मीडिया समूहों पर छापे : सपा, बसपा और कांग्रेस की कड़ी प्रतिक्रिया

By भाषा | Published: July 23, 2021 12:32 AM2021-07-23T00:32:51+5:302021-07-23T00:32:51+5:30

Raids on media groups: Strong reaction of SP, BSP and Congress | मीडिया समूहों पर छापे : सपा, बसपा और कांग्रेस की कड़ी प्रतिक्रिया

मीडिया समूहों पर छापे : सपा, बसपा और कांग्रेस की कड़ी प्रतिक्रिया

Next

लखनऊ, 22 जुलाई मीडिया समूहों ‘दैनिक भास्कर’ और ‘भारत समाचार’ पर बृहस्पतिवार को आयकर के छापों को लेकर उत्तर प्रदेश के मुख्य विपक्षी दल समाजवादी पार्टी (सपा), बहुजन समाज पार्टी (बसपा) और कांग्रेस ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की।

बसपा अध्यक्ष मायावती ने देर रात एक ट्वीट में मीडिया समूहों पर की गई कार्रवाई को द्वेष पूर्ण करार दिया।

उन्होंने ट्वीट में कहा, "दैनिक भास्कर मीडिया ग्रुप व भारत समाचार चैनल पर आयकर की जबर्दस्त छापेमारी प्रथम दृष्ट्या द्वेषपूर्ण कार्रवाई लगती है जो 1975 में कांग्रेस की इमरजेंसी की काली यादों को ताजा करती है। यह अति दुःखद व अति-निंदनीय है।"

सपा प्रवक्ता डॉक्टर आशुतोष वर्मा ने मीडिया समूह के दफ्तरों और परिसरों में हुई छापे की कार्रवाई को भाजपा में व्याप्त 'खौफ' का परिणाम करार देते हुए कहा कि इससे यह साफ जाहिर हो गया है कि भाजपा उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव में हार की आशंका से इतनी भयभीत है कि वह उसकी नाकामी की हकीकत दिखा रहे मीडिया को भी निशाना बना रही है।

उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार ने आयकर विभाग, सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय समेत हर संवैधानिक और स्वायत्त संस्था को अपने विरोधियों को डराने के लिए औजार बना लिया है। उन्होंने कहा कि अब भाजपा सच्चाई उजागर करने पर मीडिया को भी नहीं बख्श रही है। सपा की लड़ाई इन संस्थाओं के राजनीतिकरण के खिलाफ भी है।

वर्मा ने कहा कि सपा दैनिक भास्कर और भारत समाचार पर सरकार के इशारे पर मारे गए छापों की कड़ी निंदा करती है।

इस बीच, उत्तर प्रदेश कांग्रेस के संयोजक (मीडिया एवं संचार) ललन कुमार ने भी मीडिया समूहों के परिसरों पर आयकर के छापों को 'तानाशाही और कायरतापूर्ण' हरकत बताया।

उन्होंने आरोप लगाया कि उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार ने जनता से किए गए अपने वादे नहीं निभाए और कोरोना वायरस महामारी के दौरान उसकी असफलता उजागर हो चुकी है। भाजपा की सच्चाई को दुनिया के सामने लाने को इस पार्टी ने जुर्म मानते हुए दैनिक भास्कर और भारत समाचार जैसे मीडिया समूहों को निशाना बनाया है।

गौरतलब है कि आयकर विभाग ने कर चोरी के आरोपों में दो प्रमुख मीडिया समूहों - ‘दैनिक भास्कर’ और उत्तर प्रदेश के हिंदी समाचार चैनल ‘भारत समाचार’ के विभिन्न शहरों में स्थित परिसरों पर बृहस्पतिवार को छापे मारे।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि दैनिक भास्कर के मामले में छापेमारी भोपाल, जयपुर, अहमदाबाद और कुछ अन्य स्थानों पर की गयी है।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: Raids on media groups: Strong reaction of SP, BSP and Congress

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे