Fireworks can be burnt for two hours in Deepawali, Chhath, Guruparv and New Year | दीपावली, छठ, गुरूपर्व और नए वर्ष में दो घंटे पटाखे जलाये जा सकेंगे
दीपावली, छठ, गुरूपर्व और नए वर्ष में दो घंटे पटाखे जलाये जा सकेंगे

रायपुर, नौ नवंबर छत्तीसगढ़ में दीपावली, छठ गुरूपर्व तथा नए वर्ष पर दो घंटे ही पटाखे जलाये जा सकेंगे।

राज्य के वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया कि राष्ट्रीय हरित अधिकरण द्वारा पटाखों के उपयोग के संबंध में जारी निर्देशों का शत-प्रतिशत पालन सुनिश्चित करने के संबंध में राज्य शासन ने आदेश जारी किया है।

अधिकारियों ने बताया कि मुख्य सचिव आरपी मंडल द्वारा जारी निर्देश के तहत जिन शहरों में वायु गुणवत्ता का स्तर अच्छा या संतोषजनक अथवा मध्यम श्रेणी हो वहां केवल हरित पटाखे ही विक्रय तथा उपयोग किए जाएं। दीपावली, छठ, गुरूपर्व तथा नया वर्ष/क्रिसमस इत्यादि के अवसर पर पटाखे जलाने की अवधि दो घंटे ही निर्धारित की गई है।

उन्होंने बताया कि मंडल ने राज्य के सभी जिलाधिकारियों तथा पुलिस अधीक्षकों को इसका व्यापक प्रचार-प्रसार करने तथा कड़ाई से पालन सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया है।

अधिकारियों ने बताया कि निर्देश के तहत शहरों में हरित पटाखों के जलाये जाने की अवधि दीपावली पर्व पर रात्रि आठ बजे से रात्रि 10 बजे तक, छठ पूजा पर प्रातः छह बजे से प्रातः आठ बजे तक, गुरूपर्व पर रात्रि आठ बजे से रात्रि 10 बजे तक और नये वर्ष अथवा क्रिसमस पर रात्रि 11.55 बजे से 12.30 बजे तक निर्धारित की गई है।

अधिकारियों ने बताया कि छत्तीसगढ़ पर्यावरण संरक्षण मंडल ने केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के निर्देशानुसार राज्य के सभी सात क्षेत्रीय कार्यालय रायपुर, दुर्ग-भिलाई, बिलासपुर, कोरबा, रायगढ़, अम्बिकापुर तथा जगदलपुर में परिवेशीय वायु गुणवत्ता की नियमित निगरानी करने के लिए निर्देश दिया है। साथ ही संबंधित अधिकारियों को इसके परिणाम वेबसाइट में अपलोड करने का भी निर्देश दिया गया है।

उन्होंने बताया कि पटाखों का अधिक उपयोग होने से वायु प्रदूषण के स्तर में वृद्धि होती है। वायु प्रदूषण बढ़ने के कारण कोविड-19 वायरस के घातक रूप लेने की आशंका से इंकार नहीं किया जा सकता है। वायु प्रदूषण अधिक होने से कोविड-19 वायरस के रोगियों की संख्या भी बढ़ सकती है। इसे ध्यान में रखते हुए राष्ट्रीय हरित अधिकरण द्वारा जारी आदेश का राज्य में कड़ाई से पालन करने के निर्देश दिए गए हैं।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: Fireworks can be burnt for two hours in Deepawali, Chhath, Guruparv and New Year

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे