Leap Day 2020: Why are there 28 or 29 days in February? Learn the scientific region behind it | Leap Year Day 2020: काफी दिलचस्प है 29 फरवरी का दिन, जानिए 4 साल में एक बार क्यों आता है
Leap Year Day 2020: काफी दिलचस्प है 29 फरवरी का दिन, जानिए 4 साल में एक बार क्यों आता है

Highlightsआमतौर पर एक वर्ष में 365 दिन होते हैं, लेकिन एक लीप ईयर में 366 दिन होते हैं।पृथ्वी सूर्य की एक परिक्रमा 365 दिन और 6 घंटे में पूरी करती है।

Leap Year 2020: क्या आप जानते हैं कि फरवरी का महीना 28 या 29 दिन का ही क्यों होता है? इस साल फरवरी का महीना 29 दिनों का क्यों है? इन सारे सवालों के जबाव आपको इस आर्टिकल में मिलेंगे। दरअसल, फरवरी में 28 या 29 दिनों के पीछे रोमन किंग न्यूमा पोम्पीलियस का हाथ है।

रोमन कैलेंडर से कनेक्शन
हम जो कैलेंडर यूज करते हैं वो रोमन कैलेंडर पर आधारित है। पुराने रोमन कैलेंडर में एक साल में सिर्फ 10 महीने हुआ करते थे जिसमें 304 दिन शामिल थे। लेकिन बाद में इसमें दो और महीने जोड़ दिए गए जिनका नाम जनवरी और फरवरी रखा गया। ऐसा करने से पूरा साल 12 महीने का हो गया। 

ऐसे आता है लीप ईयर
पृथ्वी सूर्य की एक परिक्रमा 365 दिन और 6 घंटे में पूरी करती है। इस तरह हर 4 वर्ष में एक दिन बढ़ जाता है। जो 4 वर्ष के बाद पड़ने वाले वर्ष में जुड़ जाता है। इस तरह हर 4 वर्ष पर लीप वर्ष मनाया जाता है। आमतौर पर एक वर्ष में 365 दिन होते हैं, लेकिन एक लीप ईयर में 366 दिन होते हैं।

प्रभु यीशु से कनेक्शन
ऐसा माना जाता है कि प्रभु यीशु के जन्म वर्ष के चार वर्ष बाद पहला लीप वर्ष पड़ा था। उस समय से हर चार वर्ष बाद लीप वर्ष पड़ता है। हर चार वर्ष पर लीप वर्ष मनाया जाता है। अगला लीप वर्ष 2024 में मनाया जाएगा।

खगोलीय इतिहास दिलचस्प
29 फरवरी का खगोलीय इतिहास दिलचस्प है, लेकिन इस दिन जन्म लेने वालों को हर साल जन्मदिन न मना पाने का मलाल सालता रहता है। उनकी उम्र तो हर साल बढ़ती जाती है, लेकिन जन्मदिन तो वह हर चार साल में एक ही बार मना पाते हें। 

English summary :
Leap Day 2020, Leap Year Day 29 February 2020 Images, Quotes, History in Hindi, Google Doodle: Why we have Leap Years, History of 29 Feb leap day in Hindi - Leap Year, Leap Day 29 February 2020 Google Doodle Do you know why the month of February is 28 or 29 days only? Why is the month of February this year 29 days? You will find the answers to all these questions in this article. In fact, Roman King Numa Pompilius is behind 28 or 29 days in February. Connection to the Roman calendar The calendar we use is based on the Roman calendar. In the old Roman calendar, there were only 10 months a year, which included 304 days. But it was added two more months later, named January and February. By doing so, the whole year has been 12 months. Here comes the leap year The earth completes one orbit of the sun in 365 days and 6 hours. In this way, every 4 years one day increases. Which is added in the year after 4 years. In this way the leap year is celebrated every 4 years. There are usually 365 days a year, but one leap year has 366 days. Connection to the Lord Jesus It is believed that the first leap year occurred four years after the birth of the Lord Jesus. Every four years since that time, there is a leap year. Leap year is celebrated every four years. The next leap will be celebrated in the year 2024.


Web Title: Leap Day 2020: Why are there 28 or 29 days in February? Learn the scientific region behind it
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे