आईएससीसीएम ने तीसरी लहर की आशंका जताई, केंद्र से गंभीर देखभाल इकाइयां स्थापित करने का आग्रह किया

By भाषा | Published: October 09, 2021 4:33 PM

Open in App

नयी दिल्ली, नौ अक्टूबर इंडियन सोसाइटी फॉर क्रिटिकल केयर मेडिसीन (आईएससीसीएम) ने कोविड-19 की तीसरी लहर की आशंका जताते हुए केंद्र सरकार से प्रशिक्षित कर्मियों से लैस एवं पूर्ण रूप से क्रियाशील गंभीर मरीज देखभाल इकाइयां स्थापित करने का शनिवार को अनुरोध किया।

आईएससीसीएम ने अपना 28वां स्थापना दिवस मनाते हुए दो दिवसीय अनुसंधान सम्मेलन का अयोजन किया, जिसका उद्देश्य भारतीय चिकित्सकों को निकट भविष्य में क्लिनिकल अनुसंधान के अग्रिम पंक्ति में लाने की कोशिश करना है।

आईएससीसीएम ने एक बयान में कहा कि सत्र में अस्पतालों में गंभीर मरीज देखभाल इकाइयों के महत्व पर जोर दिया गया, जो नाजुक स्थिति वाले मरीजों को बचाने में जीवनरेखा के तौर पर काम करती हैं और कुशल चिकित्सा कर्मी व तकनीकी रूप से अद्यतन सुविधाओं को वहां काफी जरूरत होती है।

बयान के मुताबिक सत्र में 450 से अधिक चिकित्सकों, विशेषज्ञों, नर्सों और तकनीशियनों ने हिस्सा लिया।

आईएससीसीएम के अध्यक्ष डॉ दीपक गोविल ने कहा, ‘‘गंभीर मरीज देखभाल विशेषज्ञों, नर्सों और तकनीशियनों की देश में भारी कमी है जो महामारी के दौरान खुल कर सामने आई...। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘गहन चिकित्सा देखभाल को आम आदमी के लिए कहीं अधिक पहुंच योग्य और वहनीय बनाना चाहिए।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Open in App

संबंधित खबरें

विश्वआईएस को बड़ा झटका, इस्लामिक स्टेट का ग्रुप लीडर अबू हसन अल-हाशिमी मारा गया

भारतGujarat Election 2022: योगी आदित्यनाथ ने गोधरा में कुरेदा 2002 का घाव, बोले, "यहीं पर राम भक्तों ने मंदिर के लिए दिया था बलिदान"

भारतBihar Nagar Nikay Elections 2022: 18 और 28 दिसंबर को होंगे नगर निकाय चुनाव, जानें मतों की गिनती कब की जाएगी

क्राइम अलर्टसंबंध का विरोध करने पर धारदार हथियार से हमला कर प्रेमी ने प्रेमिका के भाई को मार डाला, पिता को गंभीर रूप से घायल किया, जानें

क्राइम अलर्टफंदे से लटकी मिली पिता की लाश, बेटे और बेटी के शव बिस्तर पर, अंधविश्वास के फेर में गई जान, जानें

भारत अधिक खबरें

भारतसीएम नीतीश की जिद्द का परिणाम है शराबबंदी, पूर्व मुख्यमंत्री मांझी ने कहा-ताड़ी को शामिल कर गलती की, यह प्राकृतिक जूस, देखें वीडियो

भारतरवीश कुमार ने एनडीटीवी को कहा अलविदा, चैनल प्रबंधन ने स्वीकार किया इस्तीफा

भारतDelhi AIIMS: आठवें दिन भी सर्वर डाउन, स्थानीय सर्वर के जरिए ई-हॉस्पिटल सुविधाएं, चीनी हैकरों ने किया था जाम, मांगी थी 200 करोड़ की फिरौती

भारतबीवी श्रीनिवास ने पूछा, "वैक्सीन से मरने वालों के डेथ सर्टिफिकेट पर मोदीजी की फोटो होना चाहिए या नहीं?", मोदी सरकार ने वैक्सीन से हुई मौतों की जिम्मेदारी लेने से किया था इनकार

भारतGujarat Election 2022: गुजरात के लोगों के दिमाग में ‘आप’ कहीं नहीं ठहरती, शाह ने कहा-भाजपा अभूतपूर्व जीत दर्ज करेगी, हर पार्टी को चुनाव लड़ने का अधिकार