्टियां मंजूर नहीं कीं। मृतक थानाधिकारी टोंक जिले के रहने वाले थे। पारिवारिक कार्यक्रम के लिए छुट्टी नहीं मिलने के कारण पिछले अनेक दिनों से डिप्रेशन में थे।

ऐसा सामने आया है कि बीती रात होशियार सिंह थाने पर अपने कमरे में फूट-फूट कर रोए थे। उसके बाद उनकी तबीयत बिगड़ गई और उन्हें अस्पताल ले जाया गया। पहले उच्चैन अस्पताल ले जाया गया। जांच में उनका बीपी काफी बढ़ा निकला। इसके बाद उन्हें भरतपुर रैफर कर दिया।

भरतपुर अस्पताल पहुंचने पर डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। हालांकि, मृतक के बेटे ने कहा कि छुट्टी की समस्या को लेकर कोई बात परिवार में नहीं बताई थी। रात में बात हुई थी तो आवाज से लग रहा था कि उनकी तबीयत खराब है।

भरतपुर के कार्यवाहक एसपी मूल सिंह राणा ने कहा कि थाना प्रभारी की मौत कोरोना से हुई है। छुट्टी नहीं मिलने की बात गलत है। क्षेत्र में गुर्जर आंदोलन चलते छुट्टियों पर रोक लगाई गई थी, लेकिन अब ऐसा कुछ नहीं है। उन्होंने ने 14 नवंबर से 7 दिसंबर तक की  छुट्टी मांगी थी, जिसे स्वीकार कर लिया गया था। 10 तारीख को छु्ट्टी मंजूर करके 11 को इस संबंध में आदेश निकाल दिए गए थे।

पद्मश्री अवार्डी मूर्तिकार अर्जुन प्रजापति का कोरोना से निधन

राजस्थान की राजधानी जयपुर के पद्मश्री अवार्डी अर्जुन प्रजापति का कोरोना के चलते निधन हो गया। वे लगभग 5 सप्ताह पूर्व कोरोना पाॅजीटिव पाए गए थे। अर्जुन प्रजापति के निधन पर प्रदेश के राज्यपाल कलराज मिश्र, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा सहित अनेक लोगों ने संवेदना प्रकट की।

जानकारी के अनुसार मिट्टी से जीवंत कलाकृतियां बनाने वाले अर्जुन प्रजापति कोरोना से रिकवरी की स्टेज में थे और उनके लंग्स में इंफेक्शन था जिसके कारण उनकी तबीयत बिगड़ती चली गई और हालत में सुधार नहीं हो सका। 1957 में जन्मे अर्जुन प्रजापति को 2010 में तत्कालीन राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल ने उनकी प्रतिभा के लिए उन्हें पद्मश्री से सम्मानित किया था।

तेज गति से दौड़ती कार के ब्रेक फेल, बाद में लगी आग

राजस्थान की राजधानी जयपुर के हरमाड़ा क्षेत्र में बीती रात तेज गति से दौड़ती एक कार के बे्रक फेल हो गये और इसके बाद वह एक बस में जा घुसी जिसके चलते धमाके के साथ उसमें आग लग गई। लेकिन समय रहते स्थानीय लोगों ने अपनी जान जोखिम में डालकर दोनों कार सवारों को बचा लिया।

घटना की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने बताया कि जयपुर के शास्त्रीनगर सीकर हाउस निवासी बुजुर्ग एक अन्य युवक के साथ कार मंे सवार थे और किसी काम से सीकर जाकर वापस लौट रहे थे। अचानक 14 नं पुलिया के समीप कार के ब्रेक फेल हो गये और कार चालक ने कार को काबू करने का प्रयास किया लेकिन सफल नहीं हो सके और  वह एक बस में जा घुसी और उसके इंजन में आग लग गई। 

Web Title: Rajasthan Bharatpur Shock police station in-charge not getting leave son's marriage death health

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे