MP Cong After Collapse of Coalition Govt in Karnataka says BJP Trying Same Here | कमलनाथ के मंत्री बोले, ये कर्नाटक नहीं है, मध्य प्रदेश में हॉर्स ट्रेडिंग के लिए बीजेपी को लेने होंगे सात जन्म
कांग्रेस नेता जीतू पटवारी

Highlightsबीजेपी के वरिष्ठ नेता और पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कांग्रेस की सरकार उनकी वजह से ही गिरती है और वह बेवजह बीजेपी पर आरोप लगाते हैं। कांग्रेस नेता सिद्धारमैया ने कहा है, मैं फिर से कहना चाहूंगा कि जो लोग 'ऑपरेशन कमल' में शामिल हुए हैं, उन्हें दोबारा हमारी पार्टी में कभी शामिल नहीं किया जाएगा। चाहे आसमान ही क्यों ना गिर पड़े।

कर्नाटक की कांग्रेस-जद(एस) गठबंधन सरकार विश्वासमत खोने के बाद गिर गई है। कर्नाटक में एच डी कुमारस्वामी की सरकार गिरने पर मध्य प्रदेश के मंत्री और कांग्रेस नेता जीतू पटवारी ने मध्य प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर सरकार गिराने की कोशिश करने का आरोप लगाया है। जीतू पटवारी ने कहा है कि बीजेपी मध्य प्रदेश में कांग्रेस सरकार गिराने के लिए हर कोशिश कर चुकी है, लेकिन यह कुमारस्वामी की सरकार नहीं है, यह कमलनाथ सरकार है। कमलनाथ सरकार में हॉर्स ट्रेडिंग के लिए बीजेपी को सात जन्म लेने पड़ेंगे। 

बीजेपी के वरिष्ठ नेता और पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कांग्रेस की सरकार उनकी वजह से ही गिरती है और वह बेवजह बीजेपी पर आरोप लगाते हैं। अगर कर्नाटक की तरह मध्य प्रदेश में भी कांग्रेस की सरकार गिरती है तो वो उनका ही दोष होगा। कांग्रेस पार्टी के खुद आंतरिक कलह खत्म नहीं होते..इसी वजह से उनकी सरकार पर खतरा है। अगर कांग्रेस से सपा और बसपा अपना समर्थन वापस लेती है तो हम इसमें क्या कर सकते हैं। 

बागी विधायकों को दोबारा मौका नहीं दिया जायेगा: सिद्धारमैया

कांग्रेस नेता सिद्धारमैया ने कहा है, मैं फिर से कहना चाहूंगा कि जो लोग 'ऑपरेशन कमल' में शामिल हुए हैं, उन्हें दोबारा हमारी पार्टी में कभी शामिल नहीं किया जाएगा। चाहे आसमान ही क्यों ना गिर पड़े।

बीजेपी को ये खेल भारी पड़ेगा:  अशोक गहलोत

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कर्नाटक के राजनीतिक घटनाक्रम पर टिप्पणी करते हुए मंगलवार को कहा कि जनता सबकुछ देख रही है और आने वाले समय में यह भाजपा को भारी पड़ेगा। गहलोत से इस घटनाक्रम के बारे में पूछे जाने पर मंगलवार रात यहां उन्होंने कहा, ‘‘ये घटनाक्रम लंबे समय से चल रहा है, पूरा देश देख रहा है किस प्रकार मोदीजी को भारी बहुमत मिला। लेकिन आम जनता को उम्मीद नहीं थी कि जीतने के बावजूद राजग सरकार इस प्रकार की हरकत करेगा।’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘कर्नाटक में आप तमाशा देख ही रहे हैं। जो कुछ हो रहा है यह जनता के जहन में बैठ रहा है और आने वाले वक्त में उन्हें ये भारी पड़ेगा। इनकी खुद की पार्टी में बगावत होगी, ये मैं कह सकता हूं। समय का इंतजार कीजिए। अंतिम विजय सत्य की होती है।’’ 

गहलोत ने कहा, ‘‘ये लोग लोकतंत्र को खत्म करने का खेल खेल रहे हैं। इनका बस चले तो हिंदुस्तान भर में यही काम करेंगे और कोई काम तो है नहीं इनके पास। देश की अर्थव्यवस्था चौपट हो रही है, युवाओं में आक्रोश पैदा हो रहा है। किसान आत्महत्या कर रहे हैं। इन्हें उसकी चिंता नहीं है।’’

अब पांच राज्यों-केंद्रशासित प्रदेशों में ही बची कांग्रेस की सरकार

 कर्नाटक विधानसभा में एच डी कुमारस्वामी नीत सरकार का विश्वास प्रस्ताव गिरने के साथ ही मंगलवार को कांग्रेस के हाथ से एक और राज्य चला गया। अब सिर्फ चार राज्यों एवं एक केंद्रशासित प्रदेश में ही उसकी सरकारें बची हैं। कांग्रेस अब पंजाब, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान और पुडुचेरी में सत्तासीन है।

कर्नाटक में गठबंधन सरकार गिरने साथ ही दक्षिण भारत में कांग्रेस किसी भी राज्य में सत्ता में नहीं रह गई है, हालांकि केंद्रशासित पुडुचेरी में जरूर उसकी सरकार है। पिछले साल कर्नाटक में जद(एस) के साथ मिलकर सरकार बनाते हुए कांग्रेस ने राज्य में अपनी सत्ता बरकरार रखी थी। इसके कुछ महीने बाद ही वह मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान जैसे हिंदीभाषी क्षेत्र के तीन महत्वपूर्ण राज्यों में सरकार बनाने में सफल रही थी।

इस साल के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को 2014 के आम चुनाव की तरह एक बार फिर करारी हार का सामना करना पड़ा। इसके करीब दो महीने बाद ही कर्नाटक में सरकार का गिरना पार्टी के लिए बहुत बड़ा झटका माना जा रहा है। उधर, भाजपा और उसके सहयोगी दल इस वक्त देश के कुल 16 राज्यों में सत्तासीन हैं, जिनमें राजनीतिक रूप से बेहद अहम उत्तर प्रदेश और बिहार भी शामिल हैं। कर्नाटक में सरकार बनाने की स्थिति में पार्टी सहयोगी दलों के साथ कुल 17 राज्यों में सत्तासीन हो जाएगी।


Web Title: MP Cong After Collapse of Coalition Govt in Karnataka says BJP Trying Same Here
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे