Modi government strikes 'surgical strike' on farmers by banning onion exports: NCP | प्याज के निर्यात पर प्रतिबंध लगाकर मोदी सरकार ने किसानों पर ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ की: राकांपा
केन्द्र ने सोमवार को तत्काल प्रभाव से प्याज की विभिन्न किस्मों के निर्यात पर प्रतिबंध लगा दिया था।

Highlightsराकांपा ने आरोप लगाया कि केन्द्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने प्याज के निर्यात पर प्रतिबंध लगाकर किसानों पर ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ की है। राकांपा ने इस कदम को वापस लिये जाने की मांग की है।

मुंबई: राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) ने बृहस्पतिवार को आरोप लगाया कि केन्द्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने प्याज के निर्यात पर प्रतिबंध लगाकर किसानों पर ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ की है। राकांपा ने इस कदम को वापस लिये जाने की मांग की है। पार्टी के प्रवक्ता महेश तापसे ने इस फैसले को ‘तुगलकी’ करार दिया और कहा कि यह ऐसे समय में प्याज उत्पादकों को अपने उत्पाद की अच्छी कीमत पाने से वंचित कर देगा जब अंतरराष्ट्रीय बाजार में इसकी मांग बढ़ रही है।

केन्द्र ने सोमवार को तत्काल प्रभाव से प्याज की विभिन्न किस्मों के निर्यात पर प्रतिबंध लगा दिया था। तापसे ने यहां पत्रकारों से बातचीत में आरोप लगाया कि प्याज के निर्यात पर प्रतिबंध लगाकर मोदी सरकार ने महाराष्ट्र और देश के अन्य स्थानों पर किसानों पर सर्जिकल स्ट्राइक की है।

राकांपा नेता ने कहा कि पार्टी अध्यक्ष शरद पवार ने मंगलवार को केन्द्रीय वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल के समक्ष अपनी चिंताओं को रखा था। तापसे ने कहा कि गोयल ने पवार के जरिये किसानों को आश्वस्त किया था कि केन्द्र इस मुद्दे पर सकारात्मक कदम उठायेगा।

उन्होंने कहा कि यह फैसला लेने के चार दिन बाद भी सरकार ने अब तक इस पर फिर से विचार नहीं किया है। उन्होंने कहा, ‘‘इसी का नतीजा है कि अब यह मुद्दा तूल पकड़ता जा रहा है। उन्होंने राज्य में किसानों द्वारा इस मुद्दे पर विरोध प्रदर्शन का जिक्र किया।’’ तापसे ने दावा किया कि कोविड-19 महामारी के कारण प्याज का निर्यात 13 प्रतिशत तक कम हुआ है और इससे लगभग 1,150 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। 

Web Title: Modi government strikes 'surgical strike' on farmers by banning onion exports: NCP
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे