Gangasagar Fair: Thousands of people got holy water for e-bathing | गंगासागर मेलाः ई-स्नान के लिए हजारों लोगों को मिला पवित्र जल
गंगासागर मेलाः ई-स्नान के लिए हजारों लोगों को मिला पवित्र जल

सागर द्वीप (पश्चिम बंगाल) 13 जनवरी कोविड-19 महामारी के चलते गंगासागर मेले में भीड़ से बचने के लिए पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा किये गये ई-स्नान प्रबंध के तहत अबतक देशभर के कम से कम 54,000 लोगों ने बगाल की खाड़ी में गंगा के संगम वाले स्थल का पवित्र जल प्राप्त किया है।

राज्य के पंचायत मंत्री सुब्रत मुखर्जी ने कहा कि ई-स्नान सुविधा को बढ़ावा देने के लिए सरकार देश के किसी भी हिस्से में रह रहे व्यक्ति को 150 रुपये के मामूली शुल्क पर पवित्र जल एवं प्रसाद भेज रही है।

उन्होने कहा, ‘‘अबतक, देश के विभिन्न हिस्सों में 54000 लोगों ने अपने घरों पर ही गंगा के बगाल की खाड़ी के संगम स्थल का पवित्र जल प्राप्त किया है।’’

हर साल देशभर से लाखों श्रद्धालु मकर संक्राति के मौके पर पवित्र डुबकी लगाने के लिए सागर द्वीप पहुंचते हैं जो कोलकाता से करीब 130 किलोमीटर दूर है। श्रद्धालु गंगासागर मेले के दौरान कपिल मुनि के मंदिर प्रार्थना भी करते हैं। यह मेला कुंभ मेले के बाद दूसरा सबसे बड़ा समागम माना जाता है।

कैलेंडर के अनुसार इस साल 14 जनवरी को प्रात: छह बजकर दो मिनट से लेकर अगले 24 घंटे तक पवित्र डुबकी लगाने का समय तय किया गया है।

मंत्री ने कहा कि इस साल 12 जनवरी तक दो लाख श्रद्धालु पहुंच चुके हैं जिनमें से पांच कोविड-19 से संक्रमित पाये गये।

मुखर्जी ने कहा कि राज्य सरकार ने यह सुनिश्चित करने के लिए पर्याप्त इंतजाम किया है कि तीर्थयात्री कोविड नियमों का पालन करें और पवित्र डुबकी और कपिल मुनि मंदिर में प्रार्थना के उपरांत सुरक्षित लौटें।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: Gangasagar Fair: Thousands of people got holy water for e-bathing

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे