Former PM Manmohan Singh's Ex-Advisor media advisor Sanjay Baru cheated online 24 thousand rupees Order For Liquor  | पूर्व पीएम मनमोहन सिंह के मीडिया सलाहकार रहे संजय बारू से ऑनलाइन ठगी, 24 हजार रुपये ठगे
गिरोह का नेटवर्क पूरे भारत में फैला हुआ है। ये लॉकडाउन के दौरान कई लोगों के साथ ठगी कर चुके हैं।  (file photo)

Highlightsआरोपी ने ऑनलाइन शराब की फर्जी वेबसाइट बना रखी थी और वह लॉकडाउन को दौरान लोगों को ठगने का काम कर रहा था।जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के पूर्व छात्र बारू संप्रग एक सरकार के दौरान 2004-08 तक सिंह के मीडिया सलाहकार रहे थे।बारू ने बहुचर्चित 'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' पुस्तक लिखने के बाद चर्चा में आए थे।

नई दिल्लीःदेश के पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह के मीडिया सलाहकार रहे संजय बारू के साथ ऑनलाइन ठगी का मामला सामने आया है। संजय बारू ने दिल्ली के हौज खास थाने में शिकायत दी है।

शिकायत में कहा कि लॉकडाउन के दौरान लॉनलाइन शराब बेचने के नाम पर जालसाजों ने उनसे करीब 24 हजार रुपये ठग लिए। दिल्ली पुलिस ने इस मामले में ओला कैब ड्राइवर आबिक जावेद को अरेस्ट किया है। आरोपी ने ऑनलाइन शराब की फर्जी वेबसाइट बना रखी थी और वह लॉकडाउन को दौरान लोगों को ठगने का काम कर रहा था।

राजनीतिक टिप्पणीकार और नीति विश्लेषक संजय बारू से शराब की ऑनलाइन डिलिवरी कराने के बहाने 24 हजार रुपये की ठगी करने के आरोप में पुलिस ने 31 वर्षीय एक युवक को गिरफ्तार किया है। उल्लेखनीय है कि बारू पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के मीडिया सलाहकार रह चुके हैं।

पुलिस ने रविवार को बताया कि आरोपी का नाम आकिब जावेद है और राजस्थान के भरतपुर जिले के कमान कस्बे का रहने वाला है। उन्होंने बताया कि आरोपी को उसके पैतृक स्थान से शनिवार को गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने बताया कि जावेद टैक्सी चालक के तौर पर काम करता है लेकिन आसानी से पैसा कमाने के इरादे से साइबर अपराध के क्षेत्र में दाखिल हुआ। उन्होंने बताया कि फरार उसके साथियों को भी पकड़ने का प्रयास किया जा रहा है।

लॉकडान में करीब 100 लोगों से धोखाधड़ी करने का जुर्म कबूल किया है

पुलिस के मुताबिक आरोपी ने अपने साथियों के साथ मिलकर कोरोना वायरस की वजह से लागू लॉकडान में करीब 100 लोगों से धोखाधड़ी करने का जुर्म कबूल किया है। पुलिस ने कहा कि उन्हें घटना की जानकारी दो जून को तब हुई जब बारू ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई।

बारू ने अपनी शिकायत में बताया कि ऑनलाइन शराब खरीदने के लिए वह दुकान की तलाश कर रहे थे तभी उन्हें ‘ ला केव वाइन्स ऐंड स्प्रिट’ की दुकान मिली। उन्होंने जब संपर्क किया तो पहले ऑनलाइन भुगतान करने को कहा गया। पुलिस को बारू ने बताया कि जब उन्होंने 24 हजार रुपये का भुगतान किया तब व्यक्ति ने अपना फोन बंद कर दिया। पुलिस उपायुक्त अतुल कुमार ठाकुर (दक्षिण) ने बताया कि हौजखास पुलिस थाने में धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया है।

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के पूर्व छात्र बारू संप्रग एक सरकार के दौरान 2004-08 तक सिंह के मीडिया सलाहकार रहे थे। बारू ने बहुचर्चित 'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' पुस्तक लिखने के बाद चर्चा में आए थे।

लॉकडाउन के दौरान कई लोगों के साथ ठगी कर चुके हैं

दक्षिण जिले की साइबर सेल ने लॉकडाउन के दौरान ऑनलाइन शराब बेचने की बात कहकर ठगी करने वाले इस बड़े गिरोह का पर्दाफाश किया है। एक आरोपी कामा को भरतपुर राजस्थान से गिरफ्तार किया है। इस गिरोह का नेटवर्क पूरे भारत में फैला हुआ है। ये लॉकडाउन के दौरान कई लोगों के साथ ठगी कर चुके हैं। 

गूगल पर ला केव वाइन्स एण्ड स्प्रीटिस नाम से नंबर आया। उन्होंने शराब के लिए ऑर्डर दे दिया। आरोपियों ने पैसा जमा कराने को कहा। शिकायकर्ता ने 24 हजार रुपये जमा करा दिए। उन्होंने जैसे ही पैसे जमा कराए, आरोपी मोबाइल आदि बंद कर गायब हो गए। 

मामले की जांच साइबर सेल इंस्पेक्टर अजीत कुमार, एसआई विजय पाल, एसआई वरुण गुलिया व एएसआई सुरेन्द्र कुमार को सौंपी गई। पुलिस ने मोबाइल नंबर व बैंक खातों की डिटेल खंगाली तो पता लगा कि सभी फर्जी आईडी से लिए हुए हैं।

Web Title: Former PM Manmohan Singh's Ex-Advisor media advisor Sanjay Baru cheated online 24 thousand rupees Order For Liquor 
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे