कोविड के टीके ने किया जादू, 5 साल से बीमार शख्स भी अब चलने और बोलने लगा, हैरान डॉक्टरों ने जांच के लिए गठित की मेडिकल टीम

By आजाद खान | Published: January 14, 2022 10:48 AM2022-01-14T10:48:31+5:302022-01-14T10:58:59+5:30

परिवार वालों के मुताबिक, दुलारचंद मुंडा पिछले पांच साल से बीमार थे लेकिन कोविड का टीका लगाने के बाद उनकी बीमारी दूर हो गई है।

news jharkhand man dularchand munda finds miracle after covid19 vaccine stay fit after long illness doctor investigate | कोविड के टीके ने किया जादू, 5 साल से बीमार शख्स भी अब चलने और बोलने लगा, हैरान डॉक्टरों ने जांच के लिए गठित की मेडिकल टीम

कोविड के टीके ने किया जादू, 5 साल से बीमार शख्स भी अब चलने और बोलने लगा, हैरान डॉक्टरों ने जांच के लिए गठित की मेडिकल टीम

Next
Highlightsकोविशील्ड टीका लगाने के बाद एक बीमार आदमी के ठीक होने की बात सामने आई है।दुलारचंद मुंडा ने यह दावा किया है कि टीके के बाद उसे पांच साल पुरानी बीमारी से छुटकारा मिला है। इस पर डॉक्टरों का कहना है कि वे इसकी जांच में जुटे हैं।

बोकारो:झारखंड के बोकारो जिले में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। गुरूवार को यहां के डॉक्टरों ने यह दावा किया है कि पांच साल पहले हुई सड़क दुर्घटना के बाद से बिस्तर पर पड़ा 55 वर्षीय एक व्यक्ति कोविड रोधी कोविशील्ड टीके की पहली खुराक लेने के बाद चलने-बोलने लगा है। डॉक्टरों के इस दावे से कई लोग हैरान है। कोविड के टीको को लेकर यह पहला केस है जिसमें किसी की बीमारी ठीक होने की बात सामने आ रही है। अकसर ऐसा देखा गया है कि कोरोना के टीकों से लोगों पर इसका गलत असर पड़ा है, लेकिन इस घटना ने तो सभी को चौंका दिया है। इस पर आगे बोलते हुए डॉक्टरों ने कहा कि मरीज के ‘‘चमत्कारिक रूप से स्वस्थ’’ होने के मामले की जांच करने के लिए सरकार ने तीन सदस्यीय मेडिकल टीम का गठन भी किया है। 

क्या है पूरा मामला

यह घटना बोकारो जिले के पीतरवार प्रखंड में उत्तासरा पंचायत के सल्गाडीह गांव निवासी दुलारचंद मुंडा के साथ घटी है। वहीं इस मामले में डॉक्टरों ने कहा कि दुलारचंद मुंडा पांच साल पहले हुई एक सड़क दुर्घटना के बाद से बोलने/चलने में असमर्थ थे। इस घटना के बाद उनकी हालत बहुत खराब हो गई थी। इस पर खुलासा करते हुए पीतरवार सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के प्रभारी चिकित्सक अलबेला केरकेट्टा ने कहा, ‘‘एक आंगनवाड़ी कार्यकर्ता ने चार जनवरी को मुंडा के आवास पर उन्हें कोविशील्ड का टीका लगाया। अगले दिन, परिवार वाले मुंडा को चलते/बोलते देख हैरान हो गए।’’ दुलारचंद मुंडा के साथ घटी इस घटना से गांव वालों के साथ डॉक्टर भी हैरान हैं।

जांच के लिए तीन सदस्यीय मेडिकल टीम का हुआ गठन 

मामले में बोलते हुए बोकारो के सिविल सर्जन डॉक्टर जितेन्द्र कुमार ने बताया कि इस ‘चमत्कारिक घटना’ की जांच के लिए तीन सदस्यीय मेडिकल टीम का गठन किया गया है। डॉक्टरों ने बताया कि रीढ़ की हड्डियों से जुड़ी समस्या के कारण मुंडा पिछले एक साल से पूरी तरह से बिस्तर पर पड़े थे। उन्होंने दावा किया कि कोविशील्ड टीके की पहली खुराक के बाद मुंडा ना सिर्फ चलने लगे हैं बल्कि बोलने भी लगे हैं। इस पर केरकेट्टा ने आगे कहा, ‘‘हमने उनकी रिपोर्ट देखी है। यह जांच का विषय है।’’ 

Web Title: news jharkhand man dularchand munda finds miracle after covid19 vaccine stay fit after long illness doctor investigate

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे