मप्र : कांग्रेस ने उसके कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज का आरोप लगाया, पुलिस ने किया इनकार

By भाषा | Published: November 25, 2021 10:28 PM2021-11-25T22:28:29+5:302021-11-25T22:28:29+5:30

MP: Congress accused its workers of lathi-charge, police denied | मप्र : कांग्रेस ने उसके कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज का आरोप लगाया, पुलिस ने किया इनकार

मप्र : कांग्रेस ने उसके कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज का आरोप लगाया, पुलिस ने किया इनकार

Next

भोपाल, 25 नवंबर कांग्रेस की मध्य प्रदेश इकाई ने पुलिस पर शिक्षण नीतियों में विसंगतियों एवं बढ़ती बेरोजगारी के खिलाफ यहां मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निवास का बृहस्पतिवार को घेराव करने जा रहे भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन (भाराछासं) के कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज करने का आरोप लगाया।

कांग्रेस ने दावा किया कि इस लाठीचार्च में एक दर्जन भाराछासं के कार्यकर्ता घायल हो गए।

हालांकि, भोपाल जोन के उप पुलिस महानिरीक्षक इरशाद वली ने कांग्रेस के आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज नहीं किया। उन्होंने कहा कि अगर उनके पास सबूत हैं तो उन्हें घायलों की तस्वीरें दिखानी चाहिए।

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार पुलिस ने उस वक्त लाठीचार्ज किया, जब लिंक रोड एक स्थित रेडक्रॉस अस्पताल के पास लगे बैरिकेड पर प्रदर्शनकारियों को रोके जाने पर कुछ लोगों ने पुलिसकर्मियों पर कुछ पत्थर फेंके। रेडक्रॉस अस्पताल मुख्यमंत्री निवास से करीब चार किलोमीटर दूर है।

इसी बीच, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने ट्वीट किया, ‘‘आदिवासी छात्रों की रुकी स्कालरशीप जारी करने एवं रोज़गार देने की मांग को लेकर एवं शिक्षा बचाओ-देश बचाओ अभियान के तहत आज मध्य प्रदेश के छात्रों ने एनएसयूआई के बैनर तले मुख्यमंत्री आवास के घेराव का कार्यक्रम आयोजित किया था।’’

उन्होंने लिखा, ‘‘शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे हजारों छात्रों पर शिवराज सरकार के इशारे पर पुलिस ने बर्बरतापूर्वक लाठीचार्ज किया, उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। इस लाठीचार्ज में कई छात्र एवं एनएसयूआई के पदाधिकारी घायल हुए हैं।’’

कमलनाथ ने कहा, ‘‘सरकार छात्रों को रोजगार तो दे नहीं रही, उनकी मांग मान तो नहीं रही लेकिन उन पर बर्बर तरीके से लाठियाँ जरूर बरसा रही है। यह सरकार का तानाशाही रवैया है। भाराछासं के कार्यकर्ता एवं छात्र ऐसे किसी दमन से झुकने वाले नहीं हैं। छात्र हित में उनका संघर्ष सतत जारी रहेगा।’’

हबीबगंज पुलिस थाने के निरीक्षक बी एस प्रजापति ने बताया कि पुलिस ने किसी को गिरफ्तार नहीं किया। दरअसल, प्रदर्शनकारियों ने गिरफ्तारियां दीं । उन्होंने कहा कि उनकी संख्या की गणना की जा रही है।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: MP: Congress accused its workers of lathi-charge, police denied

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे