Mehbooba criticized the dismissal of a teacher for anti-state activities | महबूबा ने राज्य विरोधी गतिविधियों को लेकर की गयी एक शिक्षक की बर्खास्तगी की आलोचना की
महबूबा ने राज्य विरोधी गतिविधियों को लेकर की गयी एक शिक्षक की बर्खास्तगी की आलोचना की

श्रीनगर, तीन मई पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने कथित राज्य विरोधी गतिविधियों को लेकर जम्मू कश्मीर में एक शिक्षक की बर्खास्तगी की सोमवार को आलोचना की और कहा कि सरकार ने इस महामारी के दौरान अपनी प्राथमिकता गलत जगह पर लगा दी है।

उन्होंने जम्मू कश्मीर सरकार के सामान्य प्रशासन विभाग के तीन दिन पुराने पत्र को भी पोस्ट किया। इसी विभाग ने कुपवाड़ा जिले के सरकारी शिक्षक इदरीस जान को बर्खास्त किया है।

जान बर्खास्त किया जाने वाला पहला कर्मचारी है। उसे इस साल 30 अप्रैल को बर्खास्त किया गया था। उससे पहले प्रशासन ने एक समिति बनायी थी जिसे सरकारी कर्मचारियों पर लगे राज्य-विरोधी गतिविधियों के आरोपों की जांच करने एवं दोषी पाए जाने पर उनकी बर्खास्ती की सिफारिश करने का अधिकार दिया था।

महबूबा ने ट्वीट किया, ‘‘ महामारी के बीच में भारत सरकार को कश्मीर में मामूली आधारों पर सरकारी कर्मचारियों को बर्खास्त करने के बजाय लोगों की जान बचाने पर ध्यान देना चाहिए। इसमें कोई आश्चर्य नहीं है कि उनकी गलत प्राथमिकताओं ने भारत को श्मशान घाट एवं कब्रिस्तान में बदल दिया है। जीवित व्यक्ति परेशान होता जा रहा है और मृत व्यक्ति को गरिमा से वंचित रखा जाता है।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: Mehbooba criticized the dismissal of a teacher for anti-state activities

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे