Ganpati Visarjan: 43 people drowned till during Ganpati Immersion | गणपति विसर्जन के दौरान दिल्ली में चार की मौत, पूरे देश में 43 लोगों की गई जान
File Photo

गणपति विसर्जन करते समय राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली समेत अन्य राज्यों में अभी तक 43 लोगों की मौत हो गई है। भोपाल में नाव पलटने से 11 लोगों की, दिल्ली में चार लोगों की, महाराष्ट्र में 18 लोगों की और गुजरात में 10 लोगों की डूबने से मौत हो गई।

भोपाल में 11 लोगों की मौत

भोपाल में शुक्रवार तड़के गणपति विसर्जन के दौरान नाव पलटने से 11 लोगों की डूबने से मौत हो गई। इस मामले में इन नावों को चला रहे दो नाविकों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है और मजिस्ट्रेट से जांच कराने के आदेश दिये गये हैं। भोपाल (शहर) के पुलिस उप महानिरीक्षक इरशाद वली ने भाषा को बताया कि यह घटना छोटे तालाब के खटलापुरा घाट पर शुक्रवार तड़के करीब 4.30 बजे की है। हादसा तब हुआ जब लोग गणपति प्रतिमा को विसर्जित करने गए थे। वली ने बताया कि इन दो नावों में 17 लोग सवार थे। 11 शव निकाल लिए गए हैं। छह लोगों को सुरक्षित निकाला गया। घटना में जान गंवाने वाले सभी लोग शहर के पिपलानी इलाके के रहने वाले थे। भोपाल के कलेक्टर तरूण पिथोड़े ने घटना की मेजिस्ट्रेट से जांच करवाने के आदेश दिये हैं। मृतकों की पहचान परवेज खान (15), रोहित मौर्य (30), हर्ष (20), करण (16), सुन्नी ठाकरे (22), राहुल वर्मा (30), विक्की (28), विशाल (22), अर्जुन (18), राहुल मिश्रा (20) एवं करण पन्नालाल (26) के रूप में की गई है। ये सभी शहर के पिपलानी इलाके के रहने वाले थे। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने हादसे को बेहद दुखद बताते हुए मृतकों के परिजनों को सरकार की ओर से 11-11 लाख रूपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है। इसके अलावा भोपाल नगर निगम ने भी दो-दो लाख रूपये की सहायता की घोषणा की है। 

दिल्ली में चार लोगों की डूबकर मौत

दिल्ली में गणेश प्रतिमा के विसर्जन के दौरान पानी में डूब गये दो पुरूषों और दो महिलाओं के शव शुक्रवार को तड़के पल्ला बख्तावरपुर गांव के समीप बरामद किये गये। अग्निशमन विभाग ने यह जानकारी दी। अधिकारियों ने बताया कि बृहस्पतिवार को रात आठ बजकर 58 मिनट पर विभाग को लोगों के डूब जाने की खबर मिली थी। अधिकारियों के मुताबिक विभाग ने एक दमकल वाहन को मौके पर भेजा और बचाव अभियान शुरू किया गया। दो पुरूषों और दो महिलाओं के शव बरामद किये गये हैं। अधिकारियों ने कहा कि विस्तृत ब्योरे की प्रतीक्षा है।

महाराष्ट्र में 18 लोगों की मौत

महाराष्ट्र में गणेश प्रतिमा के विसर्जन के दौरान अलग-अलग घटनाओं में कम से कम 18 लोगों की मौत हो गई। पुलिस ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। अधिकारियों ने बताया कि प्रतिमा विसर्जन की शुरुआत बृहस्पतिवार को हुई। मुंबई, पुणे तथा सांगली के कई हिस्सों में शुक्रवार को भी विसर्जन हुआ। उन्होंने बताया कि अमरावती, नासिक, ठाणे, सिंधुदुर्ग, रत्नागिरि, धुले, नांदेड़, अहमदनगर, अकोला और सतारा समेत 11 जिलों में डूबने की घटनाएं हुईं। इन घटनाओं में 18 लोगों की मौत हो गई। गणेश प्रतिमाओं के विसर्जन के दौरान चार लोगों की मौत अमरावती में और तीन लोगों की मौत रत्नागिरि में हुई। नासिक, सिंधुदुर्ग और सतारा में दो-दो लोगों की मौत और ठाणे, धुले और बुलढाना, अकोला और भंडारा में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई। वहीं नासिक के सोमेश्वर जलप्रपात के निकट डूब रहे तीन लोगों को जीवनरक्षक और अग्निशमन कर्मियों ने बचाया। 

गुजरात में 10 लोगों की मौत

गुजरात में सात सितंबर को अरावली और खेड़ा जिलों में गणेश प्रतिमा का विसर्जन करने के दौरान अलग-अलग घटनाओं में 10 लोगों की डूबने से मौत हो गई थी। छह लोगों की मौत अरावली जिले के धानसुरा तालुक में खादोल गांव के वात्रक नदी में डूबने से हुई थी। वहीं चार की मौत खेड़ा जिले में मोहर नदी में डूबने से हुई थी। खादोल में कई लोग प्रतिमा विसर्जन के बाद नहाने गए थे, उनमें से छह की डूबने से मौत हो गई थी। वहीं खेड़ा जिले के कपादवंज शहर में मोहर नदी में डूबने से चार लोगों की मौत हो गई थी। 
(समाचार एजेंसी भाषा के इनपुट के आधार पर)


Web Title: Ganpati Visarjan: 43 people drowned till during Ganpati Immersion
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे