Former Assam Chief Minister Tarun Gogoi died age 84 State Health Minister Hemant Biswa Sharma told | असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई का 84 साल की उम्र में निधन, तीन बार सीएम और 6 बार सांसद रहे
 गोगोई 2001 से तीताबोर विधानसभा क्षेत्र से विधायक थे। वह छह बार सांसद भी रहे और दो बार केंद्रीय मंत्री बने। (file photo)

Highlightsउल्लेखनीय है कि 84 वर्षीय कांग्रेस नेता का इलाज गौहाटी मेडिकल कॉलेज (जीएमसीएच) में चल रहा था।गोगोई 25 अगस्त को कोरोना वायरस से संक्रमित पाये गये थे और इसके अगले दिन उन्हें जीएमसीएच में भर्ती कराया गया था। इसके बाद 25 अक्टूबर को उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी थी। 

गुवाहाटीः असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई का 84 साल की उम्र में निधन हो गया। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री हेमंत बिस्व शर्मा ने जानकारी दी। उल्लेखनीय है कि 84 वर्षीय कांग्रेस नेता का इलाज गौहाटी मेडिकल कॉलेज (जीएमसीएच) में चल रहा था। गोगोई 2001 से तीताबोर विधानसभा क्षेत्र से विधायक थे। वह छह बार सांसद भी रहे और दो बार केंद्रीय मंत्री बने।

असम के तीन बार मुख्यमंत्री रह चुके 84 साल के गोगोई को दो नवंबर को जीएमसीएच में भर्ती कराया गया था। शनिवार को तबीयत बिगड़ने के बाद उन्हें शनिवार को वेंटिलेटर पर रखा गया था। गोगोई 25 अगस्त को कोरोना वायरस से संक्रमित पाये गये थे और इसके अगले दिन उन्हें जीएमसीएच में भर्ती कराया गया था। इसके बाद 25 अक्टूबर को उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी थी। 

तरुण गोगोई का जन्म जोरहाट में 1 अप्रैल 1936 को हुआ था

तरुण गोगोई का जन्म जोरहाट में 1 अप्रैल 1936 को हुआ था। उनके पुत्र गौरव गोगोई कांग्रेस से सांसद हैं। असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई की स्वास्थ्य स्थिति सोमवार की सुबह और बिगड़ गई थी। उनकी देख भाल कर रहे चिकित्सकों ने कहा है कि पूर्व मुख्यमंत्री की हालत ‘‘बेहद, बेहद नाजुक’’ है। गौहाटी मेडिकल कॉलेज के अधीक्षक अभिजीत शर्मा ने बताया कि 80 साल की उम्र पार कर चुके वरिष्ठ कांग्रेस नेता की देखभाल नौ चिकित्सकों की एक टीम काम कर रही थी।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई के निधन पर गहरा शोक प्रकट किया और कहा कि वह एक लोकप्रिय नेता और वरिष्ठ प्रशासक थे, जिनके पास असम के साथ-साथ केंद्र में भी काम करने का वर्षों का लंबा राजनीतिक अनुभव था। गोगोई का सोमवार को गुवाहाटी में निधन हो गया।

वह कोविड-19 से संक्रमित हुए थे और उपचार के बाद ठीक हो गए थे

पिछले दिनों वह कोविड-19 से संक्रमित हुए थे और उपचार के बाद ठीक हो गए थे लेकिन स्वास्थ्य संबंधी कुछ जटिलताओं के कारण उन्हें फिर से अस्पताल में भर्ती कराया गया था। गोगोई 84 साल के थे। मोदी ने ट्वीट कर कहा, ‘‘श्री तरुण गोगोई एक लोकप्रिय नेता और वरिष्ठ प्रशासक थे, जिनके पास असम के साथ-साथ केंद्र में भी काम करने का वर्षों का लंबा राजनीतिक अनुभव था। उनके निधन से गहरा धक्का लगा है। दुख की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके परिजनों और समर्थकों के साथ है।’’

2001 से 2016 तक तीन बार असम के मुख्यमंत्री रहे तरुण गोगोई का जन्म 11 अक्टूबर 1936 को असम के जोरहाट जिले के रंगाजन टी एस्टेट में में हुआ था, उनके पिता डॉ कमलेश्वर गोगोई रंगाजन टी एस्टेट में डॉक्टर थे. वहीं उनकी माता ऊषा गोगोई कवयित्री थीं, उनके माता-पिता उन्हें प्यार से पुनाकोन कहा करते थे।

कांग्रेस ने कहा कि हम इस दुख की घड़ी में उनके परिवार के प्रति अपनी हार्दिक संवेदनाएं देते हैं। एक अविश्वसनीय नेता, कांग्रेस के दिग्गज और असम के तीन बार के सीएम तरुण गोगोई का अपने लोगों और उनके राज्य के विकास और एकता के प्रति समर्पण ने कई पीढ़ियों के भारतीयों को प्रेरित किया है।

गोगोई के बेटे के साथ जीएमसीएच में मौजूद असम के स्वास्थ्य मंत्री ​हेमंत विस्व सरमा ने कहा, ''पूर्व मुख्यमंत्री की स्थिति बहुत नाजुक एवं ​चिंताजनक थी। वह पूरी तरह जीवन रक्षक उपकरण पर थे। सरमा ने कहा कि गोगोई के अंगों ने काम करना बंद कर दिया था, दिमाग को कुछ संकेत मिल रहे हैं, आंखें चल रही हैं और पेसमेकर लगाये जाने के बाद उनका दिल काम कर रहा है और इसके अलावा कोई अंग काम नहीं कर रहा था। मंत्री ने कहा कि गोगोई का रविवार को छह घंटे तक डाय​लिसिस हुआ था और यह दोबारा विषाक्त चीजों से भर गया है। ऐसी हालत नहीं है कि डायलिसिस दोबारा किया जाए।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि तरुण गोगोई एक सच्चे कांग्रेसी नेता थे। उन्होंने अपना जीवन असम के सभी लोगों और समुदायों को एक साथ लाने के लिए समर्पित कर दिया। मेरे लिए, वह एक महान और बुद्धिमान शिक्षक थे। मैं बहुत प्यार करता था और उसका सम्मान करता था। मैं उसे याद करूँगा। गौरव और परिवार के प्रति संवेदना।

मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने कहा कि उन्होंने स्वास्थ्य विभाग को पूर्व मुख्यमंत्री को हरसंभव उपचार मुहैया कराने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा, ''मैं उनके जल्दी से ठीक होने की ईश्वर से प्रार्थना करता हूं।'' गोगोई की देख भाल कर रहे डॉक्टरों की टीम अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के लगातार संपर्क में हैं। विभिन्न अंगों के काम करना बंद करने के बाद गोगोई को वेंटिलेटर पर रखा गया था।

Read in English

Web Title: Former Assam Chief Minister Tarun Gogoi died age 84 State Health Minister Hemant Biswa Sharma told

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे