Nashik Oxygen tanker leak incident 11 people died FDA Minister Dr Rajendra Shingane | नासिक के अस्पताल में ऑक्सीजन टैंक लीक, वेंटिलेटर पर 22 मरीजों की मौत, देखें वीडियो
टोपे ने कहा, ‘‘जांच पूरी हो जाने के बाद हम बाद में एक बयान जारी करेंगे।’’

Highlightsटोपे ने इस घटना की जांच कराने की घोषणा की। नासिक नगर निगम द्वारा संचालित एक अस्पताल में इलाज किया जा रहा था।टैंक से रिसाव देखा गया जिससे मरीजों को ऑक्सीजन की आपूर्ति की जा रही थी।

नासिकः महाराष्ट्र के नासिक में दर्दनाक हादसा हो गया। नासिक जिलाधिकारी सूरज मंधारे ने कहा कि अस्पताल में रिसाव के बाद ऑक्सीजन आपूर्ति बाधित होने की वजह से 22 रोगियों की मौत हो गई।

महाराष्ट्र के नासिक में कोविड-19 रोगियों के एक अस्पताल में बुधवार को भंडारण संयंत्र से लीकेज के बाद ऑक्सीजन की आपूर्ति बाधित होने से कम से कम 22 मरीजों की मृत्यु हो गयी। जिलाधिकारी ने  जानकारी दी। उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘मौजूदा जानकारी के अनुसार जाकिर हुसैन निगम अस्पताल में ऑक्सीजन की आपूर्ति बाधित होने से 22 लोगों की मृत्यु हो गयी।

डीएम ने कहा कि मामले की जांच जारी

ये रोगी वेंटिलेटर और ऑक्सीजन पर थे। ऑक्सीजन आपूर्ति टैंक में लीकेज के बाद आपूर्ति बाधित हो गयी।’’ मंधारे ने कहा कि नगर निगम ने तत्काल दूसरी जगहों से ऑक्सीजन सिलेंडर लाकर लगाये हैं जहां ऑक्सीजन की जरूरत अपेक्षाकृत कम थी। डीएम ने कहा कि मामले की जांच जारी है। 

बुधवार को यहां जाकिर हुसैन अस्पताल में ऑक्सीजन टैंक लीक कर गया, जिसके बाद हड़कंप मच गया। नासिक के इस दर्दनाक हादसे में 22 मरीजों की मौत हो गई है। एफडीए मंत्री डॉ. राजेंद्र शिंगाने ने कहा कि यह एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना है। हम एक विस्तृत रिपोर्ट प्राप्त करने की कोशिश कर रहे हैं। हमने जांच का आदेश दिया है। जो जिम्मेदार हैं, उन्हें बख्शा नहीं जाएगा। 

उन्होंने कहा कि इसका कारण एक टैंक से ऑक्सीजन रिसाव हो सकता है। टोपे ने इस घटना की जांच कराने की घोषणा की। इन कोविड-19 मरीजों का नासिक नगर निगम द्वारा संचालित एक अस्पताल में इलाज किया जा रहा था। 

उस टैंक से रिसाव देखा गया जिससे मरीजों को ऑक्सीजन की आपूर्ति की जा रही थी। माना जा रहा है कि बाधित आपूर्ति के कारण अस्पताल में 11 रोगियों की मौत हो गयी।’’ उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र सरकार इस मामले की गहन जांच करेगी। टोपे ने कहा, ‘‘जांच पूरी हो जाने के बाद हम बाद में एक बयान जारी करेंगे।’’

टैंक से ऑक्सीजन का कथित तौर पर रिसाव होने का एक वीडियो सुबह से ही सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। कुछ मृत कोरोना मरीजों के रिश्तेदारों ने आरोप लगाया है कि "ऑक्सीजन की कम आपूर्ति" के कारण ये मौतें हुयीं। 

हाल ही में शहडोल जिले के एक सरकारी अस्पताल में कथित रूप से चिकित्सकीय ऑक्सीजन आपूर्ति का दबाव कम हो जाने से कोविड-19 सेंटर के गहन चिकित्सा कक्ष (आईसीयू) वार्ड में छह मरीजों की मौत हो गई। यह घटना शहडोल जिला मुख्यालय से करीब दो किलोमीटर दूर एक सरकारी मेडिकल कॉलेज में शनिवार-रविवार की बीच रात को हुई।

Web Title: Nashik Oxygen tanker leak incident 11 people died FDA Minister Dr Rajendra Shingane

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे