लोकसभा टिकट के बदले 5 करोड़! तेजस्वी यादव-मीसा भारती समेत छह के खिलाफ एफआईआर

By विनीत कुमार | Published: September 20, 2021 07:52 AM2021-09-20T07:52:05+5:302021-09-20T07:55:52+5:30

तेजस्वी यादव-मीसा भारती समेत 6 अन्य नेताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। आरोप है कि इन्होंने चुनाव में टिकट देने का वादा कर कांग्रेस नेता संजीव कुमार सिंह से 5 करोड़ रुपये लिए।

Patna court orders FIR against Tejashwi Yadav meesa bharti for alleged Rs 5 crore for Lok Sabha ticket | लोकसभा टिकट के बदले 5 करोड़! तेजस्वी यादव-मीसा भारती समेत छह के खिलाफ एफआईआर

तेजस्वी यादव के खिलाफ एफआईआर

Next
Highlightsलोकसभा या विधानसभा चुनाव में टिकट के बदले 5 करोड़ लेने का है आरोप।संजीव कुमार सिंह ने आरोप लगाया है कि पैसे लेने के बावजूद उन्हें टिकट नहीं दिया गया।एफआईआर में तेजस्वी-मीसा समेत बिहार कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा, कांग्रेस प्रवक्ता राजेश राठौर का भी नाम शामिल।

पटना: पटना की एक अदालत ने 2019 के चुनाव के दौरान लोकसभा टिकट के लिए कथित तौर पर 5 करोड़ रुपये लेने के आरोप में 6 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के आदेश दिए हैं। इनमें राजद नेता तेजस्वी यादव और मीसा भारती का नाम भी शामिल है।

प्राथमिकी दर्ज करने का आदेश कांग्रेस नेता संजीव कुमार सिंह की शिकायत पर दिया गया है। इन्होंने आरोप लगाया था कि उन्हें 5 करोड़ रुपये का भुगतान करने के लिए कहा गया था और उसी के लिए भागलपुर से लोकसभा टिकट का वादा किया गया था।

एफआईआर में बिहार कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा, कांग्रेस प्रवक्ता राजेश राठौर और दिवंगत कांग्रेस नेता सदानंद सिंह के बेटे शुभानंद मुकेश का भी नाम शामिल है।

लोकसभा या विधानसभा में टिकट का दिया गया था भरोसा!

संजीव कुमार सिंह ने इस साल 18 अगस्त को पटना सीजेएम कोर्ट में मुकदमा दायर कर दावा किया था कि 15 जनवरी 2019 को तेजस्वी यादव, मीसा भारती, मदन मोहन झा, सदानंद सिंह और राजेश राठौर ने कथित तौर पर उनसे 5 करोड़ रुपये लिए थे। उन्हें भागलपुर से लोकसभा टिकट देने का वादा किया गया था।

कांग्रेस नेता ने अपनी शिकायत में आगे आरोप लगाया है कि लोकसभा चुनाव में टिकट नहीं मिलने पर उन्हें आश्वासन दिया गया था कि उन्हें 2020 के विधानसभा चुनाव में महागठबंधन से टिकट मिलेगा, लेकिन विधानसभा चुनाव में भी उन्हें टिकट नहीं मिला।

मामले की सुनवाई के बाद मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी विजय किशोर सिंह ने 16 सितंबर को पटना के एसएसपी उपेंद्र शर्मा को सभी आरोपियों के खिलाफ कोतवाली थाने में प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया।

इस बीच तेजस्वी यादव और मीसा भारती के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने के निर्देश के बाद जनता दल (यूनाइटेड) ने राजद पर निशाना साधा है। पूर्व मंत्री और जेडीयू एमएलसी नीरज कुमार ने ट्वीट कर कांग्रेस और राजद पर निशाना साधा।

हालांकि, राष्ट्रीय जनता दल (राजद) ने तेजस्वी यादव और मीसा भारती पर लगे सभी आरोपों को खारिज कर दिया है।

राजद प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी राजद ने कहा, 'जिस व्यक्ति ने आरोप लगाया है कि महागठबंधन के नेताओं को 5 करोड़ रुपये दिए गए थे, वह मानसिक रूप से अस्थिर है। शिकायतकर्ता महागठबंधन नेताओं के खिलाफ निराधार आरोप लगाकर सस्ती लोकप्रियता हासिल करना चाहता है।'

Web Title: Patna court orders FIR against Tejashwi Yadav meesa bharti for alleged Rs 5 crore for Lok Sabha ticket