लड़कियों को परिजन को सौंपने के लिए पैसे मांगने की खबरों के आधार पर याचिका दायर करने का आदेश

By भाषा | Published: October 13, 2021 12:57 PM2021-10-13T12:57:13+5:302021-10-13T12:57:13+5:30

Order to file petition on the basis of reports asking for money to hand over girls to family | लड़कियों को परिजन को सौंपने के लिए पैसे मांगने की खबरों के आधार पर याचिका दायर करने का आदेश

लड़कियों को परिजन को सौंपने के लिए पैसे मांगने की खबरों के आधार पर याचिका दायर करने का आदेश

Next

कोच्चि, 13 अक्टूबर केरल उच्च न्यायालय ने 11 साल पहले कोच्चि आकर बसे, दिल्ली मूल के एक दंपति का पुलिस अधिकारियों द्वारा कथित उत्पीड़न किये जाने के बारे में मीडिया की एक खबर का संज्ञान लिया है। खबर के मुताबिक पुलिसकर्मियों द्वारा उनकी बेटियों को रिहा करने के लिए कथित तौर पर पांच लाख रुपये की मांग की गई थी।

दंपति की बेटियां राष्ट्रीय राजधानी स्थित अपने घर से भाग गईं थीं जिनका पता पुलिस ने लगा लिया था।

न्यायमूर्ति देवन रामचंद्रन ने एक वकील द्वारा अदालत के सामने रखी गई समाचार-पत्र की खबर पर कहा, “अगर ये (आरोप) सही हैं, तो यह गंभीर मामला है। यह खतरनाक खेल है।”

अदालत ने उच्च न्यायालय की रजिस्ट्री को आदेश दिया कि वह अखबार की खबर को रिकॉर्ड पर ले और मुख्य न्यायाधीश से "स्वत: संज्ञान याचिका दर्ज करने के लिए" निर्देश प्राप्त करे।

अदालत ने निर्देश दिया कि याचिका को जल्द से जल्द दर्ज किया जाए क्योंकि परिवार मूल रूप से केरल का नहीं था और यह सुनिश्चित किया जाए कि इस मामले में न्याय का मजाक न उड़े।

अदालत ने कोच्चि के पुलिस आयुक्त से पूरे मामले के बारे में एक रिपोर्ट मांगी और अधिकारी को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया कि परिवार को और उत्पीड़न न हो।

अखबार की खबर के अनुसार, पांच बच्चों के माता-पिता इस पीड़ित दंपति की सबसे बड़ी बेटी अपने प्रेमी से मिलने के लिए घर से भाग गई थी। लड़की इस कथित प्रेमी से उस स्मार्ट फोन के जरिये संपर्क में आई थी जो उसे ऑनलाइन कक्षा करने के लिए दिया गया था।

खबर में कहा गया कि लड़की भागते वक्त अपनी छोटी बहन को साथ ले गई और 35,000 रुपये भी ले गई थी। जब माता-पिता ने बेटियों को लापता पाया, तो उन्होंने तुरंत एर्नाकुलम उत्तर पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई।

दिल्ली पुलिस ने लड़कियों को दो लड़कों - फैजान और सुबैर के साथ राष्ट्रीय राजधानी में ढूंढ निकाला और ऐसा पता चला कि बड़ी लड़की से कथित तौर पर बलात्कार हुआ है।

खबर में बताया गया कि केरल लटौने के बाद कोच्चि पुलिस ने लड़कियों को माता-पिता को सौंपने से कथित तौर पर मना कर दिया और पांच लाख रुपये मांगे या बड़ी लड़की की शादी आरोपी से कराने की बात कही।

जब माता-पिता ने पुलिस की कथित मांगों को पूरा नहीं किया, तो दंपति के बड़े बेटों को दो लड़कियों से छेड़छाड़ करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया और यहां तक कि उनके छोटे बेटे - कक्षा आठवीं के छात्र - को भी पूछताछ के लिए पुलिस थाने बुलाया गया था।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: Order to file petition on the basis of reports asking for money to hand over girls to family

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे