बिहार: कृषि मंत्री के इस्तीफे पर भाजपा ने खोला मोर्चा, कहा- "नीतीश-तेजस्वी एक दूसरे को हटाने का मौका खोज रहे हैं"

By एस पी सिन्हा | Published: October 2, 2022 05:00 PM2022-10-02T17:00:31+5:302022-10-02T17:04:47+5:30

कृषि मंत्री सुधाकर सिंह के इस्तीफे के बाद विपक्षी दल भाजपा को नीतीश की अगुवाई वाली महागठबंधन सरकार के खिलाफ हमला करने का मौका मिल गया है।

On the resignation of the Agriculture Minister in Bihar, BJP opened a front, said – Nitish Kumar and Tejashwi Yadav are looking for an opportunity to remove each other | बिहार: कृषि मंत्री के इस्तीफे पर भाजपा ने खोला मोर्चा, कहा- "नीतीश-तेजस्वी एक दूसरे को हटाने का मौका खोज रहे हैं"

फाइल फोटो

Next
Highlightsसुधाकर सिंह के इस्तीफे के बाद बिहार भाजपा के सभी महारथियों ने नीतीश सरकार के खिलाफ खोला मोर्चातारकिशोर प्रसाद ने कहा कि नीतीश सरकार को अब सूबे पर शासन करने का कोई अधिकार नहीं हैवहीं संजय जायसवाल ने कहा सुधाकर सिंह की आवाज को नीतीश कुमार बर्दाश्त नहीं कर सके

पटना: बिहार के कृषि मंत्री सुधाकर सिंह के इस्तीफे के बाद बिहार के राजनीतिक गलियारों में भूचाल आ गया है। इसे लेकर विपक्षी दल भाजपा को एक बार फिर मौका मिल गया है नीतीश की अगुवाई वाली महागठबंधन सरकार पर हमला बोलने का। मौके की नजाकत को भांपते हुए बिहार भाजपा के सभी महारथी सियासी पिच पर उतर नीतीश सरकार के खिलाफ अपनी पारी खेलने लगे हैं।

कृषि मंत्री सुधाकर सिंह के इस्तीफे के बाद भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर संजय जायसवाल और बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद ने नीतीश सरकार के खिलाफ जबरदस्त मोर्चा खोल दिया है। तारकिशोर प्रसाद ने नीतीश सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि इस तरह की बाते ठीक नहीं है। इससे बिहार को काफी नुकसान हो रहा है।

उन्होंने कहा कि बिहार में यह सरकार असहज स्थिति में चली गयी है। ऐसे में इस सरकार को रहने का कोई औचित्य नहीं है। इस सरकार को अब बिहार से हट जाना चाहिए। तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि कृषि विभाग में जो कुछ चल रहा था उससे कृषि मंत्री नाखूश थे। विभाग में हो रहे भ्रष्टाचार और अनियमितता के खिलाफ सुधाकर सिंह लगातार आवाज उठा रहे थे। उसी का यह परिणाम है कि इस्तीफा देने के लिए उन्हें बाध्य होना पड़ा। बिहार की अजीबो-गरीब स्थिति बन गयी है। सरकार की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है।

वहीं, प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर संजय जायसवाल ने नीतीश सरकार को घेरते हुए कहा कि जिस तरीके से सुधाकर सिंह ने माफिया के खिलाफ आवाज उठाया वो नीतीश कुमार बर्दाश्त नहीं कर सके। उन्होंने कहा कि सुधाकर सिंह अफसरशाही की पोल खोल रहे थे । नीतीश कुमार हमेशा कहते है कि न किसी को फंसाते हैं न किसी को बचाते हैं तब ऐसे में उन्होंने सुधाकर सिंह का इस्तीफा क्यों लिया?

डॉक्टर जायसवाल ने आगे कहा कि नीतीश कुमार और तेजस्वी यादव एक दूसरे को हटाने का मौका खोज रहे हैं। नीतीश कुमार उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के जेल जाने का इंतजार कर रहे हैं। इसके बाद वे राजद को जदयू में समाहित करने की प्लानिंग करके बैठे हैं। वहीं तेजस्वी यादव अपने फायदे के लिए सरकार के साथ हैं। दोनों के इस सियासत में बिहार की जनता पिस रही है। बिहार में हत्या, अपहरण और बलात्कार की घटनाएं लगातार बढ़ती चली जा रही हैं।

Web Title: On the resignation of the Agriculture Minister in Bihar, BJP opened a front, said – Nitish Kumar and Tejashwi Yadav are looking for an opportunity to remove each other

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे