'ये समीर दाऊद वानखेड़े के निकाह की तस्वीर', नवाब मलिक का एक और सनसनीखेज ट्वीट

By विनीत कुमार | Published: November 22, 2021 09:09 AM2021-11-22T09:09:20+5:302021-11-22T09:16:41+5:30

एनसीपी नेता नवाब मलिक ने समीर वानखेड़े की पहली शादी की कथित तस्वीर शेयर की है। मलिक ने फोटो शेयर करते हुए लिखा कि इसमें वानखेड़े अपने निकाहनामे पर हस्ताक्षर करते नजर आ रहे हैं।

Nawab Malik shares photo claims its pic of Sameer Wankhede Nikah nama | 'ये समीर दाऊद वानखेड़े के निकाह की तस्वीर', नवाब मलिक का एक और सनसनीखेज ट्वीट

नवाब मलिक ने शेयर की समीर वानखेड़े की पहली शादी की कथित तस्वीर (फोटो- ट्विटर)

Next
Highlightsनवाब मलिक ने समीर वानखेड़े की पहली शादी की एक कथित तस्वीर शेयर की है।इस तस्वीर में वानखेड़े टोपी पहने हुए एक काजी के साथ बैठे हुए नजर आ रहे हैं।क्रूज शिप ड्रग्स मामले के बाद से मलिक लगातार समीर वानखेड़े पर हमलावर हैं और फर्जीवाड़े का आरोप लगाते रहे हैं।

मुंबई: महाराष्ट्र सरकार में मंत्री और एनसीपी नेता नवाब मलिक ने नारकोटिक्स कंट्रोल ऑफ ब्यूरो (एनसीबी) अधिकारी समीर वानखेड़े को लेकर एक और सनसनीखेज ट्वीट किया है। नवाब मलिक ने दरअसल एक और फोटो शेयर करते हुए अपने उस दावे की पुष्टि करने की कोशिश की है जिसमें कहा गया था कि समीर वानखेड़े बतौर मुस्लिम जन्में और सिविल सर्विस में आने के लिए जाति प्रमाम पत्र संबंधित दस्तावेजों में फर्जीवाड़ा किया।

मलिक ने समीर वानखेड़े की पहली शादी की एक कथित तस्वीर शेयर की है। इसमें वह टोपी पहने हुए संभवतः काज़ी के साथ दिख रहे हैं। मलिक ने तस्वीर को शेयर करते हुए लिखा, 'अपने 'निकाहनामा' पर हस्ताक्षर करते समीर दाउद वानखेड़े की तस्वीर।' 

बॉम्बे हाई कोर्ट के फैसले से पहले आया ट्वीट

नवाब मलिक का ये ट्वीट समीर वानखेड़े के पिता की अर्जी पर बॉम्बे हाई कोर्ट के फैसले से पहले आया है। पिता की ज्ञानदेव वानखेड़े की अर्जी में महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक के खिलाफ अंतरिम राहत की मांग के साथ ही कहा गया है कि मंत्री को समीर वानखेड़े और उनके परिवार के खिलाफ सोशल मीडिया पर अपमानजनक सामग्री डालने से रोका जाए। इस याचिका पर आज फैसला आ सकता है।

गौरतलब है कि नवाब मलिक कहते रहे हैं कि समीर वानखेड़े जन्म से मुस्लिम हैं। ज्ञानदेव वानखेड़े ने इसके जवाब में दस्तावेज पेश किए जिसमें उनके बेटे के जन्म का प्रमाण पत्र और उनकी जाति का प्रमाण पत्र शामिल है जिसमें कथित रूप से दिखाया गया है कि वास्तव में वह अनुसूचित जाति के हैं। 

हाई कोर्ट ने दोनों पक्षों को निर्देश दिया था कि 22 नवंबर को आदेश पारित हो जाने तक वे नया दस्तावेज पेश करने से बचें। वानखेड़े के पिता ने इस महीने की शुरुआत में हाई कोर्ट में मानहानि की याचिका दायर की थी। इसमें सवा करोड़ रुपये की क्षतिपूर्ति की भी मांग की गई है। बता दें कि पिछले महीने मुंबई से गोवा जा रही क्रूज शिप पर पार्टी के दौरान एनसीबी की छापेमारी के बाद से मलिक ने समीर वानखेड़े के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है।

Web Title: Nawab Malik shares photo claims its pic of Sameer Wankhede Nikah nama

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे