भाजपा कार्यकारिणीः दो दिवसीय बैठक 20 -21 मई को जयपुर में, गुजरात-हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव, 2023 में मप्र, राजस्थान और कर्नाटक चुनाव पर फोकस

By भाषा | Published: May 4, 2022 07:43 PM2022-05-04T19:43:10+5:302022-05-04T20:02:31+5:30

गुजरात और हिमाचल प्रदेश में इस साल के अंत में विधानसभा चुनाव होने हैं वहीं कर्नाटक में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं। 

Jaipur BJP Executive Two-day meeting May 20-21 Gujarat-Himachal Pradesh Assembly elections 2022 focus MP, Rajasthan and Karnataka elections in 2023 | भाजपा कार्यकारिणीः दो दिवसीय बैठक 20 -21 मई को जयपुर में, गुजरात-हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव, 2023 में मप्र, राजस्थान और कर्नाटक चुनाव पर फोकस

नेताओं की एक बैठक 20 मई को होगी जबकि अगले दिन पार्टी के शीर्ष नेता और संगठन महामंत्रियों की बैठक होगी। (file photo)

Next
Highlightsप्रदेशों के अध्यक्ष, केंद्रीय प्रभारी और संगठन महामंत्री भी इसमें मौजूद रहेंगे।कोविड-19 महामारी की शुरुआत की बाद भाजपा नेताओं की यह पहली ऐसी बैठक होगी, जिसमें सभी मौजूद रहेंगे। महामारी के दौरान पार्टी ने बैठकों का आयोजन तो किया लेकिन वह सभी बैठकें वर्चुअल माध्यम से आयोजित की गईं।

नई दिल्लीः भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने आगामी 20-21 मई को राजस्थान की राजधानी जयपुर में पार्टी संगठन से जुड़े देश भर के नेताओं की एक बैठक बुलाई है, जिसमें आगामी विधानसभा चुनावों की रणनीतियों के साथ ही वर्तमान राजनीतिक परिस्थितियों पर भी चर्चा की जाएगी।

सूत्रों ने बुधवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गुलाबी नगरी में होने जा रही इस बैठक के किसी एक सत्र को वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से संबोधित कर सकते हैं। इस बैठक की अध्यक्षता पार्टी के अध्यक्ष जे पी नड्डा करेंगे। पार्टी के सभी राष्ट्रीय पदाधिकारियों के अलावा प्रदेशों के अध्यक्ष, केंद्रीय प्रभारी और संगठन महामंत्री भी इसमें मौजूद रहेंगे।

देश में कोविड-19 महामारी की शुरुआत की बाद भाजपा नेताओं की यह पहली ऐसी बैठक होगी, जिसमें सभी मौजूद रहेंगे। महामारी के दौरान पार्टी ने बैठकों का आयोजन तो किया लेकिन वह सभी बैठकें वर्चुअल माध्यम से आयोजित की गईं। सभी नेताओं की एक बैठक 20 मई को होगी जबकि अगले दिन पार्टी के शीर्ष नेता और संगठन महामंत्रियों की बैठक होगी।

ज्ञात हो कि भाजपा में संगठन महामंत्री का पद बहुत शक्तिशाली माना जाता है। संगठन महामंत्री राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रतिनिधि होते हैं और वे पार्टी और संघ के बीच समन्वय का काम भी देखते हैं। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव अरुण कुमार की ओर से किए गए एक संवाद में प्रदेश अध्यक्षों और राज्यों के संगठन महामंत्रियों को अपने-अपने राज्यों में चलाए गए कार्यक्रमों और गतिविधियों के बारे में रिपोर्ट लाने को कहा है। कांग्रेस शासित राजस्थान में इस बैठक के आयोजन का राजनीतिक रूप से बहुत महत्व है।

क्योंकि हाल में राज्य के विभिन्न हिस्सों में हुई सांप्रदायिक हिंसा की घटनाओं के अलावा अन्य मुद्दों पर भाजपा राज्य की अशोक गहलोत सरकार को घेरने में जुटी हुई है। कांग्रेस का ‘‘चिंतन शिविर’’ भी 13 मई को राजस्थान के उदयपुर में होने वाला है। राजस्थान में अगले साल के मध्य में विधानसभा चुनाव होने हैं।

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक इस बैठक में गुजरात, हिमाचल प्रदेश और कर्नाटक की राजनीतिक स्थिति पर भी चर्चा हो सकती है। हाल ही में पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में भाजपा का प्रदर्शन शानदार रहा था।

पार्टी ने उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड सहित चार राज्यों में जीत हासिल की। इस जीत से उत्साहित पार्टी ने अब आगामी चुनाव वाले राज्यों में अपनी गतिविधियां तेज कर दी है। गुजरात और हिमाचल प्रदेश में इस साल के अंत में विधानसभा चुनाव होने हैं वहीं कर्नाटक में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं। 

Web Title: Jaipur BJP Executive Two-day meeting May 20-21 Gujarat-Himachal Pradesh Assembly elections 2022 focus MP, Rajasthan and Karnataka elections in 2023

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे