ईरानी ने योगी की 'अब्बा जान' वाली टिप्पणी का बचाव किया, अखिलेश ने निशाना साधा

By भाषा | Published: September 15, 2021 10:53 PM2021-09-15T22:53:52+5:302021-09-15T22:53:52+5:30

Irani defends Yogi's 'Abba Jaan' remark, slams Akhilesh | ईरानी ने योगी की 'अब्बा जान' वाली टिप्पणी का बचाव किया, अखिलेश ने निशाना साधा

ईरानी ने योगी की 'अब्बा जान' वाली टिप्पणी का बचाव किया, अखिलेश ने निशाना साधा

Next

लखनऊ, 15 सितंबर समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बुधवार को कहा कि 'अब्बा जान' शब्द का प्रयोग उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के संस्कारों को दर्शाता है। वहीं, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने योगी का बचाव करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री को संविधान के दायरे में रहते हुए मुद्दों पर अपनी बात रखने का अधिकार है और इस पर किसी का कोई नियंत्रण नहीं होना चाहिए। दोनों नेताओं ने यहां एक निजी चैनल के कार्यक्रम में यह बातें कहीं।

अखिलेश और योगी के बीच जुबानी जंग का कारण बने 'अब्बा जान' शब्द को लेकर खासी चर्चा हो रही है। अखिलेश पर निशाना साधते हुए पिछले दिनों कुशीनगर में मुख्यमंत्री ने इस शब्द का जिक्र करते हुए कहा था कि पूर्व में पात्र लोगों को मुफ्त राशन नहीं मिल पाता था क्योंकि वह 'अब्बा जान' कहने वाले लोग हजम कर जाते थे।

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बुधवार को कार्यक्रम में कहा, ''अब्बा जान शब्द का प्रयोग योगी जी का संस्कार है। मैं भी कुछ कह सकता हूं लेकिन नेताजी मुलायम सिंह यादव ने मुझे संस्कार दिए हैं, इसलिए मैं ऐसी भाषा का इस्तेमाल नहीं करता।''

कार्यक्रम में अखिलेश ने सपा के वोट बैंक समीकरण कहे जाने वाले मुस्लिम यादव (एम वाई) में बदलाव करते हुए एम की जगह 'महिला' और वाई की जगह 'युवा' जोड़ दिया।

यह पूछे जाने पर कि असदुद्दीन ओवैसी की अगुवाई वाली एआईएमआईएम पार्टी मुस्लिम वोट काट लेगी, अखिलेश ने कहा ''आप चीजों को इस तरह से क्यों देख रहे हैं। हमारे लिए एम का मतलब महिला से है और वाई का मतलब युवा से। महिलाएं और युवा वर्ग उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी की सरकार बनाने में मदद करेंगे।''

अयोध्या में राम मंदिर के सवाल पर पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा ''अब उच्चतम न्यायालय ने भी फैसला दे दिया है इसलिए कोई भी व्यक्ति राम मंदिर के खिलाफ नहीं है। अब राम मंदिर निर्माण कार्य कोई भी नहीं रोक सकता लेकिन भाजपा इसके नाम पर चुनाव लड़ना चाहती है।''

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए अखिलेश ने कहा, ''हमारे मुख्यमंत्री कहते हैं कि वह टेबलेट देंगे लेकिन अभी तक वह कौन सी टेबलेट दे रहे थे? क्या वह बुखार की टेबलेट दे रहे थे? भाजपा ने अपने चुनाव घोषणापत्र में मेधावी छात्रों को लैपटॉप के साथ-साथ एक जीबी डेटा भी मुफ्त देने को कहा था। वह डेटा कहां है?''

हालांकि, इसी कार्यक्रम के एक सत्र में हिस्सा लेने वाली केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा, ''अगर आप मानते हैं कि मुख्यमंत्री को संविधान के दायरे में रहते हुए अपने संवैधानिक हक का इस्तेमाल करके बिना किसी भेदभाव के सभी के लिए काम करने का अधिकार है तो आप इसे रोकना क्यों चाहते हैं।''

उनसे सवाल किया गया था कि अगर राज्य सरकार ने इतना ही ज्यादा काम किया है तो मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को ''अब्बा जान'' जैसे शब्द का इस्तेमाल करके राजनीतिक ध्रुवीकरण करने की जरूरत क्यों महसूस हुई।

कार्यक्रम में वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए जुड़ी केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने केंद्र की नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार द्वारा किए गए विकास कार्यों का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि पूरे देश में बनाए गए 10 करोड़ शौचालयों में से दो करोड़ शौचालय अकेले उत्तर प्रदेश में बनाए गए हैं।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: Irani defends Yogi's 'Abba Jaan' remark, slams Akhilesh

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे