पेगासस मामला : कथित जासूसी के विरोध में कांग्रेस ने किया लखनऊ में प्रदर्शन

By भाषा | Published: July 22, 2021 09:40 PM2021-07-22T21:40:15+5:302021-07-22T21:40:15+5:30

Pegasus case: Congress protests in Lucknow against alleged espionage | पेगासस मामला : कथित जासूसी के विरोध में कांग्रेस ने किया लखनऊ में प्रदर्शन

पेगासस मामला : कथित जासूसी के विरोध में कांग्रेस ने किया लखनऊ में प्रदर्शन

Next

लखनऊ, 22 जुलाई इजराइली स्पाईवेयर पेगासस के जरिये देश की विभिन्न राजनीतिक हस्तियों तथा पत्रकारों की कथित जासूसी कराए जाने के विरोध में कांग्रेस के अखिल भारतीय प्रदर्शन के क्रम में पार्टी की प्रदेश इकाई ने बृहस्पतिवार को राजधानी लखनऊ में विरोध दर्ज कराया।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता अंशु अवस्थी ने बताया कि पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी सहित देश के विभिन्न विपक्षी नेताओं, पूर्व राष्ट्रपति, पूर्व प्रधानमंत्री, चुनाव आयुक्त तथा पत्रकारों की केंद्र की भाजपा नीत सरकार द्वारा फोन टैपिंग एवं हैकिंग कर जासूसी कराए जाने के विरोध एवं निजता के अधिकारों के हनन के खिलाफ लखनऊ में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के नेतृत्व में प्रदर्शन हुआ।

उन्होंने आरोप लगाया कि प्रदेश की भाजपा सरकार ने विरोध प्रदर्शन को दबाने की कोशिश करते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष लल्लू एवं विधानमंडल दल की नेता आराधना मिश्रा सहित पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को घर में नजरबंद कर दिया। इसकी खबर मिलते ही आक्रोशित कांग्रेस कार्यकर्ताओं की भीड़ सुबह से ही प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के निवास पर जुटना शुरू हो गई। इसके बाद कार्यकर्ताओं के साथ प्रदर्शन के लिए निर्धारित स्वास्थ्य भवन कैसरबाग से राजभवन तक मार्च के लिए जाते समय पुलिस से झड़प के बाद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू तथा कई अन्य वरिष्ठ नेताओं को गिरफ्तार कर इको गार्डन ले जाया गया।

अवस्थी ने बताया कि लल्लू ने प्रदेश की भाजपा सरकार को घेरते हुए कहा कि सत्तारूढ़ पार्टी सिर्फ 'जासूस पार्टी' बनकर रह गई है और तानाशाही से लोकतंत्र को समाप्त करना चाहती है। देश-प्रदेश की जनता इस बात को लेकर आश्चर्यचकित है कि उसने तो विकास कार्य के लिए भाजपा को वोट दिया था लेकिन इस पार्टी ने सत्ता में आने पर तानाशाही रवैया अपनाते हुए लोगों के अधिकार खत्म करने की कोशिश शुरू कर दी है और जासूसी करा कर निजता पर डाका डाल रही है।

लल्लू ने कहा कि सरकार चाहे जितने जुल्म कर ले लेकिन कांग्रेस कार्यकर्ता उससे डरने वाले नहीं हैं। पार्टी कार्यकर्ता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के नेतृत्व में इस जालिम सरकार से मुकाबला करेंगे और वर्ष 2022 के विधानसभा चुनाव में भाजपा को उखाड़ फेंकेंगे।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: Pegasus case: Congress protests in Lucknow against alleged espionage

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे