Piyush Goyal VS Uddhav Thackeray on Shramik trains: Railways minister tweet in night Says where is details | 'रात के 12 बज चुके हैं, महाराष्ट्र सरकार ने 125 ट्रेनों-पैसेंजरों की लिस्ट नहीं भेजी है', CM उद्धव से देर रात तक सवाल पूछते रहे पीयूष गोयल
रेल मंत्री पीयूष गोयल (फाइल फोटो)

Highlightsरेलवे द्वारा उपलब्ध कराये गए आंकड़ों के मुताबिक महाराष्ट्र में अब तक 513 ट्रेनें पहुंची हैं। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के आरोप के बाद एक के बाद कई ट्वीट कर राज्य सरकार से ट्रेनों की लिस्ट मांगी है।

नई दिल्ली:  श्रमिक स्पेशल ट्रेनों को लेकर केंद्र और राज्य के बीच आरोप-प्रत्यारोप थमने का नाम नहीं ले रहा है और रविवार (24 मई) को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और रेल मंत्री पीयूष गोयल ने एक- दूसरे पर निशाना साधा। शिवसेना प्रमुख और सीएम उद्धव ठाकरे ने आरोप लगाया कि मांग करने के बावजूद रेलवे राज्य को पर्याप्त संख्या में ट्रेनें नहीं उपलब्ध करा रहा है। जिसके बाद रेल मंत्री पीयूष गोयल ने एक के बाद एक कई ट्वीट कर महाराष्ट्र सरकार से इससे संबंधित ब्योरा मांगा लेकिन कई घंटे बीत जाने के बाद भी राज्य सरकार की ओर उन्हें कोई जवाब नहीं आया है। 24 मई की रात 12 बजे रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर लिखा, ''रात के 12 बज चुके हैं और 5 घंटे बाद भी हमारे पास महाराष्ट्र सरकार से कल की 125 ट्रेनों की डिटेल्स और पैसेंजर लिस्टें नहीं आई है। मैंने अधिकारियों को आदेश दिया है फिर भी प्रतीक्षा करे और तैयारियां जारी रखें।''

उसके बाद एक अन्य ट्वीट में रेल मंत्री पीयूष गोयल ने लिखा, मेरा अनुरोध है कि महाराष्ट्र सरकार अभी भी अगले एक घंटे में कितनी ट्रेनें, कहां तक और पैसेंजर लिस्टें हमें भेज दें। हम प्रतीक्षा कर रहे हैं और पूरी रात काम कर कल की ट्रेनों की तैयारी करेंगे। कृपया पैसेंजर लिस्टें अगले एक घंटे में भेज दें।

रात 2 बजे रेल मंत्री पीयूष गोयल ने फिर किया ट्वीट- पूछा कहां है 125 ट्रेनों की लिस्ट 

रात दो बजे एक बार फिर रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट किया और लिखा, 'महाराष्ट्र की 125 ट्रेनों की लिस्ट कहां है? रात दो बजे तक, केवल 46 ट्रेनों की लिस्ट मिली है, जिसमें से 5 पश्चिम बंगाल और ओडिशा की हैं, जो चक्रवात अम्फान के कारण नहीं चल सकती हैं। हम 125 ट्रेनों के लिए तैयार होने के बावजूद आज के लिए केवल 41 ट्रेनों को अधिसूचित कर रहे हैं।'

जानें उद्धव ठाकरे और रेल मंत्री पीयूष गोयल के बीच का क्या है पूरा विवाद 

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और रेल मंत्री पीयूष गोयल के बीच श्रमिक स्पेशल ट्रेनों को लेकर आरोप-प्रत्यारोप चल रहा है। सीएम ठाकरे ने राज्य के लोगों को संबोधित करते हुए रविवार (24 मई) को कहा था कि उन्होंने प्रवासियों को घर पहुंचाने की खातिर राज्य के लिए प्रतिदिन 80 प्रवासी स्पेशल ट्रेनों की मांग की थी, लेकिन उसे सिर्फ 40 ट्रेनें ही मिल रही हैं। उन्होंने यह भी कहा कि राज्य ने इन ट्रेनों के लिये 85 करोड़ रुपये अदा किए हैं। 

इस पर, रेल मंत्री पीयूष गोयल ने एक ट्वीट में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पर तंज कसते हुए कहा, ‘‘उम्मीद है कि पहले की तरह ट्रेनों को स्टेशन पर आने के बाद, वापस ख़ाली नहीं जाना पड़े। आपको आश्वस्त करना चाहूंगा कि आपको जितनी ट्रेन चाहिए, वो उपलब्ध होंगी।’’ गोयल ने पहले कुछ मौकों पर स्पेशल ट्रेनों में प्रवासियों के सवार नहीं होने का जिक्र करते हुए यह कहा।

गोयल ने एक ट्वीट में कहा, कल हम महाराष्ट्र से 125 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें देने के लिए तैयार हैं। अपने बताया कि आपके पास श्रमिकों की सूची तैयार है। इसलिए, आपसे अनुरोध है कि सभी निर्धारित जानकारी-जैसे कि कहां से ट्रेन चलेगी, यात्रियों की ट्रेनों के हिसाब से सूची, उनका मेडिकल सर्टिफिकेट और कहां ट्रेन जानी है, यह सब सूचना अगले एक घंटे में मध्य रेलवे के महाप्रबंधक को पहुँचाने की कृपा करें, जिससे हम ट्रेनों की योजना समय पर बना सकें।

इसके बाद केंद्रीय मंत्री ने एक अन्य ट्वीट में कहा, दुख की बात हैं कि डेढ़ घंटे हो गए हैं, पर महाराष्ट्र सरकार ने रेलवे के महाप्रबंधक, मध्य रेल को कल की 125 ट्रेनों की निर्धारित जानकारी नहीं दी है। ट्रेन की योजना बनाने में समय लगता है और हम नहीं चाहते कि ट्रेनें स्टेशन पर आकर खाली खड़ी रहें। इसलिए पूरी जानकारी के बिना प्लान करना असंभव है। उन्होंने कहा, मैं आशा करता हूँ कि महाराष्ट्र सरकार हमारे इन श्रमिकों के लाभ के लिए किए गए प्रयास में पूरा सहयोग करेगी।
 

Web Title: Piyush Goyal VS Uddhav Thackeray on Shramik trains: Railways minister tweet in night Says where is details
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे