Gehlot government also got a shock from Supreme Court, elections will be held in Jaipur, Jodhpur and Kota before October 31 | सुप्रीम कोर्ट से भी गहलोत सरकार को झटका, 31 अक्टूबर से पहले कराने होंगे जयपुर, जोधपुर और कोटा में निगमों के चुनाव
आरक्षण लॉटरी निकाली जा चुकी है। मतदाता सूची प्रकाशित हो गई। मतदानकर्मियों की सूची भी तैयार हैं।

Highlightsहाईकोर्ट ने राज्य सरकार के प्रार्थना पत्र पर 31 अक्टूबर तक ये चुनाव कराए जाने के लिए कहा था।नगर निगम ग्रेटर में 12 लाख 28 हजार 911 और हेरिटेज में 9 लाख 32 हजार 808 मतदाता हैं।जयपुर में कोरोना संक्रमण को देखते हुए निगम के चुनाव दो चरण में करने का सुझाव राज्य निर्वाचन आयोग को सुझाव दिया है।

जयपुरःराजस्थान सरकार की जयपुर, जोधपुर और कोटा में नवसृजित 6 नगर निगमों के चुनाव 31 अक्टूबर तक कराए जाने के हाईकोर्ट के फैसले को चुनौती देने वाली याचिका पर आज सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने हाईकोर्ट के फैसले पर रोक लगाने से इनकार करते हुए गहलोत सरकार को एक सप्ताह में चुनाव के लिए नोटिफिकेषन जारी करने के निर्देश दिये हैं।

उल्लेखनीय है कि राजस्थान हाईकोर्ट ने अपने आदेश में कहा था कि जयपुर, जोधपुर, कोटा नगर निगम में 31 अक्टूबर तक चुनाव कराने होंगे। इससे पूर्व भी राजस्थान हाईकोर्ट ने 18 मार्च को आदेश जारी कर जयपुर, जोधपुर व कोटा के नगर निगमों के चुनाव 17 अप्रैल से आगामी छह सप्ताह के लिए स्थगित कर दिए थे। अदालत ने 28 अप्रैल को इस अवधि को एक बार फिर आगे बढ़ाकर 31 अगस्त कर दिया था। इसके बाद हाईकोर्ट ने राज्य सरकार के प्रार्थना पत्र पर 31 अक्टूबर तक ये चुनाव कराए जाने के लिए कहा था।

जयपुर नगर निगम चुनाव के लिए जिला निर्वाचन विभाग ने पूरी तैयारी कर ली है। कलेक्टर अंतर सिंह नेहरा का कहना है कि हमारी चुनावी तैयारी पूरी है। आयोग के आदेशानुसार चुनाव करवा दिए जाएंगे। नेहरा का कहना है कि हाईकोर्ट में याचिका खारिज होने के बाद से ही चुनावों को लेकर सक्रिय हो गए थे।

आरक्षण लॉटरी निकाली जा चुकी है। मतदाता सूची प्रकाशित हो गई। मतदानकर्मियों की सूची भी तैयार हैं। वहीं, ईवीएम भी पंचायत चुनाव समाप्त होते ही तैयार कर लेंगे। जयपुर में कोरोना संक्रमण को देखते हुए निगम के चुनाव दो चरण में करने का सुझाव राज्य निर्वाचन आयोग को सुझाव दिया है। शहर में 21 लाख 61 हजार 719 मतदाता है। इनमें नगर निगम ग्रेटर में 12 लाख 28 हजार 911 और हेरिटेज में 9 लाख 32 हजार 808 मतदाता हैं।

जयपुर जिला कलेक्टर का कहना है कि कोरोना संक्रमणकाल में चुनाव के दौरान सोशल डिस्टेसिंग की पालना के लिए 1700 मतदान केंद्र बढ़ाने और मतदानकर्मियों की संख्या 8500 की बढ़ोतरी करनी होगी। आयोग के अनुसार एक मतदान केंद्र पर 850 वोटर होंगे। जयपुर निगम क्षेत्र में 1941 मूल मतदान केंद्र हैं। इनके अलावा 1700 सहायक मतदान केंद्र और बनाए जाएंगे। इसमें नगर निगम ग्रेटर में 950 और नगर निगम हेरिटेज में 750 सहायक मतदान केंद्र शामिल है।

Web Title: Gehlot government also got a shock from Supreme Court, elections will be held in Jaipur, Jodhpur and Kota before October 31
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे