राजस्थानः भरतपुर में मरीज की रास्ते में मौत, लौट रही एंबुलेंस ट्राले से भिड़ी, मृतक के पुत्र और दो दोस्तों ने गंवाई जान

By धीरेंद्र जैन | Published: November 13, 2020 08:40 PM2020-11-13T20:40:12+5:302020-11-13T20:41:32+5:30

मृतक को लेकर वापस लौट रही एंबुलेंस के चालक को अचानक झपकी आ गई और वह सामने से आ रहे ट्रोले से टकरा गई। हादसे में एंबुलेस में सवार मृतक मरीज के पुत्र और दो दोस्तों की जान चली गई।

Rajasthan Bharatpur road accident case Death patient ambulance trolley son two friends lost | राजस्थानः भरतपुर में मरीज की रास्ते में मौत, लौट रही एंबुलेंस ट्राले से भिड़ी, मृतक के पुत्र और दो दोस्तों ने गंवाई जान

एंबुलेंस चालक को नींद की झपकी आ गई और वह सामने से आ रहे ट्रोले से टकरा गई।

Next
Highlightsएंबुलेंस एक मरीज को अस्पताल ले जा रही थी लेकिन उसने रास्ते में ही दम तोड़ दिया।भरतपुर निवासी दिलीप कुमार सैनी की बीती रात गंभीर हालत में भरतपुर से जयपुर रैफर किया जाने पर एंबुलेंस से तड़के जयपुर ले जाया जा रहा था।मरीज के साथ रोगी वाहन में मरीज की पत्नी और पुत्र के साथ दो दोस्त भी सवार थे। भरतपुर से निकलते ही दिलीप ने दम तोड़ दिया।

 जयपुरः भरतपुर के सेवर थाना क्षेत्र में शुक्रवार को एक एंबुलेंस की ट्राले से जोरदार टक्कर हो गई। एंबुलेंस एक मरीज को अस्पताल ले जा रही थी लेकिन उसने रास्ते में ही दम तोड़ दिया।

मृतक को लेकर वापस लौट रही एंबुलेंस के चालक को अचानक झपकी आ गई और वह सामने से आ रहे ट्रोले से टकरा गई। हादसे में एंबुलेस में सवार मृतक मरीज के पुत्र और दो दोस्तों की जान चली गई। जानकारी के अनुसार, भरतपुर निवासी दिलीप कुमार सैनी की बीती रात गंभीर हालत में भरतपुर से जयपुर रैफर किया जाने पर एंबुलेंस से तड़के जयपुर ले जाया जा रहा था।

मरीज के साथ रोगी वाहन में मरीज की पत्नी और पुत्र के साथ दो दोस्त भी सवार थे। भरतपुर से निकलते ही दिलीप ने दम तोड़ दिया। इस पर ये लोग भरतपुर लौट रहे थे। जयपुर-भरतपुर नेशनल हाइवे पर सेवर थाना क्षेत्र में रिलायंस पेट्रोल पंप के पास एंबुलेंस चालक को नींद की झपकी आ गई और वह सामने से आ रहे ट्रोले से टकरा गई।

हादसा इतना भीषण था कि एंबुलेंस बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई। हादसे में दिलीप कें पुत्र रॉबिन तथा उसके दोनों दोस्त नितिन और कृष्ण गोपाल की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं पत्नी मनीषा, दूसरे बेटे हिंमांशु और एंबुलेंस का ड्राइवर राजा बाबू घायल हो गए। सूचना पर पुलिस वहां पहुंची तथा घायलों को तथा शवों को आरबीएम अस्पताल पहुंचाया।

जयपुर में डेयरी संचालक की चाकुओं से गोदकर हत्या

राजस्थान की राजधानी जयपुर में अपराध और हत्याओं का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा है। बीती देर रात को अजमेर रोड के नाटाणियों के चैराहे पर एक डेयरी बूथ संचालक की चाकू से ताबड़तोड़ वार कर हत्या किये जाने का मामला सामने आया है। शुक्रवार अलसुबह आसपास के लोग दूध खरीदने पहुंचे। तब हत्या का खुलासा हुआ।

सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने घटनास्थल का मौका मुआयना किया। यह पिछले सात दिनों में राजधानी में हत्या की तीसरी वारदात है। एडिशनल डीसीपी बजरंग सिंह ने बताया कि मृतक की शिनाख्त 35 वर्षीय सुदामा के रुप में हुई है। मृतक मूल वह मूल रूप से बिहार का रहने वाला था।

यहां अजमेर रोड पर नाटाणियों के चैराहे पर डेयरी बूथ चलाता था। मृतक का भाई भी बूथ पर ही उसके साथ काम संभालता था। सुदामा डेयरी बूथ पर ही रहता था जबकि उसका भाई रामबिहारी परिवार के साथ सोडाला में रहता था। प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि मृतक और हमलावर के बीच हत्या से पूर्व संघर्ष हुआ था। हां सामान बिखरा हुआ मिला।

सुदामा के सिर व अन्य हिस्सों में चाकू के घावों के निशान मिले हैं। शव को मोर्चरी भिजवाया गया है। पोस्टमार्टम के बाद पता चलेगा कि कितने वार किए हैं। फिलहाल हत्या के कारणों का अभी खुलासा नहीं हो पाया है। पुलिस मान नहीं है किसी नशे के आदी व्यक्ति ने रुपयों के लालच में हत्या की वारदात को अंजाम दिया होगा। पुलिस टीमें संदिग्धों से पूछताछ कर रही है।

Web Title: Rajasthan Bharatpur road accident case Death patient ambulance trolley son two friends lost

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे