High speed truck crushed five including four from the same family in Delhi | दिल्ली में तेज रफ्तार ट्रक ने एक ही परिवार के चार लोगों समेत पांच को कुचला
दिल्ली में तेज रफ्तार ट्रक ने एक ही परिवार के चार लोगों समेत पांच को कुचला

नयी दिल्ली, 11 जून दक्षिण-पश्चिम दिल्ली के नजफगढ़ इलाके में शुक्रवार सुबह एक तेज रफ्तार डम्पर ट्रक ने एक ही परिवार के चार सदस्यों समेत पांच लोगों को कुचल दिया। यह जानकारी पुलिस ने दी।

पुलिस ने बताया कि मृतकों की पहचान अशोक (30), उसकी पत्नी किरण (27), उनके बेटों इशांत (पांच) और देव (दो) तथा एक अन्य व्यक्ति जवाहर सिंह (93) के तौर पर हुई है।

पुलिस ने कहा कि अशोक और उसका परिवार गुरुग्राम स्थित एक मंदिर जाने के लिए बस लेने के लिए सड़क किनारे चल रहा था, वहीं सिंह सुबह की सैर के लिए निकले थे। उन्होंने बताया कि इन व्यक्तियों को टक्कर मारने के बाद ट्रक सड़क किनारे खड़े वाहनों से जा टकराया।

घटना का एक सीसीटीवी फुटेज सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। वीडियो में चार व्यक्तियों का परिवार खड़ी कारों के पास सड़क पर चलते हुए दिख रहा है। अशोक अपने छोटे बेटे को गोद में लिए हुए था, जबकि उसका बड़ा बेटा अपनी मां के साथ चल रहा था, जब ट्रक ने उन्हें कुचल दिया।

पुलिस उपायुक्त (द्वारका) संतोष कुमार मीणा ने बताया, ‘‘घटना की जानकारी थाना रोड पुलिस स्टेशन में सुबह 5.19 बजे मिली। अशोक, किरण और इशांत की मौके पर ही मौत हो गई। अशोक के छोटे बेटे देव और सिंह को विकास अस्पताल भेजा गया।’’

उन्होंने कहा कि सिंह और देव की सफदरजंग अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। उन्होंने बताया कि चालक की पहचान राजेश (35) के रूप में हुई है और उसे मौके से गिरफ्तार कर लिया गया है।

पुलिस ने बताया कि ट्रक चालक के तेज रफ्तार और लापरवाही से वाहन चलाने से हुई दुर्घटना में मौके पर खड़े पांच वाहन क्षतिग्रस्त हो गये। पुलिस ने कहा कि घटना के समय चालक शराब या नशीली दवाओं के प्रभाव में था या नहीं, इसका पता लगाने के लिए चालक का चिकित्सकीय परीक्षण किया जा रहा है। उसने पुलिस को बताया कि वाहन चलाते समय उसकी आंख लग गई और वह वाहन से नियंत्रण खो बैठा।

पुलिस ने कहा कि नजफगढ़ पुलिस थाने में भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 279 और 304 के तहत मामला दर्ज किया गया है। उन्होंने बताया कि शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए राव तुलाराम मेमोरियल अस्पताल भेज दिया गया है।

सिंह के पोते राकेश यादव ने कहा कि उनके दादा रोजाना सुबह की सैर पर जाते थे।

यादव ने कहा, ‘‘जब दुर्घटना हुई तब मैं सो रहा था। पड़ोसियों ने हमें इसकी सूचना दी। हम अस्पताल पहुंचे और उन्हें मृत पाया।’’

अशोक विकास अस्पताल में सुरक्षा गार्ड के तौर पर काम करता था। उसके परिवार के एक सदस्य ने बताया कि जब वह घर से बाहर निकला तो देखा कि दुर्घटना हो गई है।

उसने कहा, ‘‘एक बुजुर्ग सड़क पर पड़ा हुआ था और उसे अस्पताल ले जाया गया। बाद में, मुझे पता चला कि ट्रक की चपेट में आने वाले बच्चे हमारे परिवार के थे। अशोक और उसका परिवार गुरुग्राम में शीतला देवी माता मंदिर जा रहा था।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: High speed truck crushed five including four from the same family in Delhi

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे