मध्य प्रदेश में ऑक्सीजन की कमी के कारण कोई मौत नहीं हुयी : सारंग

By भाषा | Published: July 21, 2021 09:01 PM2021-07-21T21:01:15+5:302021-07-21T21:01:15+5:30

No death due to lack of oxygen in Madhya Pradesh: Sarang | मध्य प्रदेश में ऑक्सीजन की कमी के कारण कोई मौत नहीं हुयी : सारंग

मध्य प्रदेश में ऑक्सीजन की कमी के कारण कोई मौत नहीं हुयी : सारंग

Next

चेन्नई, 21 जुलाई मध्य प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास कैलाश सारंग ने बुधवार को कहा कि कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर के दौरान उनके राज्य में ऑक्सीजन की कमी के कारण कोई मौत नहीं हुई और इस संबंध में केंद्र द्वारा राज्य सभा में दिया गया बयान वास्तविकता है।

तमिलनाडु के चिकित्सा एवं परिवार कल्याण मंत्री मा सुब्रमण्यम से मुलाकात करने के बाद यहां संवाददाताओं से बातचीत में सारंग ने ऑक्सीजन की मांग को पूरा करने के प्रयासों के लिए केंद्र को धन्यवाद दिया।

उन्होंने सरकार द्वारा मंगलवार को राज्यसभा में दिए गए एक लिखित जवाब के संदर्भ में कहा, "हमारे राज्य में ऑक्सीजन की कमी से कहीं कोई मौत नहीं हुई है। जैसा केंद्रीय मंत्री ने सदन में कहा, वह सच है।"

सारंग ने कहा, "सच्चाई यह है कि ऑक्सीजन की कमी के कारण मौत नहीं हुई है...कोरोना काल में, हमने प्रतिदिन 600 मीट्रिक टन (ऑक्सीजन की) खरीद की, जबकि हमारी अधिकतम खपत 457 मीट्रिक टन थी।"

उन्होंने कहा, "रिकॉर्ड (स्वयं ही) बोलता है और मैं सैन्य विमानों और ट्रेनों सहित, ऑक्सीजन खरीद के लिए सुविधाएं प्रदान करने की खातिर केंद्र को धन्यवाद देना चाहता हूं।"

उन्होंने एक ट्वीट में, कथित तौर पर डर का माहौल बनाने के लिए विपक्ष की आलोचना की और कहा कि यह गलत है। उन्होंने ट्वीट किया, ''मध्य प्रदेश में न तो ऑक्सीजन की कमी से कोई मौत हुई है और न ही (कोविड) टीके की कोई कमी है।’’

इस मुद्दे पर केंद्र पर निशाना साधते हुए कांग्रेस ने स्वास्थ्य राज्य मंत्री भारती प्रवीण पवार पर यह ''गलत सूचना'' देकर संसद को गुमराह करने का आरोप लगाया कि कोविड महामारी की दूसरी लहर के दौरान आक्सीजन की कमी की वजह से किसी की जान नहीं गई । कांग्रेस नेता के सी वेणुगोपाल ने कहा कि वह मंत्री के खिलाफ विशेषाधिकार हनन नोटिस लाएंगे क्योंकि उन्होंने सदन को 'गुमराह' किया है।

इस बीच भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने अपने विरोधियों पर पलटवार करते हुए कहा कि उसके विपक्षी दलों द्वारा शासित राज्यों ने अदालतों में दावा किया कि दूसरी लहर में ऑक्सीजन की कमी से किसी की मौत नहीं हुई और उन्होंने केंद्र को दिए अपने जवाब में भी इसी प्रकार के दावे किए।

केंद्र सरकार ने मंगलवार को राज्यसभा को बताया कि दूसरी लहर के दौरान विशेष रूप से राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों ने ऑक्सीजन की कमी के कारण किसी की भी मौत होने की जानकारी नहीं दी। इसे लेकर विपक्षी दलों के नेताओं ने तीखी आलोचना की थी।

भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी और आम आदमी पार्टी (आप) नेता अरविंद केजरीवाल समेत विपक्षी नेताओं पर इस मामले पर राजनीति करने का आरोप लगाया और कहा कि जिन राज्यों में ये दल सत्ता में हैं, वहां उन्होंने दावा किया है कि ऑक्सीजन की कमी के कारण किसी की मौत नहीं हुई।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: No death due to lack of oxygen in Madhya Pradesh: Sarang

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे