Government considering to make list of subsidiary companies making profits from Coal India | कोल इंडिया की मुनाफा कमा रही सहायक कंपनियों को सूचीबद्ध करने पर विचार कर रही सरकार
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (फाइल फोटो)

सरकार पूंजी जुटाने के लिए सरकारी कंपनी कोल इंडिया की मुनाफे में चल रही अनुषंगी कंपनियों को सूचीबद्ध करने के प्रस्ताव की जांच - परख कर रही है। मामले से जुड़े सूत्रों ने यह बात कही। सूत्रों के मुताबिक , निवेश एवं लोक परिसंपत्ति प्रबंधन विभाग (दीपम) कोल इंडिया की मुनाफे वाली अनुषंगियों को शेयर बाजार पर सूचीबद्ध करने के प्रस्ताव की छानबीन कर रहा है।

एक सूत्र ने बताया कि इस संबंध में बातचीत अभी शुरुआती चरण में है। कोल इंडिया ने इस संबंध में पूछे गए सवाल को जवाब नहीं दिया।

नीति आयोग ने इससे पहले कोल इंडिया की अनुषंगियों को अलग - अलग इकाई बनाने का सुझाव दिया था कि हर इकाई अपने रणनीति और कारोबारी मॉडल विकसित कर सके। कोल इंडिया की सात अनुषंगी कंपनियां - ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (ईसीएल), भारत कोकिंग कोल लिमिटेड (बीसीसीएल), सेंट्रल कोलफील्ड्स लिमिटेड (सीसीएल), वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (डब्ल्यूसीएल), साउथ ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (एसईसीएल), नॉर्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (एनसीएल) और महानदी कोलफील्ड्स लिमिटेड (एमसीएल) हैं। 

Web Title: Government considering to make list of subsidiary companies making profits from Coal India
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे