Jammu kashmir: BSNL, Other service provider 2G internet speed, mobile internet | जम्मू-कश्मीर में हाल-ए-2 जी इंटरनेट, सिवाय बीएसएनएल के कोई भी सेवा प्रदाता सर्विस देने को राजी नहीं 
File Photo

Highlightsसुप्रीम कोर्ट के आदेश का ‘मान’ रखने की खातिर जम्मू कश्मीर प्रशासन ने जो 2 जी इंटरनेट सेवा चालू की है वह किसी मजाक से कम नहीं है। जम्मू कश्मीर में 2 जी सर्विस बीते जमाने की बात हो गई है।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश का ‘मान’ रखने की खातिर जम्मू कश्मीर प्रशासन ने जो 2 जी इंटरनेट सेवा चालू की है वह किसी मजाक से कम नहीं है। ऐसा इसलिए क्योंकि जम्मू कश्मीर में 2 जी सर्विस बीते जमाने की बात हो गई है। ऐसे में सिवाय बीएसएनएल के बाकी सेवा प्रदाताओं ने 2 जी मोड पर इंटरनेट सेवा चलाने से इंकार इसलिए कर दिया है क्योंकि यह उनके लिए खाली जी का घर नहीं है। 

दरअसल, जियो की शुरूआत 4 जी से हुई थी और एयरटेल व आइडिया भी 4 जी सेवाएं दे रही हैं। ऐसे में बीएसएनएल के अधिकारी कल से ही ‘सरकारी आदेश’ का पालन करने की जुगत में लगे हैं और उपभोक्ता अपने मोबाइल सेटों से माथापच्ची कर रहे हैं।

यह सच है कि राज्य प्रशासन का आदेश अभी भी उपभोक्ताओं के अलावा मोबाइल कंपनियों के लिए भी सिरदर्द बना हुआ है। स्थानीय स्तर पर मोबाइल कंपनियों के तकनीकी कर्मचारियों को यही समझ नहीं आ रहा है कि वे 2 जी मोबाइल इंटरनेट सेवा किस तरह बहाल करें कि इंटरनेट भी चले और सोशल साइट पर रोक भी बरकरार रहे।

यही कारण था कि आज दूसरे दिन भी उपभोक्ता दिनभर मोबाइल फोन की सेटिंग के साथ उलझे रहे। चूंकि जम्मू में इस समय जियो व एयरटेल 4 जी, जबकि बीएसएनएल 3 जी सर्विस दे रहा है। उपभोक्ता उलझन में थे कि उन्हें अपने फोन की सेटिंग में बदलाव करना पड़ेगा। उधर, मोबाइल कंपनियों के स्थानीय तकनीकी अधिकारियों ने भी अपने मुख्यालय के विशेषज्ञों से इस पर चर्चा की तो पता चला कि इंटरनेट बहाल करते समय सोशल साइट पर प्राक्सी लगाकर उन्हें बंद करना पड़ेगा। उसके बाद कर्मचारी प्राक्सी लगाने व प्रयोग करने में कल से ही जुअे हुए हैं पर अभी तक कामयाबी हाथ नहीं आई थी।

दो दिनों से शहर भर में मोबाइल इंटरनेट सेवा बहाल होना चर्चा का विषय बना हुआ है। प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में मोबाइल इंटरनेट चालू होने की खबर पढ़ने के बाद हर कोई यही सोच रहा था कि शायद उसके फोन में ही कोई दिक्कत है। ऐसे में आसपास के लोगों से पूछा जा रहा था कि तुम्हारा इंटरनेट सिग्नल आया या नहीं। 

मोबाइल इंटरनेट सेवा बहाल होने की खबर से सबसे अधिक उत्साहित बच्चे व युवा थे, लेकिन उन्हें निराशा हाथ लगी। दिन में कुछ घंटे लोगों के एक-दूसरे के फोन को देखते ही बीते। दोपहर तक लगा कि प्रशासन ने उनके साथ मजाक किया है। इसके बाद कुछ लोग मोबाइल कंपनियों के कार्यालयों व दुकानों पर पहुंचे, लेकिन वहां पता चला कि अभी सेवा बहाल नहीं हो पाई है।

प्रशासन का कहना है कि फिलहाल 4 जी सेवा इसलिए चालू नहीं की जा सकती क्योंकि आतंकी अपने कैडर को फिर से सक्रिय कर रहे हैं और राष्ट्र विरोधी गतिविधियों को बढ़ाने के प्रयास में हैं। इसके लिए आतंकी वाइस ऑन इंटरनेट प्रोटोकॉल (वीओआइपी) का इस्तेमाल कर रहे हैं। आतंकी मोबाइल संचार व विभिन्न सोशल मीडिया एप्लीकेशन के जरिए अपनी गतिविधियों बढ़ा सकते हैं। इसलिए देश की एकता व अखंडता को बनाए रखने, आम लोगों के जान माल की सुरक्षा के लिए इंटरनेट के इस्तेमाल को सीमित रखना जरूरी है।

Web Title: Jammu kashmir: BSNL, Other service provider 2G internet speed, mobile internet
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे