राहुल गांधी ने किया मोदी सरकार पर हमला, बोले- 'ईंधन के दाम आम आदमी की कमर तोड़ रहे हैं, सरकार को परवाह नहीं है'

By आशीष कुमार पाण्डेय | Published: September 18, 2022 10:20 PM2022-09-18T22:20:16+5:302022-09-18T22:25:45+5:30

मोदी सरकार पर हमला करते हुए राहुल गांधी ने केरल के अलाप्पुझा ज़िले के थोट्टपल्ली में कहा कि भारत में सबसे अधिक ईंधन की कीमतें है। पेट्रोल के दामों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है, जिससे आम आदमी का जीवन दूभर होता जा रहा है।

Rahul Gandhi attacked the Modi government, said- 'Fuel prices are breaking the back of common man, the government does not care' | राहुल गांधी ने किया मोदी सरकार पर हमला, बोले- 'ईंधन के दाम आम आदमी की कमर तोड़ रहे हैं, सरकार को परवाह नहीं है'

ट्विटर से साभार

Next
Highlights'भारत जोड़ो' अभियान की अगुवाई कर रहे राहुल गांधी ने फिर किया मोदी सरकार पर हमला राहुल गांधी ने देश में बढ़ती हुई महंगाई के लिए केंद्र सरकार की नीतियों को जिम्मेदार ठहराया भारत में ईंधन की कीमतें सबसे अधिक है, पेट्रोल के दामों में तो लगातार बढ़ोतरी हो रही है

अलाप्पुझा: कांग्रेस के 'भारत जोड़ो' अभियान की अगुवाई कर रहे वायनाड के सांसद और पार्टी के पूर्व प्रमुख राहुल गांधी ने एक बार फिर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर हमला करते हुए बढ़ती हुई महंगाई के लिए जिम्मेदार ठहराया है। राहुल गांधी ने कहा कि महंगाई का प्रमुख कारण बढ़ते ईंधन के दाम हैं और उसे कम करने की दिशा में केंद्र सरकार कोई कदम नहीं उठा रही है, जिससे की आम जनता को रोजमर्रा की जिंदगी में राहत मिले।

राहुल गांधी ने केरल के अलाप्पुझा ज़िले के थोट्टपल्ली में कहा कहा, "भारत में सबसे अधिक ईंधन की कीमतें है। पेट्रोल के दामों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। मैंने ऑटो चालकों और डिलीवरी करने वालों से बात की और सबने कहा कि अभी की कीमतों के हिसाब से वे अपने जीवन को कायम नहीं रख सकते हैं।"

कांग्रेस के पूर्व प्रमुख ने कहा कि केंद्र सरकार केवल अपने उद्योगपति मित्रों की चिंता करती है, उसे आम आदमी के दुख-दर्द से कोई मतलब नहीं है। दिल्ली की सत्ता देश में धार्मिक भेदभाव को बढ़ावा दे रही है। लोगों को धर्म के नाम पर बांटा जा रहा है, नफरत की आग में झोंका जा रहा है। ऐसी तानाशाही वाली सरकार इस देश में पहले कभी नहीं हुई।

राहुल गांधी ने सीधे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला करते हुए कहा कि उन्होंने हर साल दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने का वादा किया गया था, लेकिन आज क्या हैं देश के हालात, बीते 45 वर्षों में सबसे ज्यादा बेरोजगारी है, भूखमरी है। वो कहते हैं कि कोरोना में 85 फीसदी लोगों को मुफ्त अनाज बांट रहे हैं। इसी बात से समझा जा सकता है कि देश में गरीबी किस हद तक फैल चुकी है।

राहुल गांधी के इन आरोपों पर भाजपा की ओर से भी लगातार पलटवार किया जा रहा है। भाजपा का कहना है कि एक तरफ कांग्रेस 'भारत जोड़ो' अभियान चला रही है वहीं दूसरी ओर खुद कांग्रेस के नेता 'कांग्रेस छोड़ो' अभियान चला रहा हैं। केंद्रीय मंत्री और अमेठी से सांसद स्मृति ईरानी ने कहा कि 'भारत जोड़ो' यात्रा कर रहे कांग्रेस के युवराज से पार्टी के कार्यकर्ता पूछ रहे हैं कि कांग्रेस का अध्यक्ष कौन होगा, वो तो उस सवाल का भी जवाब नहीं दे पा रहे हैं।

मालूम हो कि बीते 7 सितंबर से तमिलनाडु के कन्याकुमारी से शुरू हुई कांग्रेस का 150 दिनों का 'भारत जोड़ो' अभियान देश के 12 राज्यों के 20 शहरों से होकर गुजरेगा। इस यात्रा के दौरान 3,570 किलोमीटर लंबा सफर तय किया जाएगा और इस अभियान यात्रा का समापन जम्मू-कश्मीर में होगा।

कांग्रेस के 'भारत जोड़ो' अभियान की सबसे दिलचस्प बात यह है कि इस यात्रा अभियान के दौरान गुजरात और हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव भी होने हैं लेकिन कांग्रेस की यह यात्रा इन दोनों राज्यों से दूर रहेगी। इसके अलावा ये लोकसभा चुनाव की दृष्टि से महत्वपूर्ण प्रदेशों मसलन बिहार और बंगाल में भी नहीं जाएगी और उत्तर प्रदेश में भी यात्रा का बहुत छोटा पड़ाव रहा गया है। 

Web Title: Rahul Gandhi attacked the Modi government, said- 'Fuel prices are breaking the back of common man, the government does not care'

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे