First batch of Sharang Cannon in Indian Army before March 31, know what is the antidote | शारंग तोप की पहली खेप 31 मार्च से पहले भारतीय सेना में, जानिए खासियत, क्या है मारक झमता
देश में बनी इस तोप की मारक क्षमता 39 किलोमीटर तक है।

Highlightsउन्होंने बताया कि इस तोप को विभिन्न मानकों पर परख लिया गया है।इसे शून्य डिग्री तापमान से 45 डिग्री तापमान तक मौसम की स्थितियों में परखा गया है।

देश में बनी 39 किलोमीटर तक मार करने वाली 18 उन्नत शारंग तोपों की पहली खेप इस वित्त वर्ष के अंत तक भारतीय सेना में शामिल होगी शारंग तोप के कार्यक्रम समन्वयक बिग्रेडियर जयंतकर ने मंगलवार को पीटीआई भाषा को बताया, ‘‘देश में 18 उन्नत शारंग तोप की पहली खेप 31 मार्च से पहले भारतीय सेना में शामिल होगी।”

उन्होंने बताया कि इस तोप को विभिन्न मानकों पर परख लिया गया है। इसे शून्य डिग्री तापमान से 45 डिग्री तापमान तक मौसम की स्थितियों में परखा गया है। उन्होंने बताया कि देश में बनी इस तोप की मारक क्षमता 39 किलोमीटर तक है।

इसके साथ ही तोप की बैरल गन को 133 मिलीमीटर से 155 मिलीमीटर में उन्नत किया गया है तथा इसकी मारक क्षमता में पहले से 12 किलोमीटर का इजाफा किया गया है। उन्होने बताया कि जबलपुर जिले में स्थित एक दशक पुरानी गन कैरेज फैक्ट्री (जीसीएफ) ने शारंग तोप को उन्नत करने के लिये वैश्विक स्तर पर करार हासिल किया था।

शारंग के उन्नयन कार्यक्रम में आयुध कारखानों, डीआरडीओ और भारतीय सेना के दल शामिल रहे हैं। 

Web Title: First batch of Sharang Cannon in Indian Army before March 31, know what is the antidote
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे