तृणमूल कांग्रेस के शहीद दिवस कार्यक्रम में विपक्ष के नेता दिल्ली से शामिल हुए

By भाषा | Published: July 21, 2021 09:36 PM2021-07-21T21:36:09+5:302021-07-21T21:36:09+5:30

Leaders of Opposition from Delhi join Trinamool Congress's Martyrs' Day program | तृणमूल कांग्रेस के शहीद दिवस कार्यक्रम में विपक्ष के नेता दिल्ली से शामिल हुए

तृणमूल कांग्रेस के शहीद दिवस कार्यक्रम में विपक्ष के नेता दिल्ली से शामिल हुए

Next

नयी दिल्ली, 21 जुलाई कांग्रेस, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा), राष्ट्रीय जनता दल (राजद) और द्रमुक समेत विपक्षी दलों के नेता दिल्ली से तृणमूल कांग्रेस शहीद दिवस कार्यक्रम में शामिल हुए जहां पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भाषण का लाइव प्रसारण हुआ जिसमें उन्होंने भाजपा विरोधी दलों से एकजुट होने का आह्वान किया।

शहीद दिवस रैली को कोलकाता से ऑनलाइन संबोधित करते हुए बनर्जी ने नरेंद्र मोदी सरकार पर देश को ‘निगरानी वाला राष्ट्र’ बनाने का आरोप लगाया और ‘‘अधिपत्यवादी’’ भाजपा शासन को 2024 लोकसभा चुनाव में सत्ता से बाहर करने के लिए विपक्षी एकता का आह्वान किया।

तृणमूल कांग्रेस के वार्षिक राजनीतिक कार्यक्रम में पार्टी प्रमुख के संबोधन को सुनने के लिए कोलकता में भारी भीड़ एकत्रित होती है। लेकिन इस बार जो कार्यक्रम हुआ उसका पंजाब, त्रिपुरा, तमिलनाडु, नयी दिल्ली, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, गुजरात और उत्तर प्रदेश में लाइव प्रसारण हुआ।

कोलकाता में 1993 में आज के दिन तत्कालीन वाम मोर्चा सरकार के खिलाफ रैली में जमा हुए युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं पर पुलिस गोलीबारी में 13 लोगों की मौत हो गयी थी। बनर्जी उस समय कांग्रेस में थीं। उन 13 कार्यकर्ताओं की याद में तृणमूल कांग्रेस हर साल आज के दिन शहीद दिवस मनाती है।

कांग्रेस के पी. चिदंबरम और दिग्विजय सिंह, द्रमुक के तिरूचि शिवा, राकांपा के शरद पवार और सुप्रिया सुले, राजद के मनोज झा समेत विपक्षी दलों के नेता तृणमूल के शहीद दिवस कार्यक्रम में दिल्ली से शामिल हुए।

दिल्ली में ममता के भाषण का प्रसारण एक बड़े पर्दे पर किया गया जो कांस्टीट्यूशन क्लब में लगाया गया था। संसद के मानसून सत्र में शामिल होने के लिए दिल्ली आए हुए पार्टी के सांसद भी इस कार्यक्रम में शरीक हुए।

तृणमूल ने कार्यक्रम में अपने मुखपत्र ‘जागो बांग्ला’ को नए नारे ‘एबार शपथ, चलो दिल्ली’ के साथ फिर से लांच किया।

ममता बनर्जी के 25 जुलाई को चार दिन के लिए दिल्ली आने की संभावना है।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: Leaders of Opposition from Delhi join Trinamool Congress's Martyrs' Day program

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे