Highlightsलाल किले पर सबसे ज्यादा बार तिरंगा लहराने वाले प्रधानमंत्री होंगे पीएम नरेंद्र मोदी।PM मोदी लगातार सातवीं बार तिरंगा लहराएंगे

नई दिल्ली: भाजपा ने बृहस्पतिवार को बताया कि नरेंद्र मोदी सबसे लंबी अवधि तक सेवा देने वाले देश के गैर कांग्रेसी प्रधानमंत्री और कुल मिलाकर सबसे अधिक सेवा देने वाले देश के चौथे प्रधानमंत्री बन गए हैं। भाजपा नेता अमित मालवीय ने ट्वीट किया, ‘‘आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत के इतिहास में सबसे अधिक सेवा देने वाले देश के चौथे प्रधानमंत्री बन गए हैं। वे अब सबसे लंबे समय तक सेवा देने वाले देश के गैर कांग्रेसी प्रधानमंत्री भी बन गए हैं। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी जी ने अपने सभी कार्यकालों के दौरान कुल 2268 दिन सेवाएं दी। आज प्रधानमंत्री मोदी उनसे आगे निकल गए।’’

मालूम हो कि मोदी लगातार सातवीं बार तिरंगा लहराएंगे । प्रधानमंत्री के रूप में सबसे लंबी सेवा देने वालों की सूची में जवाहरलाल नेहरू, इंदिरा गांधी और मनमोहन सिंह शामिल हैं। ये तीनों कांग्रेस पार्टी से ताल्लुक रखते थे।  पीएम मोदी ने पहली बार 2014 में लालकिले पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया था और पिछले वर्ष अपनी सरकार के दूसरे कार्यकाल में छठवीं बार तिरंगा फहराकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार के पहले प्रधानमंत्री अटलबिहारी वाजपेयी की बराबरी कर ली थी। वह इस बार वाजपेयी से एक कदम आगे बढ़कर सातवीं बार तिरंगा फहरायेंगे।

लाल किले पर सबसे अधिक बार तिरंगा लहराने का रिकॉर्ड पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू के नाम है। इंदिरा गांधी इस उपलब्धि में दूसरे नंबर और मनमोहन सिंह तीसरे नंबर हैं।

 

इंदिरा गांधी ने लगातार 11 बार लालकिले पर तिरंगा लहराया

देश की पहली महिला प्रधानमंत्री बनीं इंदिरा गांधी ने जनवरी 1966 से मार्च 1977 तक लगातार 11 बार लालकिले पर तिरंगा लहराया। आपातकाल के बाद हुए चुनाव में सत्ता से बाहर हुईं इंदिरा गांधी राजनीतिक वापसी करते हुए जनवरी 1980 में फिर से प्रधानमंत्री बनीं और 31 अक्टूबर 1984 को अपनी हत्या तक देश की शीर्ष कार्यपालिका के पद पर रहीं। इस दौरान इंदिरा गांधी ने पांच बार तिरंगा लहराया और अपने पिता पंडित नेहरू के बाद लालकिले पर दूसरे सबसे अधिक 16 बार तिरंगा लहराया। राजीव गांधी को भी 1984 से 1989 के बीच बतौर प्रधानमंत्री पांच बार लाल किले पर तिरंगा लहराने का सौभाग्य मिला।

राजीव गांधी और नरसिम्हा राव का लिस्ट में छठे नंबर

इसके बाद  जून 1991 से मई 1996 तक प्रधानमंत्री रहे नरसिंह राव ने पांच बार लालकिले पर तिरंगा लहराया। राजीव गांधी और राव इस सूची में संयुक्त रूप से छठे नंबर पर हैं।

अटल बिहारी वाजपेयी ने लगातार 6 बार लालकिले पर लहराया तिरंगा

वहीं, 1996 के चुनाव के बाद अटल बिहारी वाजपेयी 13 दिन के लिए पीएम जरूर बने पर तिरंगा लहराने का मौका पहली बार मार्च 1998 में हुए चुनाव के बाद बनी 13 महीने की सरकार के दौरान मिला।

इसके बाद 1999 के चुनाव में भी उनकी वापसी हुई। इस तरह मार्च 1998 से मई 2004 के बीच वाजपेयी ने लगातार छह बार तिरंगा लहराया और सबसे ज्यादा बार तिरंगा लहराने वाले प्रधानमंत्रियों में वे पांचवे नंबर पर हैं। इससे पूर्व जून 1996 से मार्च 1998 के दौरान रहे दो प्रधानमंत्रियों एचडी देवेगौड़ा और इंद्रकुमार गुजराल को भी एक-एक बार लालकिले पर तिरंगा लहराने का सौभाग्य मिला।

Web Title: Independence Day 2020: Atal Bihari Vajpayee record this time on Independence Day, PM Modi will unfurl the tricolor from the Red Fort for the 7th time
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे