Flood situation worsens in Bihar, more than 45 lakh people affected | बिहार में बाढ़ की स्थिति विकराल हुई, 45 लाख से अधिक लोग प्रभावित
दरभंगा जिले में सबसे अधिक सात लोगों तथा पश्चिम चंपारण में चार व्यक्ति की मौत हो चुकी है । 

Highlightsदरभंगा जिला में सबसे अधिक 14 प्रखंडों के 173 पंचायतों की 1351200 आबादी बाढ़ से प्रभावित हुई है।एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की कुल 28 टीमों की तैनाती की गयी है ।

बिहार में बाढ़ की स्थिति विकट बनी हुई है, जहां नदियों में बाढ़ आ जाने के कारण अब तक 45 लाख से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं। आपदा प्रबंधन विभाग ने शुक्रवार को जारी बुलेटिन में कहा कि पिछले 24 घंटे में बाढ़ के कारण किसी की मौत नहीं हुई, लेकिन इस प्राकृतिक आपदा के कारण प्रभावित हुए लोगों की संख्या में इस अवधि में पांच लाख से अधिक की बढ़ोतरी हुई है।

विभाग ने बताया कि 14 जिलों की 1,012 पंचायतों में बाढ़ प्रभावित लोगों की संख्या बढ़कर 45.63 लाख हो गई है, जबकि इससे एक दिन पहले यह संख्या 39.63 थी। विधानसभा चुनाव के निकट होने के मद्देनजर, बाढ़ से निपटने संबंधी सरकारी प्रयासों को लेकर राज्य सरकार और विपक्षी दलों के बीच वाकयुद्ध शुरू हो गया है।

पूर्वी चंपारण के बाढ़ पीड़ित इलाके का दौरा करने वाले विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने अब तक नीतीश कुमार सरकार द्वारा ‘‘केवल 19 राहत शिविर’’ बनाए जाने पर हैरानी जताई। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘बिहार के जल संसाधन मंत्री बाढ़ नियंत्रण और जल संसाधन छोड़कर जेडीयू के लिए संसाधन उत्पन्न करते मिलेंगे। पिछले चार महीने के विपदा काल में आपदा प्रबंधन मंत्री को किसी ने देखा ही नहीं। मुख्यमंत्री 135 दिन से घर से बाहर नहीं निकले हैं।’’ इस बीच, जदयू-भाजपा सरकार ने राजद नेता पर आरोप लगाया कि वह बाढ़ से निपटने के सरकारी प्रयासों में सहयोग करने के बजाए प्रचार के लिए दौरे कर रहे है। 

असम में बाढ़ की स्थिति में सुधार, मरने वलों की संख्या 108 हुई

असम में बाढ़ की स्थिति में कुछ सुधार हुआ है। हालांकि, एक और व्यक्ति की मौत के साथ ही प्रदेश में इस आपदा में मरने वालों की संख्या बढ़ कर 108 हो गयी है । ब्रह्मपुत्र एवं इसकी सहायक नदियों में आयी बाढ़ के कारण प्रदेश के 22 जिलों में प्रभावित लोगों की संख्या अब घटकर 12 लाख रह गयी है। असम के राज्यपाल जगदीश मुखी ने बाढ़ प्रभावित बरपेटा और बक्सा जिलों का दौरा किया, जहां उफनती नदियों ने लाखों लोगों को बेघर कर दिया है ।

असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एएसडीएमए) की दैनिक रिपोर्ट के अनुसार मोरी गांव जिले में बाढ़ के पानी में डूबने से एक व्यक्ति की मौत हो गयी, जिससे प्रदेश में इससे मरने वाले लोगों की संख्या बढ़ कर 108 हो गयी है। प्राधिकरण ने बताया कि प्रदेश में बाढ़ के कारण हुए भूस्खलन के कारण 26 लोगों की मौत हो चुकी है। एएसडीएमए की रिपोर्ट में कहा गया है कि 12 लाख से अधिक लोग अब भी प्रदेश में बाढ़ की चपेट में हैं । बाढ़ से सबसे अधिक प्रभावित जिला गोवालपारा है, जहां तीन लाख 76 हजार लोग प्रभावित हुये हैं।

रिपोर्ट में कहा गया है कि राज्य आपदा मोचन बल, जिला प्रशासन एवं स्थानीय लोगों ने अलग-अलग स्थानों पर पिछले 24 घंटे में 46 लोगों को बचाया है । एएसडीएमए ने कहा है कि प्रदेश में 1339 गांव अब भी जलमग्न हैं और करीब 82170 हेक्टेयर में खड़ी फसलें क्षतिग्रस्त हो गयी हैं। 

Web Title: Flood situation worsens in Bihar, more than 45 lakh people affected
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे