Highlightsइस रिपोर्ट की मानें तो हर साल 1 लाख से अधिक शिशुओं की गंभीर वायु प्रदूषण की वजह से मौत होती है।साल 2019 में भारत, बांग्लादेश, पाकिस्तान और नेपाल समेत दक्षिण एशियाई देश पीएम-2.5 के स्तर के मामले में शीर्ष 10 पर रहे हैं।

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली समेत देश के कई शहरों में एक बार फिर से वायु प्रदूषण का स्तर बढ़ता जा रहा है। वायु प्रदूषण को लेकर एक हैरान करने वाली रिपोर्ट सामने आई है। स्टेट ऑफ ग्लोबल एयर 2020 रिपोर्ट में बताया गया है कि 2019 में भारत में करीब 1.16 लाख बच्चों की मौत गंभीर वायु प्रदूषण की वजह से हुई है। 

इस रिपोर्ट में सबसे हैरान करने वाली बात तो यह है कि अधिकांश शिशुओं की मौत जन्म लेने के माह भर के अंदर वायु प्रदूषण की वजह से हो जा रही है। इसके अलावा, रिपोर्ट की मानें तो प्रदूषण के कारण बच्चों को मां के पेट में ही तकलीफ होना शुरू हो जाती है। जन्म लेने के बाद गंभीर प्रदूषण का सामना ये बच्चे नहीं कर पाते हैं और इनकी मौत हो जाती है।  

प्रचंड वायुप्रदूषणामुळे भारतीयांचे सरासरी वय होतेय दीड वर्षाने कमी - Marathi News | The average age of Indians due to heavy air pollution is less than one and a half years |

स्टेट ऑफ ग्लोबल एयर 2020 रिपोर्ट ने मंगलवार को एक रिपोर्ट जारी कर बताया है कि देश में भारी संख्या में नवजात व शिशुओं की मौत वायु प्रदूषण की वजह से हो रही है। इस रिपोर्ट की मानें तो हर साल 16.70 लाख शिशुओं की मौत होती है, जिसमें से एक बड़ा हिस्सा प्रदूषण के कारण होने वाली मौतों का है, जोकि बेहद दुखद है।  

वायू प्रदूषणामुळे घटले आयुष्य; आशिया-आफ्रिकेला धोका - Marathi News | Life decreased due to air pollution; Asia-Africa risk | Latest lifeline News at Lokmat.com

रिपोर्ट के अनुसार साल 2019 में इंडिया, बांग्लादेश, पाकिस्तान और नेपाल समेत दक्षिण एशियाई देश पीएम-2.5 के स्तर के मामले में शीर्ष 10 पर रहे हैं। घरेलू प्रदूषण भले ही बीते सालों में कम हुआ है, लेकिन रिपोर्ट के अनुसार बाह्य प्रदूषण के कारक पीएम 2.5 में वृद्धि हुई है। 

Gurugram makes action plan to curb air pollution | english.lokmat.com

इसके साथ ही रिपोर्ट में इस बात का बी उल्लेख है दो तरह के प्रदूषण मुख्यतौर पर होते हैं। एक घरेलू प्रदूषण व दूसरा वायु में मौजूद छोटे कण पीएम 2.5 की मात्रा बढ़ने की वजह से होती है। पिछले कुछ सालों में पीएम 2.5 की मात्रा बढ़ने से बड़ी संख्या में नवजातों की मौत हो रही है।

Web Title: More than one lakh infants died last year due to severe air pollution in India, Learn surprising things in the report
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे