सीएम येदियुरप्पा पर संकट, बीजेपी विधायकों को अरुण सिंह ने बुलाया, मंत्री ईश्वरप्पा बोले- मुख्यमंत्री को हटाना चाहते हैं कुछ लोग

By सतीश कुमार सिंह | Published: June 16, 2021 05:31 PM2021-06-16T17:31:20+5:302021-06-16T19:10:38+5:30

कर्नाटक भाजपा अध्यक्ष नलीन कुमार कटील ने राज्य में नेतृत्व परिवर्तन की संभावना से बुधवार को एक बार फिर इनकार कर दिया।

Karnataka cm BS Yediyurappa BJP may remove 50 MLAs gather at his residence bjp Arun Singh arrive in Bengaluru | सीएम येदियुरप्पा पर संकट, बीजेपी विधायकों को अरुण सिंह ने बुलाया, मंत्री ईश्वरप्पा बोले- मुख्यमंत्री को हटाना चाहते हैं कुछ लोग

शुक्रवार को प्रदेश भाजपा की कोर कमेटी को संबोधित करेंगे। (फाइल फोटो)

Next
Highlightsभाजपा के राष्ट्रीय महासचिव एवं कर्नाटक प्रभारी अरुण सिंह का राज्य का तीन दिवसीय दौरा शुरू हुआ है।ग्रामीण विकास मंत्री के एस ईश्वरप्पा ने यह स्वीकार किया कि पार्टी के भीतर के कुछ लोग चाहते हैं।ईश्वरप्पा ने 31 मार्च को राज्यपाल वाजूभाई वाला से मुलाकात करके उन्हें पांच पन्नों का एक पत्र सौंपा था।

बेंगलुरुःउत्तर प्रदेश के बाद कर्नाटक भाजपा में संकट के बादल छा गए हैं। भाजपा महासचिव और कर्नाटक के प्रभारी अरुण सिंह ने भाजपा विधायकों को कल मीटिंग के लिए बुलाया है।

इस बीच कांग्रेस ने भाजपा सरकार पर हमला बोल दिया है। कर्नाटक में नेतृत्व परिवर्तन की अटकलों के बीच, मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा के सचिव और भाजपा विधायक रेणुकाचार्य ने लगभग 50 विधायकों से संपर्क किया और उन्हें अपने आवास पर इकट्ठा होने के लिए कहा। कर्नाटक भाजपा प्रभारी अरुण सिंह भी तीन दिवसीय दौरे पर बेंगलुरु पहुंचेंगे।

हालांकि, विधायकों ने इस प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया और कहा कि वे ताकत के इस प्रदर्शन का हिस्सा नहीं होंगे। इस असंतोष को दूर करने के लिए राज्य भाजपा ने 15 सदस्यीय समन्वय समिति का गठन किया है, जो विधायकों से बात करेगी। 

येदियुरप्पा के नेतृत्व में राज्य सरकार अच्छा काम कर रही

कर्नाटक भाजपा अध्यक्ष नलीन कुमार कटील ने राज्य में नेतृत्व परिवर्तन की संभावना से बुधवार को एक बार फिर इनकार कर दिया। हालांकि वरिष्ठ मंत्री के एस ईश्वरप्पा ने कहा कि पार्टी के भीतर का एक धड़े का मानना है कि मुख्यमंत्री येदियुरप्पा को हटाया जाना चाहिए।

कर्नाटक भाजपा के राष्ट्रीय प्रभारी महासचिव अरुण सिंह ने बुधवार को कहा कि पार्टी की राज्य इकाई एकजुट है और मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा के नेतृत्व में राज्य सरकार अच्छा काम कर रही है। राज्य के तीन दिवसीय दौरे पर आए सिंह ने येदियुरप्पा को हटाने के लेकर कुछ वर्गों के में चल रही अटकलों के बीच नेतृत्व में बदलाव को लेकर प्रत्यक्ष रूप से कोई बयान नहीं दिया और कहा कि वह इस मुद्दे पर पहले ही बोल चुके हैं। सिंह ने एक सवाल के जवाब में कहा, ''हमारे पार्टी कार्यकर्ता, मंत्री और विधायक एकजुट हैं। किसी तरह का कोई मतभेद नहीं है।''

सिंह ने शहर में आने पर पत्रकारों से कहा कि उन्होंने पार्टी विधायकों से कहा है कि वे मीडिया में कोई बयान न दें और अगर उनकी कुछ चिंताएं हैं तो व्यक्तिगत रूप से नेतृत्व से बात करें। उन्होंने विधायकों से कहा, ''अपने निर्वाचन क्षेत्र में काम करें। अपने लोगों के लिये काम करें और पार्टी के कार्यों को आगे ले जाएं।''

सिंह ने कहा कि येदियुरप्पा के नेतृत्व में अच्छा काम हो रहा है। नेतृत्व में बदलाव के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि ''इस पर मुझे जो कहना था, कई बार कह चुका हूं। बार-बार इस बारे में पूछने का कोई मतलब नहीं है।'' सिंह ने हाल ही में मुख्यमंत्री को बदलने से इनकार कर दिया था और कहा था कि येदियुरप्पा शीर्ष पद पर बने रहेंगे। पिछले कुछ समय से अटकलें लगाई जा रही हैं कि सत्तारूढ़ भाजपा का एक वर्ग येदियुरप्पा हटाने की कोशिश कर रहा है।

मुख्यमंत्री येदियुरप्पा अगले दो साल तक पद पर बने रहेंगे

नेतृत्व परिवर्तन की अटकलों के बीच बुधवार को भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव एवं कर्नाटक प्रभारी अरुण सिंह का राज्य का तीन दिवसीय दौरा शुरू हुआ है। कतील ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘नेतृत्व परिवर्तन का तो सवाल ही नहीं उठता। मुख्यमंत्री येदियुरप्पा अगले दो साल तक पद पर बने रहेंगे।’’

ग्रामीण विकास मंत्री के एस ईश्वरप्पा ने यह स्वीकार किया कि पार्टी के भीतर के कुछ लोग चाहते हैं कि मुख्यमंत्री को हटाया जाना चाहिए। उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा, ‘‘आप जो कह रहे हैं वह सही है। कुछ लोगों का कहना है कि मुख्यमंत्री को बदला जाना चाहिए जबकि कुछ का कहना है कि उन्हें (येदियुरप्पा को) मुख्यमंत्री बने रहना चाहिए। कुछ लोग दिल्ली से होकर आए हैं।’’

उन्होंने उम्मीद जताई कि सारे मुद्दे सुलझा लिए जाएंगे क्योंकि यहां के दौरे पर आए सिंह मंत्रियों, विधायकों और सांसदों से मिलकर उनकी राय जानेंगे और इस बारे में केंद्रीय नेतृत्व को अवगत करवाएंगे। भाजपा की राज्य इकाई के पूर्व अध्यक्ष ईश्वरप्पा ने 31 मार्च को राज्यपाल वाजूभाई वाला से मुलाकात करके उन्हें पांच पन्नों का एक पत्र सौंपा था।

जो मुख्यमंत्री की ‘‘गंभीर त्रुटियों और प्रशासन चलाने के तानाशाही भरे रवैये’’ के बारे में था। पार्टी सूत्रों ने बताया कि तीन दिवसीय दौरे पर आए सिंह आज शाम मंत्रियों से मुलाकात करेंगे और अगले दो दिन वह विधायकों और मंत्रियों से मुलाकात करेंगे। शुक्रवार को वह राज्य भाजपा की कोर समिति की बैठक में शामिल होंगे।

कांग्रेस ने अरुण सिंह के कर्नाटक दौरे पर निशाना साधा

भाजपा महासचिव और कर्नाटक के प्रभारी अरुण सिंह के राज्य के दौरे पर निशाना साधते हुए कांग्रेस ने बुधवार को कहा कि लोगों की सेवा करने की बजाय वह पार्टी में अंदरूनी कलह को सुलझाने आए हैं। सिंह की बुधवार को बी एस येदियुरप्पा मंत्रिमंडल के मंत्रियों के साथ बैठक करने वाले हैं। वह तीन दिवसीय दौरे पर बेंगलुरु आए हैं और इस दौरान वह बृहस्पतिवार को सत्ताधारी दल के विधायकों के साथ चर्चा करेंगे तथा शुक्रवार को प्रदेश भाजपा की कोर कमेटी को संबोधित करेंगे।

कर्नाटक में नेतृत्व परिवर्तन की अटकलों के बीच हाल ही में सिंह ने मुख्यमंत्री को बदलने की खबरों का खंडन किया था और कहा था कि येदियुरप्पा पद पर बने रहेंगे। माना जा रहा है कि भाजपा का एक वर्ग येदियुरप्पा को पद से हटाने का दबाव बना रहा है।

सिंह के दौरे से पहले कर्नाटक कांग्रेस ने ट्वीट किया, “श्री अरुण सिंह, आप यहां ‘प्लेटफॉर्म पंचायत बैठक’ के लिए आ रहे हैं लेकिन आपके पास लोगों की शिकायतें सुनने का समय नहीं है? सत्ता में आने के पहले दिन से ही, यह सरकार अपनी उपलब्धियों के कारण नहीं बल्कि अंतर्कलह की वजह से सुर्खियों में रही है।” विपक्षी दल ने आरोप लगाया कि जब राज्य में गंभीर समस्याएं थीं तब भारतीय जनता पार्टी की अंदरूनी कलह चरम पर थी।

Web Title: Karnataka cm BS Yediyurappa BJP may remove 50 MLAs gather at his residence bjp Arun Singh arrive in Bengaluru

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे