'भारत के लोगों ने लोकतंत्र को कुचलने की सारी साजिशों का जवाब दिया", म्यूनिख में भारतीय लोगों के बीच बोले पीएम मोदी

By रुस्तम राणा | Published: June 26, 2022 07:44 PM2022-06-26T19:44:37+5:302022-06-26T19:44:37+5:30

अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि आज 21वीं सदी का भारत, चौथी औद्योगिक क्रांति में, इंडस्ट्री 4.0 में, पीछे रहने वालों में नहीं बल्कि इस औद्योगिक क्रांति का नेतृत्व करने वालों में से एक है।

PM Narendra Modi calls Emergency black spot on democracy during event with diaspora in Munich | 'भारत के लोगों ने लोकतंत्र को कुचलने की सारी साजिशों का जवाब दिया", म्यूनिख में भारतीय लोगों के बीच बोले पीएम मोदी

'भारत के लोगों ने लोकतंत्र को कुचलने की सारी साजिशों का जवाब दिया", म्यूनिख में भारतीय लोगों के बीच बोले पीएम मोदी

Next
Highlightsअपने संबोधन में पीएम मोदी ने भारत को बताया मदर ऑफ डेमोक्रेसीपीएम ने कहा- डिजिटल टेक्नॉलोजी में भारत अपना परचम लहरा रहा है

म्यूनिख: जी7 सम्मेलन के लिए जर्मनी पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी म्यूनिख में भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित किया। इस दौरान प्रधानमंत्री ने कहा, भारत के लोगों ने लोकतंत्र को कुचलने की सारी साजिशों का जवाब, लोकतांत्रिक तरीके से ही दिया। हम भारतीय कहीं भी रहें, अपने लोकतंत्र पर गर्व करते हैं। हर हिंदुस्तानी गर्व से कहता है, भारत मदर ऑफ डेमोक्रेसी है।

अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि आज 21वीं सदी का भारत, चौथी औद्योगिक क्रांति में, इंडस्ट्री 4.0 में, पीछे रहने वालों में नहीं बल्कि इस औद्योगिक क्रांति का नेतृत्व करने वालों में से एक है। उन्होंने कहा, सूचना प्रौद्योगिकी में, डिजिटल टेक्नॉलोजी में भारत अपना परचम लहरा रहा है।

अपनी सरकार की उपलब्धि गिनाते हुए पीएम मोदी ने कहा, आज भारत के हर गांव तक बिजली पहुंच चुकी है। आज भारत का लगभग हर गांव, सड़क मार्ग से जुड़ चुका है। आज भारत के 99% से ज्यादा लोगों के पास क्लीन कुकिंग के लिए गैस कनेक्शन है। आज भारत का हर परिवार बैंकिंग व्यवस्था से जुड़ा हुआ है।

उन्होंने कहा, आज का भारत “होता है, चलता है, ऐसे ही चलेगा” वाली मानसिकता से बाहर निकल चुका है। आज भारत ‘करना है’ ‘करना ही है’ और ‘समय पर करना है’ का संकल्प रखता है। 

कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर उन्होंने कहा, आज भारत में 90% वयस्क आबादी को वैक्सीन की दोनों डोज़ लग चुकी हैं। 95% वयस्क ऐसे हैं, जो कम से कम एक डोज़ ले चुके हैं। ये वही भारत है, जिसके बारे में कुछ लोग कह रहे थे कि सवा अरब आबादी को वैक्सीन लगाने में 10-15 साल लग जाएंगे।

पीएम ने अपने संबोधन में कहा कि मुश्किल से मुश्किल हालातों में भी भारत के लोगों का हौसला ही हमारी सबसे बड़ी ताकत है। पिछले साल हमने अब तक का सबसे ज्यादा निर्यात किया है। ये इस बात का सबूत है कि एक ओर हमारे निर्माताओं नए अवसरों के लिए तैयार हो चुके हैं वहीं दुनिया भी हमें उम्मीद और विश्वास से देख रही है।

पीएम मोदी ने कहा, जलवायु परिवर्तन, आज ये भारत में केवल सरकारी नीतियों का मुद्दा नहीं है। भारत का युवा EV और ऐसी ही दूसरी जलवायु के पक्ष में टेक्नॉलोजी में निवेश कर रहा है। सतत जलवायु प्रथाएं आज भारत के सामान्य से सामान्य मानव के जीवन का हिस्सा बन रही हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन के बाद लोगों का अभिवादन स्वीकार किया।

Web Title: PM Narendra Modi calls Emergency black spot on democracy during event with diaspora in Munich

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे