jammu Kashmir terrorist Internet support is being taken warning videos released police threats started again | कश्मीर में फिर शुरू हुआ धमकियों का दौर, इंटरनेट का लिया जा रहा सहारा, चेतावनी वाले वीडियो जारी
सुरक्षा एजेंसियां इस नए संगठन और इसके कमांडर को लेकर कुछ भी कहने में असमर्थ हैं। (file photo)

Highlightsघाटी में पुलिस विभाग में काम कर रहे कर्मियों को भी आतंकी संगठनों का साथ देने की का फरमान सुनाया है।घाटी में पुलिस विभाग में काम कर रहे कर्मियों को भी आतंकी संगठनों का साथ देने की चेतावनी की है। कश्मीर टाइगर्स का कमांडर होने की बात कर रहा है वह दक्षिण कश्मीर से लापता हुआ मुफ्ती अल्ताफ हुसैन है।

जम्मूः कश्मीर में एक बार फिर धमकियां तथा चेतावनियां जारी करने का दौर आरंभ हो गया है। इसकी खातिर इंटरनेट का सहारा लिया जाने लगा है।

इंटरनेट पर धमकियां और चेतावनियां जारी करने की वीडियो डाल कश्मीरियों व बाहरी लोगों को डराने की कोशिश तेज हो गई है। इस क्रम में एक नए संगठन ने डोमिसाइल हासिल करने वालों और इसे बनाने में उनकी मदद करने वालों को मौत के घाट उतारने की धमकी दी है। यही नहीं उन्होंने घाटी में पुलिस विभाग में काम कर रहे कर्मियों को भी आतंकी संगठनों का साथ देने की का फरमान सुनाया है।

कश्मीर में एक नए आतंकवादी संगठन ने दस्तक दी

दरअसल कश्मीर में एक नए आतंकवादी संगठन ने दस्तक दी है। प्राप्त जानकारी के अनुसार इस संगठन का नाम ‘कश्मीर टाइगर्स’ बताया जा रहा है। इस संगठन ने भी डोमिसाइल प्रमाण पत्र हासिल करने वालों और इसमें उनकी मदद करने वालों को मौत के घाट उतारने की धमकी दी है।

यही नहीं उन्होंने घाटी में पुलिस विभाग में काम कर रहे कर्मियों को भी आतंकी संगठनों का साथ देने की चेतावनी की है। घाटी में इस संगठन की इन दिनों खूब चर्चा हो रही है। संगठन के हवाले से घाटी में एक वीडियो वॉयरल हो रहा है। इस वीडियो में जो आतंकी कश्मीर टाइगर्स का कमांडर होने की बात कर रहा है वह दक्षिण कश्मीर से लापता हुआ मुफ्ती अल्ताफ हुसैन है।

घाटी में बीते एक साल के दौरान सामने आने वाला यह चौथा नया संगठन

फिलहाल सुरक्षा एजेंसियां इस नए संगठन और इसके कमांडर को लेकर कुछ भी कहने में असमर्थ हैं। घाटी में बीते एक साल के दौरान सामने आने वाला यह चौथा नया संगठन है। वर्ष 2020 में पीपुल्स एंटी फॉसिस्ट फ्रंट गजनबी फोर्स और लश्कर-ए-मुस्तफा जैसे संगठन सामने आए हैं।

कश्मीर टाइगर्स नामक इस संगठन ने भी अपनी उपस्थिति का ऐलान इंटरनेट मीडिया पर एक वीडियो के जरिए किया है। इस वीडियो में नजर आने वाला नकाबपोश आतंकी कमांडर का नाम मुफ्ती अल्ताफ हुसैन है। अनंतनाग जिले में नाठीपोरा डुरु गांव का रहने वाला और दो बच्चों का पिता मुफ्ती अल्ताफ करीब 5 माह से गायब था। वॉयरल हुए करीब 4.15 मिनट के वीडियो में वह एक कागज पर लिखे भाषण को पढकऱ सुना रहा है।

इसमें वह कश्मीर में जिहाद और इस्लाम की दुहाई देते हुए कश्मीरियों को किसी भी गैर कश्मीरी को अपनी जमीन मकान इत्यादि ना बेचने का फरमान सुना रहा है। यही नहीं उसने कहा कि कश्मीर में मुस्लिमों को अल्पसंख्यक बनाने की साजिश हो रही है।

डोमिसाइल प्रमाण पत्र न बनाने की चेतावनी दे रहा

वह देश के अन्य राज्यों से आकर जम्मू-कश्मीर में बसे लोगों को भी यहां का डोमिसाइल प्रमाण पत्र न बनाने की चेतावनी दे रहा है। उसने धमकाया है कि अगर किसी बाहरी व्यक्ति ने अपना डोमिसाइल बनवाया या फिर कोई जमीन जायदाद खरीदी तो वह अपने अंजाम का खुद जिम्मेदार होगा।

मुफ्ती अल्ताफ हुसैन उर्फ अबुजार ने अपने इस वीडियो में जम्मू कश्मीर पुलिस के जवानों व अधिकारियों को भी धमकाया है। कश्मीर को भारत से आजाद कराने का ऐलान करते हुए मुफ्ती अल्ताफ हुसैन उर्फ अबुजार ने कहा कि पुलिसकर्मियों को मुजाहिदीन (आतंकी खुद को मुजाहिदीन कहते हैं) का साथ देना चाहिए अगर वह साथ नहीं दे सकते तो उन्हें मुजाहिदीन के खिलाफ किसी भी अंतकरोधी अभियान में शामिल नहीं होना चाहिए। वे पूरी तरह से तटस्थ रहें। वे हिन्दोस्तान का साथ ना दें।

Web Title: jammu Kashmir terrorist Internet support is being taken warning videos released police threats started again

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे